Thursday, July 18, 2024
Homeदेश-समाजमोटरसाइकल बनवाने गया था रोहित, सलाम-सद्दाम ने क्लच वॉयर से गला घोंट मार डाला:...

मोटरसाइकल बनवाने गया था रोहित, सलाम-सद्दाम ने क्लच वॉयर से गला घोंट मार डाला: गैराज में दफन कर ऊपर हैंडपंप लगाया

बाइक बनवाने रोहित आया तो सलाम और सद्दाम ने उससे 1-1 लाख रुपए उधार माँगे। उसने टाल दिया। नाराज होकर आरोपितों ने क्लच वॉयर से गला घोंटकर हत्या कर दी। गहरा गड्ढा खोद कर लाश को पॉलीथिन में लपेट कर दफना दिया।

मध्य प्रदेश के स​तना जिले में 9 दिन पूर्व मोटरसाइकिल सुधरवाने निकला ऑटो चालक युवक रोहित कुशवाहा रहस्यमयी तरीके से लापता हो गया था, जिसकी हत्या उसके साथियों ने ही पैसे के लालच में कर दी। पुलिस ने पूरे मामले का खुलासा करते हुए दो मोटर मैकेनिक, पप्पू उर्फ सलाम खान और उसके साथी सद्दाम खान को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने बताया कि ऑटो चालक से दोनों आरोपी कर्ज लेना चाहते थे, लेकिन वह युवक कर्ज देने में टाल मटोल करने लगा तो क्लच वायर से उसकी हत्या करके लाश को अपने गैराज में ही दफना दिया और उस पर हैंडपंप लगा दिया। 

ये मामला सतना जिला के नागौद थाना क्षेत्र के कुलगढ़ी का है। यहाँ का रहने वाला 19 वर्षीय रोहित कुशवाहा पिछले 9 दिनों से गायब था। पुत्र की सूचना नहीं मिलने पर पिता ने थाने में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस लगातार कई दिनों तक छानबीन करती रही, लेकिन उसे कोई सुराग हाथ नहीं लगा। थक-हार कर पुलिस ने साइबर सेल और सीसीटीवी फुटेज की मदद ली। जाँच में मिले अहम सुराग के आधार पर पुलिस ने पूछताछ शुरू की और दोनों ने चौंकाने वाला खुलासा किया।

पुलिस ने बताया कि मृतक रोहित कुशवाहा बीते 8 जून को बाइक की रिपेयरिंग कराने सतना आया था, लेकिन फिर घर नहीं लौटा। उसकी मोटरसाइकिल अगले दिन सीतपुरा में एक देसी शराब की दुकान के पास लावारिस हालत में मिली, जिस पर टी-शर्ट, रूमाल और गमछा टँगा हुआ था।

रोहित की दफन लाश को निकलवाती पुलिस (तस्वीर:आजतक)

पुलिस ने बताया कि आखिरी बार दोपहर 2 बजे पिता के फोन करने पर रोहित ने पप्पू मिस्त्री के पास बाइक बनवा कर घर आने की बात कही थी। ऐसे में मैकेनिक से भी पूछताछ की गई, पर वह अनजान बना रहा। 

ऐसे में एक तरफ मुखबिरों को सक्रिय किया गया तो दूसरी तरफ कुलगढ़ी से सतना और सितपुरा के बीच लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खँगाले जाने लगे। फुटेज के आधार पर यह स्पष्ट हो गया कि गायब होने के दिन लगभग साढ़े 11 बजे युवक अपनी गाड़ी से सिविल लाइन की तरफ आया था और शाम 4 बजे वापस जाता दिखाई दिया।

जब बारीकी से रिकॉर्डिंग देखी गई तो आते समय रोहित ने जो कपड़े पहने थे, वापसी में लोवर का रंग बदला हुआ पाया गया। साथ ही चलाने वाले का रंग और कद-काठी में भी अंतर मिला, चप्पल भी बदली हुई नजर आई। इससे पुलिस का संदेह गहरा गया। लिहाजा पप्पू मिस्त्री को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने सद्दाम के साथ मिलकर हत्या का जुर्म स्वीकार कर लिया।

लाश को निकलवाती पुलिस (तस्वीर: आजतक)

पप्पू उर्फ सलाम ने पुलिस को बताया कि मृतक रोहित ऑटो चलाता था, तभी जान-पहचान हुई थी। बातों-बातों में उसने बताया था कि उसके और उसके पिता के खाते में बड़ी रकम है। इतना सुनने के बाद आरोपियों ने बतौर कर्ज 1-1 लाख रुपए रोहित से माँग लिए, लेकिन रोहित टालता रहा। कुछ दिन बाद रोहित ने फोन उठाना भी बंद कर दिया, लेकिन दोनों ने किसी तरह फिर से संपर्क स्थापित कर लिया। 

जब 8 जून को वह बाइक बनवाने बाड़े में आया तो सलाम और सद्दाम ने उससे रुपयों को लेकर फिर बात की। इस बार भी उसने टाल दिया। इस बात से नाराज होकर आरोपियों ने क्लच वायर से गला घोंटकर हत्या कर दी और बाड़े में ही डेढ़ फीट चौड़ा और 3 फीट गहरा गड्ढा खोदकर लाश को पॉलीथिन में लपेट कर दफना दिया।

ऊपर से मिट्टी और डस्ट डालकर हैंडपंप का पुराना पाइप भी लगा दिया। लाश को दबाने से पूर्व मृतक की टीशर्ट, गमछा और रूमाल निकाल लिया। पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह ने बताया कि आरोपियों ने जुर्म स्वीकार कर लिया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

3 आतंकियों को घर में रखा, खाना-पानी दिया, Wi-Fi से पाकिस्तान करवाई बात: शौकत अली हुआ गिरफ्तार, हमलों के बाद OGW नेटवर्क पर डोडा...

शौकत अली पर आरोप है कि उसने सेना के जवानों पर हमला करने वाले आतंकियों को कुछ दिन अपने घर में रखा था और वाई-फाई भी दिया था।

नई नहीं है दुकानों पर नाम लिखने की व्यवस्था, मुजफ्फरनगर पुलिस ने काँवड़िया रूट पर मजहबी भेदभाव के दावों को किया खारिज: जारी की...

उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में पुलिस ने ताजी एडवायजरी जारी की है, जिसमें दुकानों और होटलों पर मालिकों के नाम लिखने को ऐच्छिक कर दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -