Tuesday, May 21, 2024
Homeदेश-समाजलॉरेंस बिश्नोई के साथियों में पूर्व सांसद धनंजय सिंह का भी नाम, NIA की...

लॉरेंस बिश्नोई के साथियों में पूर्व सांसद धनंजय सिंह का भी नाम, NIA की पूछताछ में खुलासा: राजस्थान से लेकर झारखंड तक के नामी गैंगस्टरों से मिलाया हाथ

लॉरेंस विश्नोई ने झारखंड की जेल में बंद एक अन्य बड़े गैंगस्टर अमन साहू से हाथ मिलाया है। हरियाणा में काला जठेड़ी, राजस्थान में रोहित गोदारा और दिल्ली में हाशिम बाबा से संबंध।

गुजरात के साबरमती जेल में बंद गैंगस्टर लॉरेंस विश्नोई का उत्तर प्रदेश के जौनपुर की जेल में बंद बाहुबली नेता और माफिया धनंजय सिंह से कनेक्शन सामने आया है। बताया गया है कि अपनी गैंग को मजबूत करने में जुटे लॉरेंस विश्नोई ने देश के कई हिस्सों में सक्रिय माफियाओं से हाथ मिलाया है। इनमें झारखंडम हरियाणा और पंजाब के भी गैंगस्टर शामिल हैं। आपराधिक वारदातों को अंजाम देने में ये सभी एक दूसरे की मदद करते हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) ने साबरमती जेल में बंद लॉरेंस विश्नोई से पूछताछ की है। पूछताछ में उसने अलग-अलग प्रदेशों के कई माफियाओं से अपने रिश्ते क़बूले। इसमें से उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के माफिया धनंजय सिंह भी शामिल हैं जो अपहरण और रंगदारी के एक मामले में 7 साल की सजा काट रहे हैं। धनंजय सिंह की पत्नी फिलहाल बहुजन समाज पार्टी के टिकट पर जौनपुर से चुनाव लड़ रहीं हैं। लॉरेंस ने जाँच एजेंसी को यह भी बताया कि वो अपने आपराधिक नेटवर्क को मजबूत कर रहा है। अपनी गैंग की मजबूती के लिए उसने अलग-अलग इलाकों के गैंगस्टरों से हाथ मिलाया है।

साल 2023 में NIA ने लॉरेंस विश्नोई के शूटरों को पनाह देने के आरोप में उत्तर प्रदेश के अयोध्या जिले में रहने वाले एक अन्य माफिया विकास सिंह को गिरफ्तार किया था। विकास सिंह जौनपुर के धनंजय सिंह के काफी करीबी माने जाते हैं। माना जा रहा है कि तब से ही धनंजय सिंह की भी लॉरेंस विश्नोई से रिश्तों की सुगबुगाहट राष्ट्रीय जाँच एजेंसी के जेहन में खटकने लगी थी। अब लॉरेंस के बयान से NIA की उस आशंका को बल मिल गया है। विकास सिंह फिलहाल दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद हैं।

बताते हैं कि माफिया धनंजय सिंह के अलावा लॉरेंस विश्नोई ने झारखंड की जेल में बंद एक अन्य बड़े गैंगस्टर से हाथ मिलाया है। इस गैंगस्टर का नाम अमन साहू है। अपनी गैंग को मजबूती देने के लिए लॉरेंस ने हरियाणा में काला जठेड़ी गिरोह से भी हाथ मिलाया है। राजस्थान में रोहित गोदारा गिरोह के अलावा लॉरेंस का दिल्ली में हाशिम बाबा और रोहित मोई गैंग से भी आपराधिक संबंध बताया जा रहा है। ये सभी मिल कर बड़ी हस्तियों से सुरक्षा के नाम पर पैसे की उगाही करते हैं।

बताया जा रहा है कि लॉरेंस और उसकी गैंग अलग-अलग प्रदेशों में फैले अपने इस नेटवर्क से न सिर्फ हथियारों बल्कि शूटरों की भी अदला-बदली करती रहती है। ये सामूहिक गिरोह अपने दुश्मनों को एक साथ निशाने पर लेते हैं। हमला करने वाले अपने शूटरों को ये लोग मिल कर पुलिस से सुरक्षित निकलवाने का भी प्रयास करते हैं। बताते चलें कि बॉलीवुड अभिनेता सलमान खान के घर के बाहर हुई फायरिंग में नाम आने के बाद लॉरेंस विश्नोई का नाम एक बार फिर से चर्चा में है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ से लड़ रही लालू की बेटी, वहाँ यूँ ही नहीं हुई हिंसा: रामचरितमानस को गाली और ‘ठाकुर का कुआँ’ से ही शुरू हो...

रामचरितमानस विवाद और 'ठाकुर का कुआँ' विवाद से उपजी जातीय घृणा ने लालू यादव की बेटी के क्षेत्र में जंगलराज की यादों को ताज़ा कर दिया है।

निजी प्रतिशोध के लिए हो रहा SC/ST एक्ट का इस्तेमाल: जानिए इलाहाबाद हाई कोर्ट को क्यों करनी पड़ी ये टिप्पणी, रद्द किया केस

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने एक मामले की सुनवाई करते हुए SC/ST Act के झूठे आरोपों पर चिंता जताई है और इसे कानून प्रक्रिया का दुरुपयोग माना है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -