Saturday, May 18, 2024
Homeदेश-समाजमहाराष्ट्र के भिवंडी में फिर 40 अवैध बांग्लादेशी गिरफ्तार, आरोपितों के पास से मोबाइल...

महाराष्ट्र के भिवंडी में फिर 40 अवैध बांग्लादेशी गिरफ्तार, आरोपितों के पास से मोबाइल व आधार-पैन-पासपोर्ट बरामद

इससे पहले 20 नवंबर को भी भिवंडी में नौ बांग्लादेशी नागरिकों को बिना किसी वैध दस्तावेज के देश में रहने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। इसका मुख्य आरोपित सलीम शेख पिछले 16 सालों से यहाँ अवैध रूप से रह रहा था।

महाराष्ट्र के ठाणे जिले के भिवंडी में पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए अवैध तरीके से रह रहे 40 बांग्लादेशी नागरिकों को गिरफ्तार किया है। देश में अवैध रूप से घुसे ये बांग्लादेशी दिहाड़ी मजदूरी का काम कर रहे थे। इन सभी लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने मंगलवार (30 नवंबर, 2021) को इसकी जानकारी दी।

भिवंडी के DCP योगेश चव्हाण ने संवाददाताओं को बताया, “ये लोग बांग्लादेश से गलत तरह से दस्तावेज बनवाकर यहाँ आए थे और भिवंडी शहर एवं इसके बाहरी इलाकों में विभिन्न कंपनियों में गलत दस्तावेजों पर काम कर रहे थे। इन सभी लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर उन्हें 2 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया है।” उन्होंने बताया कि गिरफ्तार बांग्लादेशियों में से एक के पास नकली पासपोर्ट है, जबकि लगभग 90% लोगों ने यहाँ का आधार कार्ड और पैन कार्ड बनवा लिया है। पुलिस ने इनके पास से 28 मोबाइल फोन भी जब्त किए गए हैं, जिनकी कीमत लगभग 94,000 रुपये है।

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, पुलिस ने शहर और उसके आसपास के कई इलाकों में छापेमारी कर गिरफ्तारियाँ कीं। उनमें से 20 लोगों को शांति नगर से, 10 लोगों को भिवंडी शहर से और 10 लोगों को नारपोली पुलिस थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया कि बांग्लादेशी नागरिकों के दस्तावेजों में मुंबई, भिवंडी और गुजरात के पते थे। पुलिस के मुताबिक, ये लोग बांग्लादेश में रिश्तेदारों और कथित तौर पर सीमा पार कराने में उनकी मदद करने वाले लोगों के साथ संपर्क करने के लिए IMO वीडियो ऐप का इस्तेमाल करते थे।

इससे पहले भिवंडी में नौ को गिरफ्तार किया गया था

बता दें कि इससे पहले 20 नवंबर को भी भिवंडी में नौ बांग्लादेशी नागरिकों को बिना किसी वैध दस्तावेज के देश में रहने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। सारावल्ली गाँव के एक औद्योगिक एस्टेट में कपड़ा मिल में काम करने वाले आरोपितों के खिलाफ भारतीय पासपोर्ट अधिनियम और विदेशी नागरिक अधिनियम के तहत अपराध दर्ज किया गया था। गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने सारावल्ली गाँव के औद्योगिक क्षेत्र में छापेमारी कर आरोपित को गिरफ्तार किया था। इसका मुख्य आरोपित सलीम शेख पिछले 16 सालों से यहाँ अवैध रूप से रह रहा था।

गिरफ्तार आरोपितों की पहचान सलीम अमीन शेख (30), रसल अबुल हसन शेख (27), मोहम्मद शाहिन शेख (24), मोहम्मद मासूम इस्लाम (21), तरुण त्रिपुरा (21), सुमन त्रिपुरा (25) इस्माइल खान (19), आजम खान (19) और मोहम्मद आमिर खान (26) के रूप में हुई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्वाति मालीवाल बन गई INDI गठबंधन में गले की फाँस? राहुल गाँधी की रैली के लिए केजरीवाल को नहीं भेजा गया न्योता, प्रियंका कह...

दिल्ली में आयोजित होने वाली राहुल गाँधी की रैली में शामिल होने के लिए AAP प्रमुख अरविंद केजरीवाल को न्योता नहीं दिया गया है।

‘अनुच्छेद 370 को हमने कब्रिस्तान में गाड़ दिया, इसे वापस नहीं लाया जा सकता’: PM मोदी बोले- अलगाववाद को खाद-पानी देने वाली कॉन्ग्रेस ने...

पीएम मोदी ने कहा, "आजादी के बाद गाँधी जी की सलाह पर अगर कॉन्ग्रेस को भंग कर दिया गया होता, तो आज भारत कम से कम पाँच दशक आगे होता।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -