Monday, April 22, 2024
Homeदेश-समाजसाढ़े तीन साल का बेटा, ऑनलाइन पढ़ाई नहीं करता था... माँ ने तकिए से...

साढ़े तीन साल का बेटा, ऑनलाइन पढ़ाई नहीं करता था… माँ ने तकिए से मुँह दबा कर मार डाला, फिर आत्महत्या भी कर ली

ऑनलाइन क्लास ठीक से अटेंड नहीं करने पर एक महिला ने अपने साढ़े तीन साल के बेटे की तकिए से मुँह दबाकर हत्या कर दी। महिला ने पत्र में कबूल किया कि उसने ही अपने बेटे की हत्या की है।

महाराष्ट्र के नासिक जिले में झकझोर देने वाली घटना सामने आई है। यहाँ ऑनलाइन क्लास ठीक से अटेंड नहीं करने पर एक महिला ने अपने साढ़े तीन साल के बेटे की तकिए से मुँह दबाकर हत्या कर दी। बच्चे की हत्या के बाद महिला को अपने अपराध का अफसोस हुआ तो उसने भी फाँसी लगाकर खुदकुशी कर ली।

रिपोर्ट के मुताबिक, मामला पाथर्डी फाटा इलाके में स्थित साईं सिद्धि अपार्टमेंट का है। पुलिस का कहना है कि महिला ने सोमवार (9 अगस्त 2021) को रात करीब 9:30 बजे आत्महत्या की थी। वो अपने नाबालिग बेटे के ऑनलाइन क्लास अटेंड नहीं करने से काफी क्रोधित थी। मरने से पहले उसने एक सुसाइड नोट भी लिखा था।

सुसाइड नोट में महिला ने लिखा था कि दोनों की मौत के लिए किसी को भी जिम्मेदार न ठहराएँ। महिला ने पत्र में कबूल किया कि उसने ही अपने बेटे की हत्या की है। जिस वक्त महिला ने वारदात को अंजाम दिया, उस दौरान उसके माता-पिता घर में ही मौजूद थे।

दिलचस्प बात यह है कि महिला और उसके बच्चे की लाश कमरे के अंदर थी और कमरे का दरवाजा बाहर से बंद था। वहीं बच्चे की नाक से खून निकल रहा था। मृतक महिला शिखा पाठक की के माँ-बाप ने उनके नाती की हत्या की बात कही है।

केस की जाँच कर रहे सहायक पुलिस आयुक्त सोहेल शेख का कहना है कि शिखा ने सोमवार की शाम को 5 बजे के आसपास तकिए से बेटे का मुँह दबाकर उसकी हत्या कर दी। इस मामले में हत्या व आत्महत्या का केस इंदिरानगर पुलिस स्टेशन में दर्ज हुआ है।

इससे पहले इसी महीने महाराष्ट्र के नवी मुंबई के एरोली इलाके में में एक 15 साल की नाबालिग लड़की ने पढ़ाई पर हुई बहस के बाद अपनी माँ का कराटे की बेल्ट से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी थी। पुलिस का कहना था कि लड़की ने शुरू में इसे आकस्मिक मौत का मामला बताया था। हालाँकि फॉरेंसिक जाँच में पता चला कि महिला की मौत गला दबाए जाने से हुई थी। इस मामले में महिला चाहती थी कि उसकी बेटी डॉक्टरी की पढ़ाई करे, लेकिन लड़की वो नहीं करना चाहती थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कॉन्ग्रेस छीन लेगी महिलाओं का मंगलसूत्र, लोगों की घर-गाड़ियाँ… बैंक में जो FD करते हैं, उस पर भी कब्जा कर लेंगे’: अलीगढ़ में बोले...

"किसकी कितनी सैलरी है, फिक्स्ड डिपॉजिट है, जमीन है, गाड़ियाँ हैं - इन सबकी जाँच होगी कॉन्ग्रेस के सर्वे के माध्यम से और इन सब पर वो कब्ज़ा कर के जनता की संपत्ति को छीन कर के बाँटने की बात की जा रही है।"

कोल्हापुर से कॉन्ग्रेस उम्मीदवार शाहू छत्रपति को AIMIM का समर्थन, आंबेडकर की नजदीकी के कारण उनके पोते ने सपोर्ट का किया ऐलान

AIMIM ने शिवाजी महाराज के वंशज और कोल्हापुर से कॉन्ग्रेस के उम्मीदवार शाहू छत्रपति को समर्थन दियाा है। वहाँ से पार्टी प्रत्याशी नहीं उतारेगी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe