Saturday, May 21, 2022
Homeदेश-समाज₹1034 करोड़ के जमीन घोटाले में शिवसेना MP संजय राउत की बेटियाँ ED के...

₹1034 करोड़ के जमीन घोटाले में शिवसेना MP संजय राउत की बेटियाँ ED के रडार पर: शराब कंपनी में बिजनेस पार्टनर के घर छापेमारी

गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड ने अधिकारियों के साथ मिलीभगत करके जमीन के फ्लोर स्पेस इंडेक्स में फेरबदल किया था। इस कंपनी को सिद्धार्थनगर इलाके में एक चॉल को विकसित करने का काम सौंपा गया था, लेकिन स्थानीय निवासियों को बिना फ्लैट दिए ही उनकी जमीन बेच दी गई। 

शिवसेना सांसद संजय राउत (Shiv Sena MP Sanjay Raut) का परिवार जमीन घोटाले के मामले में केंद्रीय एजेंसियों की रडार पर आ गया है। लगभग 1,034 करोड़ रुपए के जमीन घोटाले के मामले में सुजीत पाटकर (Sujit Patkar) के परिसरों पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) की छापेमारी के बाद संजय राउत की बेटियाँ ईडी के जाँच के दायरे में आ गई हैं। सुजीत पाटकर राउत की बेटियों के व्यवसायिक साझेदार हैं।

सुजीत पाटकर संजय राउत की दो बेटियों- पूर्वशी और विधिता के साथ उनकी वाइन कंपनी मैगपाई डीएफएस प्राइवेट लिमिटेड (Magpie DFS Pvt. Ltd) में पिछले 16 वर्षों से साझेदार हैं। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पाटकर की पत्नी और संजय राउत की पत्नी ने संयुक्त रूप से अलीबाग में जमीन खरीदी है।

इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय ने प्रवीण राउत नाम के एक रियल स्टेट कारोबारी को बुधवार (2 फरवरी 2022) को गिरफ्तार किया था। पुलिस के अनुसार, वह पूछताछ में पुलिस का सहयोग नहीं कर रहा था। इसलिए उसे गिरफ्तार कर लिया गया। गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड नामक कंपनी के पूर्व निदेशक प्रवीण राउत को संजय राउत का करीबी बताया जाता है। मीडिया रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि संजय राउत की पत्नी के खाते में प्रवीण राउत की पत्नी ने पैसे भी हस्तांतरित किए थे। ED ने प्रवीण की 72 करोड़ रुपए की संपत्ति पहले ही कुर्क कर चुकी है।

कहा जा रहा है कि हाउसिंग डिवेलपमेंट ऐंड इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (Housing Development and Infrastructure Limited) की उप-कंपनी गुरु आशीष कंस्ट्रक्शन प्राइवेट लिमिटेड ने अधिकारियों के साथ मिलीभगत करके जमीन के फ्लोर स्पेस इंडेक्स में फेरबदल किया था। इस कंपनी को सिद्धार्थनगर इलाके में एक चॉल को विकसित करने का काम सौंपा गया था, लेकिन स्थानीय निवासियों को बिना फ्लैट दिए ही उनकी जमीन बेच दी गई। 

वहीं, हाउसिंग डिवेलपमेंट ऐंड इन्फ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड के प्रमोटर राकेश वधावन और उनके बेटे सारंग वधावन भी जाँच के घेरे में हैं। दोनों गिरफ्तार पिता-पुत्र पर पंजाब ऐंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक (Punjab and Maharashtra Cooperative Bank) के 6,118 करोड़ रुपये डुबाने सहित कई मामलों में जाँच चल रही है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

उद्धव का मंत्री, पवार का खास: अदालत ने भी माना ‘डी गैंग’ से नवाब मलिक के संबंध, ED ने चार्जशीट में बताया- मुंबई ब्लास्ट...

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने गंभीर आरोपों में गिरफ्तारी के बावजूद अपने जिस मंत्री नवाब मलिक को हटाने से इनकार किया था, उनके डी गैंग से लिंक होने की बात अदालत ने भी मानी है।

अब कहाँ गायब हो गया ज्ञानवापी ढाँचे में दिखा शिवलिंग? पूर्व महंत ने तस्वीरों से खोले राज़, हनुमान मूर्ति और कमल के फूल भी...

काशी विश्वनाथ मंदिर के पूर्व महंत डॉ कुलपति तिवारी ने ज्ञानवापी विवादित ढाँचे और शिवलिंग को लेकर पुरानी तस्वीरें दिखाते हुए बड़ा दावा किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
187,690FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe