Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजअमित गुर्जर बन कर शादीशुदा दिलशाद ने प्रिया को फाँसा, राज खुलने पर 2...

अमित गुर्जर बन कर शादीशुदा दिलशाद ने प्रिया को फाँसा, राज खुलने पर 2 साल की बेटी सहित कर दी हत्या

प्रिया की दोस्ती 2013 में अमित गुर्जर नामक युवक से हुई थी। ये दोस्ती प्यार में बदल गई। अमित के बुलावे पर प्रिया अपनी 2 साल की बेटी को लेकर मेरठ भी चली गई। इसके 5 साल बाद प्रिया को कुछ ऐसा पता चला, जिससे उसकी पूरी दुनिया ही उजड़ गई। दरअसल, अमित गुर्जर के छद्म नाम से प्रिया को फाँसने वाले का असली नाम दिलशाद था।

उत्तर प्रदेश के मेरठ से एक मामला सामने आया है, जहाँ दिलशाद नामक व्यक्ति ने प्रिया नाम की महिला और उसकी मासूम बेटी की हत्या कर दी। साथ ही दोनों ही लाश घर में ही दबा दी। पुलिस ने लाशों को बरामद कर दिलशाद को गिरफ्तार कर लिया है। प्रिया गाजियाबाद की रहने वाली है। 12 साल पहले उसकी शादी मोदीनगर के खंजरपुर निवासी राजीव से हुई थी। लेकिन, 2 साल के बाद ही दोनों में तलाक हो गया।

‘हिंदुस्तान’ में प्रकाशित सचिन गुप्ता की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट के अनुसार, प्रिया की दोस्ती 2013 में अमित गुर्जर नामक युवक से हुई थी। ये दोस्ती प्यार में बदल गई। अमित के बुलावे पर प्रिया अपनी 2 साल की बेटी को लेकर मेरठ भी चली गई। इसके 5 साल बाद प्रिया को कुछ ऐसा पता चला, जिससे उसकी पूरी दुनिया ही उजड़ गई। दरअसल, अमित गुर्जर के छद्म नाम से प्रिया को फाँसने वाले का असली नाम दिलशाद था।

अपने प्रेमी के बारे में हुए इस खुलासे से प्रिया सन्न रह गई। इससे पहले ख़बर आई थी कि प्रिया और उसकी मासूम बेटी लापता है। पुलिस ने दिलशाद को कस्टडी में लेकर पूछताछ शुरू की तो वो मामले को इधर-उधर घुमाने में लगा रहा लेकिन पुलिस को पहले ही आशंका थी कि कोई अनहोनी हो चुकी है। केस के खुलासे के लिए सीओ के नेतृत्व में पुलिस की कई टीमें लगी हुई थीं। प्रिया 2010 से ही मोदीनगर की चंचल चौधरी के साथ रहती थी।

वहीं उसने ब्यूटी पार्लर खोल रखा था। फेसबुक पर ही उसकी अमित गुर्जर नामक व्यक्ति से दोस्ती हुई। अमित ने शादी का झाँसा देकर प्रिया को मेरठ बुलाया था। यहाँ दोनों कांशीराम आवासीय कॉलोनी में रहते थे। यहाँ आने के बावजूद उसकी चंचल से बात होती रहती थी, इसीलिए चंचल को उसकी कहानी के बारे में सब कुछ पता था। दिलशाद परतापुर स्थित भूड़ बराल का निवासी है। वो प्रिया को जानबूझ कर अपने घर नहीं ले गया था।

2 साल पहले प्रिया को अमित की सच्चाई के बारे में पता चला था और उसके बाद दोनों में जम कर विवाद हुआ था। एक तो उसने अपनी मुस्लिम पहचान छिपाई थी और ऊपर से वो शादीशुदा भी था। प्रिया ने 2018 में खरखौदा थाने में बलात्कार का मुकदमा भी दर्ज कराया था। मेरठ एसएसपी अजय साहनी ने कहा कि इस मामले में दोनों के बीच समझौता हो गया था। दिलशाद का आरोप है कि युवती मुक़दमे के बाद से उससे रुपए वसूल रही थी।

चंचल ने इस मामले में 15 अप्रैल को परतापुर थाने में तहरीर दी थी। आरोप लगाया गया है कि चंचल से पुलिस ने समझौतानामा लिखवा दिया लेकिन बजरंग दल और विहिप के प्रयासों के बाद एसएसपी को इस मामले से अवगत कराया गया। हिंदूवादी कार्यकर्ताओं ने इसे ‘लव जिहाद’ का मामला बताया। चंचल ने बताया कि 28 मार्च को उन दोनों के बीच आखिरी बातचीत हुई थी। जहाँ चंचल ने दिलशाद को फोन किया तो उसने बताया कि प्रिया ख़ुद कहीं चली गई है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

धर्मांतरण कराने आए ईसाई समूह को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, छत्तीसगढ़ की गवर्नर का CM को पत्र- जबरन धर्म परिवर्तन पर हो एक्शन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में ग्रामीणों ने ईसाई समुदाय के 45 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया। यह समूह देर रात धर्मांतरण कराने के इरादे से पहुँचा था।

सूरत में मंदिरों-घर की छत पर लाउडस्पीकर, सुबह-शाम हनुमान चालीसा; शनिवार को सत्संग भी: धर्म के लिए हिंदू हुए लामबंद

सूरत में आठ महीने पहले लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा की हुई शुरुआत ने कैसे हिंदुओं को जोड़ा, इसका संदेश कितना गहरा हुआ, पढ़िए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,980FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe