Saturday, July 2, 2022
Homeदेश-समाजजिस कोर्ट में मुंशी था मोहम्मद वलीम, उसी को उड़ाने की दी धमकी: अयोध्या...

जिस कोर्ट में मुंशी था मोहम्मद वलीम, उसी को उड़ाने की दी धमकी: अयोध्या पुलिस ने दबोचा, ‘राशिद अली’ बन कर लिखी थी चिट्ठी

आरोपित वलीम की गिरफ्तारी 16 जून को कोर्ट कैम्पस से ही शाम 6 बजे की गई। पुलिस के अनुसार, "राशिद के नाम से कोर्ट परिसर को उड़ाने की चिट्ठी मिलते ही FIR दर्ज कर ली गई थी।"

UP के अयोध्या जिले में कोर्ट को बम से उड़ाने की धमकी देने के आरोपित मोहम्मद वलीम को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। यह धमकी एक चिट्ठी भेज कर दी गई थी जिसमें धमकाने वाले व्यक्ति का नाम राशिद लिखा था। चिट्ठी की जाँच करते हुए पुलिस आरोपित वलीम तक पहुँच गई। आरोपित वलीम उसी कोर्ट में मुंशी का काम करता है। इस कार्रवाई की जानकारी अयोध्या पुलिस ने 17 जून, 2022 (शुक्रवार) को दी।

अयोध्या के SSP शैलेश कुमार ने बताया, “पत्र मिलने के बाद पुलिस ने राशिद की पहचान कर के पूछताछ की। उसकी बातों से लगा कि उसे कोई फँसाना चाह रहा है। जब हम मामले की तह तक गए तो इस पूरे मामले में मोहम्मद वलीम शामिल पाया गया। उसको हिरासत में ले कर पूछताछ की गई तो उसने चिट्ठी भेजना स्वीकार किया। उसको जेल भेजा जा रहा।”

अयोध्या पुलिस के मुताबिक, आरोपित वलीम की गिरफ्तारी 16 जून को कोर्ट कैम्पस से ही शाम 6 बजे की गई। पुलिस के अनुसार, “राशिद के नाम से कोर्ट परिसर को उड़ाने की चिट्ठी मिलते ही FIR दर्ज कर ली गई थी। चिट्ठी पर राशिद अली का नाम लिखा था जो सोहावल तहसील के गाँव दोस्तपुर का रहने वाला है। राशिद और वलीम में पैसे के लेन-देन का विवाद था। इसी के चलते वलीम ने राशिद के नाम से चिट्ठी पोस्ट कर दी। चिट्ठी कचहरी के ही पोस्ट ऑफिस से भेजी गई थी।”

पुलिस ने आगे बताया, “आरोपित मोहम्मद वलीम कोर्ट में मुंशी है। उसकी उम्र लगभग 38 साल है। मूल रूप से गाँव जगनपुर थाना रौनाही का रहने वाला वलीम कचेहरी के शेड नंबर 6 के पास काम करता था। धमकी की चिट्ठी उसने अपने ही हाथ से लिखी। वलीम पर धारा 506 IPC के साथ 7 क्रिमिनल लॉ अमेंडमेंट के तहत कार्रवाई की गई है।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नूपुर शर्मा पर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणी गैर-जिम्मेदाराना’: रिटायर्ड जज ने सुनाई खरी-खरी, कहा – यही करना है तो नेता बन जाएँ, जज क्यों...

दिल्ली हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज एसएन ढींगरा ने मीडिया में आकर बताया है कि वो सुप्रीम कोर्ट के जजों की टिप्पणी पर क्या सोचते हैं।

‘क्या किसी हिन्दू ने शिव जी के नाम पर हत्या की?’: उदयपुर घटना की निंदा करने पर अभिनेत्री को गला काटने की धमकी, कहा...

टीवी अभिनेत्री निहारिका तिवारी ने उदयपुर में कन्हैया लाल तेली की जघन्य हत्या की निंदा क्या की, उन्हें इस्लामी कट्टरपंथी गला काटने की धमकी दे रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,399FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe