Tuesday, July 16, 2024
Homeदेश-समाज47 अजगर साँप और 2 दुर्लभ छिपकलियाँ; त्रिची एयरपोर्ट पर मोहम्मद मोइद्दीन गिरफ्तार... मलेशिया...

47 अजगर साँप और 2 दुर्लभ छिपकलियाँ; त्रिची एयरपोर्ट पर मोहम्मद मोइद्दीन गिरफ्तार… मलेशिया से आए जीवों को वापस भेजने की तैयारी

तलाशी के दौरान बैग से 2 छिपकलियाँ भी बरामद हुईं। इन्हें भी प्लास्टिक के डिब्बे में भर कर रखा गया था। दोनों छिपकलियाँ अलग-अलग प्रजाति की बताई जा रहीं हैं। आरोपित से इन जीवों को लाने के बारे में सवाल किया गया तो वो कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया।

कस्टम विभाग ने रविवार (30 जुलाई 2023) को तमिलनाडु के त्रिची इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर 47 साँपों और 2 छिपकलियों की तस्करी करके ला रहे एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपित का नाम मोहम्मद मोइद्दीन है। वह इन जीवों को अपने ट्राली बैग में भरकर मलेशिया के क़्वालालामपुर से आया था। इन जीवों को जब्त करके वापस मलेशिया भेजने की तैयारी की जा रही है। आरोपित को हिरासत में ले कर पूछताछ शुरू कर दी गई है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पकड़ा गया आरोपित मोहम्मद मोइद्दीन मूल रूप से चेन्नई का रहने वाला है। वह बाटिक एयरलाइन्स से रविवार को त्रिची एयरपोर्ट पर उतरा था और हवाई अड्डे से बाहर जा रहा था। उसके हाथों में ट्रॉली बैग था। इस दौरान एयरपोर्ट पर मौजूद कस्टम विभाग के अधिकारियों को उस पर शक हुआ।

अधिकारियों ने मोइद्दीन को बुलाकर उसकी और उसके बैग की तलाशी ली। तलाशी के दौरान बैग के अंदर प्लास्टिक के डिब्बों में रखे गए 47 साँप बरामद हुए। ये साँप अजगर प्रजाति के हैं। कस्टम विभाग के अधिकारियों द्वारा बरामद किए गए इन सरीसृपों के फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।

तलाशी के दौरान बैग से 2 छिपकलियाँ भी बरामद हुईं। इन्हें भी प्लास्टिक के डिब्बे में भर कर रखा गया था। दोनों छिपकलियाँ अलग-अलग प्रजाति की बताई जा रहीं हैं। आरोपित से इन जीवों को लाने के बारे में सवाल किया गया तो वो कोई संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया। आखिरकार मोइद्दीन को हिरासत में ले लिया गया।

हिरासत में आरोपित से इन जीव-जंतुओं को लाने के मकसद के बारे में सवाल किए जा रहे हैं। फिलहाल बरामद 47 साँप और 2 छिपकलियाँ जीवित बताई जा रही हैं। इनकी निगरानी संबंधित अधिकारी कर रहे हैं। प्रथम दृष्टया इसे जंतुओं की तस्करी माना जा रहा है। इन्हे वापस मलेशिया भेजने की तैयारी की जा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिस भोजशाला को मुस्लिम कहते हैं कमाल मौलाना मस्जिद, वह मंदिर ही है: ASI ने हाई कोर्ट को बताया- मंदिरों के हिस्से पर बने...

मध्य प्रदेश हाई कोर्ट को सौंपी गई रिपोर्ट में ASI ने कहा है कि भोजशाला का वर्तमान परिसर यहाँ पहले मौजूद मंदिर के अवशेषों से बनाया गया था।

भारतवंशी पत्नी, हिंदू पंडित ने करवाई शादी: कौन हैं JD वेंस जिन्हें डोनाल्ड ट्रम्प ने चुना अपना उपराष्ट्रपति उम्मीदवार, हमले के बाद पूर्व अमेरिकी...

पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को रिपब्लिकन पार्टी के नेशनल कंवेंशन में राष्ट्रपति और सीनेटर JD वेंस को उपराष्ट्रपति उम्मीदवार चुना है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -