Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाजहॉस्पिटल से भड़काऊ वीडियो बना भेज रहे थे मुल्तानी परिवार के 4 कोरोना+, इंदौर...

हॉस्पिटल से भड़काऊ वीडियो बना भेज रहे थे मुल्तानी परिवार के 4 कोरोना+, इंदौर में अब तक 128 मामले

अब लगातार कई केस सामने आने के बाद लोग ख़ुद घरों में बंद रह रहे हैं। तंजीम नगर और अशफाक नगर जाने वाली गलियों को भी सील कर दिया गया है। इलाक़े के कुछ लोगों ने कहा कि वो लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं।

मध्य प्रदेश के इंदौर में शनिवार (अप्रैल 4, 2020) को कोरोना वायरस के 16 नए मामले सामने आए। इसके साथ ही वहाँ कोरोना पॉजिटिव मरीजों की संख्या 128 हो गई है। इनमें से सबसे ज्यादा 10 मरीज टाटपट्टी बाखल क्षेत्र से मिले हैं। ये वही इलाक़ा है जहाँ 1 अप्रैल को स्वास्थ्यकर्मियों पर पथराव हुआ था और उन्हें खदेड़ दिया गया था। मरने वालों में 42 वर्षीय व्यक्ति से लेकर 80 साल की बुजुर्ग महिला तक शामिल हैं। कहा जा रहा है कि महिला की मौत की जानकारी अधिकारियों ने देर से बताई।

इंदौर में डॉक्टर अभी भी डरे हुए हैं। एक युवती किसी से लिफ्ट लेकर सीधा अपने घर चली गई, जबकि वो कोरोना पॉजिटिव होने के कारण अस्पताल में भर्ती थी। इसके बाद बाद पुलिसकर्मियों को उसे लाने के लिए उसके घर भेजा गया। उसे लिफ्ट देने वाले की भी तलाश की जा रही है।

चार ऐसे लोगों पर भी केस किया गया है जो आइसोलेशन सेंटर से ही भड़काऊ विडियो बनाकर भेज रहे थे। सद्दाम मुल्तानी, अब्दुल गफ्फार मुल्तानी, मोहम्मद शाकिब और आफताब मुल्तानी के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया गया। ये भी खजराना के निवासी हैं। इन सभी ने आइसोलेशन सेंटर में न सिर्फ़ सोशल डिस्टेंसिंग की अवहेलना की, बल्कि उसके बारे में भ्रामक जानकारियाँ देकर ऑनलाइन लोगों को भड़काया।

इन सभी कोरोना मरीजों को स्वस्थ होते ही गिरफ़्तार किया जाएगा। ये सभी एक ही परिवार के हैं। खजराना वही इलाक़ा है, जहाँ एक ही परिवार के 13 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इंदौर में कोरोना ने सबसे ज्यादा तबाही यहीं मचाई है। अब लगातार कई केस सामने आने के बाद लोग ख़ुद घरों में बंद रह रहे हैं। तंजीम नगर और अशफाक नगर जाने वाली गलियों को भी सील कर दिया गया है। इलाक़े के समुदाय विशेष के कुछ लोगों ने कहा कि वो लॉकडाउन का पालन कर रहे हैं। हालाँकि, कुछ दिनों पहले तक पुलिस को इन्हें समझाने में काफ़ी मशक्कत करनी पड़ी थी, तब भी बात नहीं बन पा रही थी।

‘दैनिक भास्कर’ के इंदौर संस्करण में प्रकाशित ख़बर

इससे पहले शुक्रवार की देर रात पुलिस की एक टीम ने टाटपट्‌टी बाखल में जाकर विडियो के आधार पर पथराव करने वाले आरोपितों को चिन्हित किया और उनका इलाके में जुलूस भी निकाला था। यहाँ पर 17 और 55 साल की दो महिलाएँ कोरोना पॉजिटिव भी मिली हैं। सीएसपी डीके तिवारी ने बताया कि गुरुवार को हुई गिरफ्तारी के अलावा 6 और आरोपितों को उनकी टीम ने पकड़ा था। इनमें मोहम्मद नावेद, मोहम्मद साजिद, मोहम्मद युसूफ, मोहम्मद सावेज, मोहम्मद अनस और नफीस का नाम शामिल है। ये भी टाटपट्‌टी बाखल के निवासी हैं। 

इंदौर में पुलिस और प्रशासन वो हर कुछ कर रहा है, जिससे लोग घरों से न निकलें। लोगों के दरवाजे तक राशन सामग्री पहुँचाई जा रही है। किराना व्यापारियों से नगर निगम बात कर रहा है, ताकि उन्हें होलसेल माल लेने में कोई परेशानी न हो। बैंकों में सुचारू रूप से काम होता रहे और सोशल डिस्टेंसिंग भी बना रहे, इसके लिए प्रयास किए जा रहे हैं। किराना व्यापारियों को कर्फ्यू पास प्रदान किए गए हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अगर बायोलॉजिकल पुरुषों को महिला खेलों में खेलने पर कुछ कहा तो ब्लॉक कर देंगे: BBC ने लोगों को दी खुलेआम धमकी

बीबीसी के आर्टिकल के बाद लोग सवाल उठाने लगे हैं कि जब लॉरेल पैदा आदमी के तौर पर हुए और बाद में महिला बने, तो यह बराबरी का मुकाबला कैसे हुआ।

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,042FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe