Friday, May 24, 2024
Homeदेश-समाजमुंबई से लापता 23 साल की 'जूही' लोकल 'गुंडे' रहीम शेख के साथ भागी...

मुंबई से लापता 23 साल की ‘जूही’ लोकल ‘गुंडे’ रहीम शेख के साथ भागी थी, UP में पुलिस ने किया ट्रेस

"हम चिंतित हैं क्योंकि पुलिस 5 दिनों से उसका पता लगाने में सक्षम नहीं है। हम नहीं जानते कि हमारी लड़की सुरक्षित है या नहीं। हमने उन्हें जूही के फोन का IMEI नंबर भी दिया है, लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया है।"

नोट: स्टोरी नीचे अपडेट की गई है

मुंबई की 23 साल की एक लड़की लापता है। नाम है जूही (बदला हुआ नाम) और 18 नवंबर 2020 से उनके घर वालों का उनसे संपर्क नहीं हो पाया है। परिवार का आरोप है कि उनका अपहरण एक लोकल गुंडे रहीम शेख ने किया है।

चेतन शेट्टी लापता लड़की जूही के एक रिश्तेदार हैं। ऑपइंडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि पुलिस दावा कर रही है कि लड़की सही सलामत है। लेकिन उन्होंने सवाल पूछने के अंदाज में कहा कि अगर जूही ठीक-ठाक हैं तो वे उनसे बात क्यों नहीं कर पा रहे। उनके अनुसार पुलिस ने अभी तक रहीम शेख का भी पता नहीं लगाया है।

लापता लड़की के रिश्तेदारों के अनुसार, 18 नवंबर 2020 को वह अपना लैपटॉप बैग और अन्य चीजें लेकर ऑफिस के लिए निकली थीं लेकिन वापस नहीं लौटीं। वे 18 तारीख को ही पुलिस में शिकायत दर्ज करने गए लेकिन उन्हें वापस भेज दिया गया।

19 तारीख को वे फिर से पुलिस स्टेशन गए, तब जाकर पुलिसवालों ने कथित तौर पर शिकायत दर्ज की। चेतन शेट्टी की मानें तो FIR अभी तक दर्ज नहीं की गई है। उनका कहना है कि पुलिस ने आरोपित लड़के के परिवार से बात भी की है लेकिन लापता जूही से अभी तक उन लोगों को बात नहीं करवाई गई है।

चेतन शेट्टी ने बताया, “लड़का (रहीम शेख) आपराधिक पृष्ठभूमि का है। पुलिस को इसकी जानकारी है। हमेशा उसके खिलाफ कोई ना कोई आपराधिक मामला चलता ही रहता है।”

लापता लड़की के परिवार का कहना है कि जूही और रहीम एक-दूसरे को जानते थे क्योंकि वे एक ही चॉल में पास में रहते थे और आपस में बातचीत करते थे। हालाँकि उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि वह हमेशा ही परिवार के सदस्यों को धमकी और उनसे साथ दुर्व्यवहार करता था।

लापता जूही के परिवार का कहना है:

“हम अब चिंतित हैं क्योंकि पुलिस 5 दिनों से उसका पता लगाने में सक्षम नहीं है। हम नहीं जानते कि हमारी लड़की सुरक्षित है या नहीं।”

परिवार का आरोप है कि पुलिस विक्रोली में कहीं न कहीं रहीम का पता लगाने में सफल रही है, लेकिन उसका पता लगाने और उसे वापस लाने का प्रयास नहीं किया जा रहा। उन्होंने पुलिस पर आरोप लगाया, “हमने उन्हें जूही के फोन का IMEI नंबर भी दिया है, लेकिन उन्होंने कुछ नहीं किया है।”

अपडेट: रिपोर्ट के पब्लिश किए जाने के बाद लापता लड़की को उत्तर प्रदेश में खोज निकाला गया है। लड़की के परिवार वालों का कहना है कि अगर वो स्वेच्छा से घर वापस आती है तो उसका स्वागत है वरना सारे रिश्ते तोड़ लिए जाएँगे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Nirwa Mehta
Nirwa Mehtahttps://medium.com/@nirwamehta
Politically incorrect. Author, Flawed But Fabulous.

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बाबरी का पक्षकार राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा समारोह में आ गया, लेकिन कॉन्ग्रेस ने बहिष्कार किया’: बोले PM मोदी – इन्होंने भारतीयों पर मढ़ा...

प्रधानमंत्री ने स्पष्ट ऐलान किया कि अब यह देश न आँख झुकाकर बात करेगा और न ही आँख उठाकर बात करेगा, यह देश अब आँख मिलाकर बात करेगा।

कॉन्ग्रेस नेता को ED से राहत, खालिस्तानियों को जमानत… जानिए कौन हैं हिन्दुओं पर हमले के 18 इस्लामी आरोपितों को छोड़ने वाले HC जज...

नवंबर 2023 में जब राजस्थान में विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मी चरम पर थी, जब जस्टिस फरजंद अली ने कॉन्ग्रेस उम्मीदवार मेवाराम जैन को ED से राहत दी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -