Tuesday, September 27, 2022
Homeदेश-समाज'माँ' की दुकानदारी, शायरी से कट्टरपंथियों को उकसाने वाले मुनव्वर के भीतर की घृणा...

‘माँ’ की दुकानदारी, शायरी से कट्टरपंथियों को उकसाने वाले मुनव्वर के भीतर की घृणा कुछ ऐसी है

मुनव्वर राना ने महिलाओं के साथ आपत्तिजनक शब्द का प्रयोग करते हुए कहा- "मैं आप जैसी हज़ारों लड़कियों को पढ़ाता हूँ।" हिमानी ने सवाल उठाया कि ख़ुद की बेटियों पर एफआईआर के लिए सरकार को कोसने वाले मुनव्वर एक दूसरी लड़की के साथ इस तरह की भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं, जो ग़लत है।

‘माँ’ की शायरी करने वाले मुनव्वर राना वास्तविक रूप में महिलाओं की कितनी इज्जत करते हैं, ये उनके ताज़ा व्यवहार से पता चलता है। शायर मुनव्वर राना ने ‘न्यूज़ नेशन’ पर बात करते हुए सरकार से पूछा कि आप कितने मुनव्वर राना को अंदर करेंगे, कई और मुनव्वर राना पैदा हो जाएँगे। आश्चर्य की बात तो ये है कि मुनव्वर राना कई सालों से मोदी सरकार के ख़िलाफ़ मुखर रहे हैं। मुनव्वर राना ख़ुद को फ़क़ीर बताते हैं और कहते हैं कि सरकार उनकी बेटियों को जेल भेजना चाहती है।

क्या क़ानून तोड़ने की इजाजत किसी को दी जा सकती है? इस सवाल पर मुनव्वर राना ने कहा कि जब सुप्रीम कोर्ट ने मुस्लिमों के ख़िलाफ़ फैसला दिया तो समुदाय विशेष वाले चुप रहे और बगावत नहीं की। मुनव्वर राना दरअसल एहसान जताना चाहते हैं कि देखो राम मंदिर के पक्ष में फ़ैसला आया, फिर भी हमने उत्पात नहीं मचाया। एंकर ने जब मुनव्वर राना से सवाल पूछा तो उन्होंने उसे भाजपा का सदस्य बता दिया और कहा कि ये बुरी बात है। न्यूज़ एंकर हिमानी नैथानी को मुनव्वर राना ने लगातार अपमानित किया।

मुनव्वर ने एंकर की सवालों का जवाब देते हुए आरोप लगाया कि हिमानी पढ़ी-लिखी नहीं हैं और उन्हें चीखने के लिए रुपए मिलते हैं। मुनव्वर राना ने महिलाओं के साथ आपत्तिजनक शब्द का प्रयोग करते हुए कहा- “मैं आप जैसी हज़ारों लड़कियों को पढ़ाता हूँ।” हिमानी ने सवाल उठाया कि ख़ुद की बेटियों पर एफआईआर के लिए सरकार को कोसने वाले मुनव्वर एक दूसरी लड़की के साथ इस तरह की भाषा का इस्तेमाल कर रहे हैं, जो ग़लत है। मुनव्वर राना बार-बार पूछने पर भी ये नहीं बता पाए कि ‘तुम्हारे जैसी लड़की’ से उनका क्या अभिप्राय था और उन्होंने उन्हें ‘भाजपा का एजेंट’ क्यों कहा?

मुनव्वर राना ने हिमानी की शिक्षा और समझ पर सवाल उठाते हुए कहा कि वो किसी सीनियर को उनके साथ बहस के लिए भेजें क्योंकि वो उनके साथ बहस नहीं करेंगे। बाद में मुनव्वर राना ने एंकर को ही ‘बेहूदगी’ करने वाली बता दिया और कहा कि उनका चैनल जो करना चाहता है, कर ले। बाद में मुनव्वर राना डिबेट से भाग गए और फिर ‘दलाल’ शब्द का प्रयोग किया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘भारत जोड़ो यात्रा’ छोड़ कर दिल्ली पहुँचे कॉन्ग्रेस के महासचिव, कमलनाथ-प्रियंका से भी मिलीं सोनिया गाँधी: राजस्थान के बागी बोले- सड़कों पर बहा सकते...

राजस्थान में जारी सियासी घमासान के बीच कॉन्ग्रेस हाईकमान के सामने मुश्किल खड़ी हो गई है। वेणुगोपाल और कमलनाथ दिल्ली पहुँच गए हैं।

अब इटली में भी इस्लामी कट्टरपंथियों की खैर नहीं, वहाँ बन गई राष्ट्रवादी सरकार: देश को मिली पहली महिला PM, तानाशाह मुसोलिनी की हैं...

इटली के पूर्व तानाशाह बेनिटो मुसोलिनी की कभी समर्थक रहीं जॉर्जिया मेलोनी इटली की पहली प्रधानमंत्री बनने जा रही हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,416FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe