Tuesday, April 16, 2024
Homeदेश-समाजअश्लील गाना बजाने से रोका तो दलित बस्ती पर लाठी-डंडे और धारदार हथियारों से...

अश्लील गाना बजाने से रोका तो दलित बस्ती पर लाठी-डंडे और धारदार हथियारों से मुस्लिमों ने किया हमला

गाजीपुर के गहमर थाना क्षेत्र के गोड़सरा गॉंव में दलितों की बस्ती पर हमला किया गया। हमला अश्लील गाना बजाने से मना किए जाने पर किया गया। तनाव को देखते हुए गाँव में पीएसी तैनात कर दी गई है।

हाल ही में उत्तर प्रदेश के जौनपुर और आजमगढ़ में दलितों को मुस्लिमों ने निशाना बनाया था। अब ऐसी ही घटना प्रदेश के गाजीपुर और सीतापुर जिले से सामने आई है।

गाजीपुर के गहमर थाना क्षेत्र के गोड़सरा गॉंव में बुधवार को दलितों की बस्ती पर हमला किया गया। हमला अश्लील गाना बजाने से मना किए जाने पर किया गया।

हमले में 18 लोग घायल हो गए, जिनमें से तीन की हालत गंभीर है। तनाव को देखते हुए गाँव में पीएसी तैनात कर दी गई है। वहीं मामले का संज्ञान लेते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

जानकारी के मुताबिक गोड़सरा में बुधवार (17 जून, 2020) को एक ट्रैक्टर चालक तेज आवाज में दलित बस्ती से गुजरते समय अश्लील गाना बजा रहा था। इसका जब वहाँ से गुजरे रहे मनरेगा के मजदूरों ने विरोध किया तो यह बात ट्रैक्टर चालक को नागवार गुजरी।

इसके कुछ देर बाद ही ट्रैक्टर मालिक के बेटे हैदर ने अपने साथी तनवीर, मुहम्मद अली सहित करीब 50 लोगों के साथ दलित बस्ती पर हमला बोल दिया। हमलावर लाठी-डंडे और धारदार हथियारों से लैस थे।

घंटों तक हमलावरों ने बस्ती में ईंट-पत्थर बरसाए और बुजर्ग, बच्चे व महिलाओं के साथ भी मारपीट की। दो समुदायों के बीच झगड़े की सूचना मिलते ही तत्काल जिलाधिकारी ओमप्रकाश आर्य पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश सिंह आदि अधिकारी व भारी संख्या में पुलिस फोर्स के साथ मौके पर पहुँच गए, लेकिन इससे पहले ही सभी आरोपित मौके से फरार हो गए।

अमर उजाला की खबर के मुताबिक घटना में 18 और दैनिक जागरण की खबर के मुताबिक घटना में 13 लोगों के घाटल होने के खबर है। वहीं तीन भाइयों जालिम राम (45), बलिस्टर (35) और सुग्रीव (40) के गंभीर रूप से घायल होने की खबर है। सभी घायलों के पुलिस ने जिला अस्पताल भेजकर इलाज कराया है।

वहीं थानाध्यक्ष विमल कुमार मिश्र के मुताबिक पीडि़त पक्ष की ओर से दी गई तहरीर पर मुख्य आरोपित हैदर, तनवीर, मुहम्मद अली सहित 21 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। इनकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है।

पाँच लोगों को हिरासत में लेकर जा पूछताछ की जा रही है। एसपी डॉ. ओमप्रकाश सिंह ने बताया कि जल्द ही सभी आरोपित पुलिस की गिरफ्त में होंगे। वहीं सीतापुर में समुदाय विशेष के दबंगों ने दलित का सिर मूँडवा दिया। इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है।

आपको बता दें कि इससे पहले भी जौनपुर सरायख्वाजा थाना क्षेत्र के भदेठी में मंगलवार (9 जून, 2020) को बच्चों के विवाद में मुस्लिमों ने दलित बस्ती पर हमला बोल दिया था। इस मामले में पुलिस ने 57 लोगों को नामजद और 100 लोगों को अज्ञात करते हुए विभिन्न धाराओ में मुकदमा दर्ज किया था। इसके बाद सीएम योगी ने मामले का संज्ञान लेते हुए सभी आरोपितों के खिलाफ एनएसए के तहत कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

स्कूल में नमाज बैन के खिलाफ हाई कोर्ट ने खारिज की मुस्लिम छात्रा की याचिका, स्कूल के नियम नहीं पसंद तो छोड़ दो जाना...

हाई कोर्ट ने छात्रा की अपील की खारिज कर दिया और साफ कहा कि अगर स्कूल में पढ़ना है तो स्कूल के नियमों के हिसाब से ही चलना होगा।

‘क्षत्रिय न दें BJP को वोट’ – जो घूम-घूम कर दिला रहा शपथ, उस पर दर्ज है हाजी अली के साथ मिल कर एक...

सतीश सिंह ने अपनी शिकायत में बताया था कि उन पर गोली चलाने वालों में पूरन सिंह का साथी और सहयोगी हाजी अफसर अली भी शामिल था। आज यही पूरन सिंह 'क्षत्रियों के BJP के खिलाफ होने' का बना रहा माहौल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe