Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजपैसों के विवाद में हुई मौलाना की मौत: पुलिस पर पत्थरबाजी करने लगी मुस्लिम...

पैसों के विवाद में हुई मौलाना की मौत: पुलिस पर पत्थरबाजी करने लगी मुस्लिम भीड़, दूसरे पक्ष के घर में भी जबरन घुसने का प्रयास

घटना प्रतापगढ़ के थानाक्षेत्र जेठवारा की है। यहाँ के गाँव सोनपुर में मौलाना फारूख रहते थे। वो थोड़ी दूर मउहर नाम के गाँव में मदरसा चलाते थे।

उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में शनिवार (7 जून, 2024) को एक मदरसा संचालक की हत्या कर दी गई थी। 60 वर्षीय मृतक का नाम फारुख है जिसे आसपास के लोग मौलाना भी कहते थे। हत्या के पीछे मौलाना द्वारा लिए गए पैसे वापस न देने से उठा गुस्सा बताया जा रहा है। मामला 2 समुदायों से जुड़ा बताया जा रहा है। हत्या के बाद मृतक मौलाना के समर्थन में एक भीड़ ने पुलिस पर हमला किया है। गाँव में पत्थरबाजी हुई। यह भीड़ आरोपित के घर में भी घुसने पर आमादा थी। पुलिस ने बड़ी मेहनत से हिंसक भीड़ को काबू किया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना प्रतापगढ़ के थानाक्षेत्र जेठवारा की है। यहाँ के गाँव सोनपुर में मौलाना फारूख रहते थे। वो थोड़ी दूर मउहर नाम के गाँव में मदरसा चलाते थे। उनका अपने ही गाँव के कुछ लोगों से पैसे को ले कर विवाद चल रहा था। शनिवार को मौलाना फिर गाँव में आए थे। इस दौरान आरोपित ने उनसे पैसों की माँग की। फारुख की तरफ से संतोषजनक उत्तर न मिलने पर आरोपितों का उनसे झगड़ा शुरू हो गया। इस दौरान हुए विवाद में मौलाना घायल हो गए। मौके पर ही उनकी मौत हो गई।

हमले के बाद आरोपित मौके से फरार हो गए। पुलिस ने मौके पर पहुँच कर जाँच पड़ताल शुरू कर दी। कुल 4 आरोपितों के खिलाफ तहरीर दी गई है जिसमें एक महिला भी शामिल है। सभी आरोपित फरार हो गए जिनकी तलाश में दबिश दी जा रही है। मौलाना के परिजनों की तमाम मांगों में शस्त्र लाइसेंस भी शामिल है। पुलिस अपना काम कर ही रही थी कि अचानक मौलाना के समर्थन में भीड़ जमा होने लगी। इन सभी ने पुलिस के समझाने के बावजूद सड़क पर जाम लगाना शुरू कर दिया।

रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि पुलिस ने जाम हटवाने की कोशिश की तो भीड़ पुलिसकर्मियों से ही भिड़ गई। घटनास्थल पर नारेबाजी की गई और पुलिस वालों पर पत्थर भी फेंके गए। भीड़ की एक टुकड़ी अलग हो कर आरोपितों के घर में घुसने की कोशिश करने लगी। प्रशासन ने हालात संभालने के लिए अतिरिक्त थानों और जिलों से पुलिस टीमें बुलवाईं। गाँव में तनाव को देखते हुए मौके पर PAC की 5 कम्पनियाँ तैनात कर दी गईं हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -