Saturday, July 31, 2021
Homeदेश-समाजजय श्री राम बोलने और गोहत्या से रोकने पर सैनिक को मुस्लिम युवकों ने...

जय श्री राम बोलने और गोहत्या से रोकने पर सैनिक को मुस्लिम युवकों ने पीटा, नफीस गिरफ्तार

पुलिस ने बताया है कि तीन आरोपित गिरफ्तार कर लिए गए हैं। शेष अभियुक्तों भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मुख्य अभियुक्त संकरा उर्फ नफीस पर पहले से भी गोकशी सहित अन्य मुकदमे चल रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के औरैया जिले में सेना के एक जवान की कुछ मुस्लिम युवकों ने पिटाई कर दी। जवान ने गाय को काटने पर आपत्ति जताई थी। साथ ही जय श्री राम का नारा लगाया था। पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। पीड़ित जवान रामनरेश उर्फ फौजी ने इस संबंध में FIR दर्ज करवाई है।

रामनरेश द्वारा कराए गए FIR की कॉपी

FIR में रामनरेश ने कहा है कि 6 जनवरी को तकरीबन 12 बजे वह अपने घर से खानपुर स्थित प्लॉट पर जा रहा था। तभी कटरा मुहल्ला के शकरा कसाई, टुण्डे कसाई, जग्गू कसाई, तौसीब कसाई और इन्तयाज खान दो गायों को मारते-पीटते काटने के लिए ले जा रहे थे। रामनरेश ने उन्हें रोका तो उन लोगों ने गाली-गलौज करते हुए कहा कि तू बड़ा मोदी, योगी का भक्त बनता है, आज तुझे देख लेते हैं। इतना कह कर उन लोगों ने और पास खड़े नफीस, राहत अली शाह, शोहराब, वसीम, बसीर और मोहम्मद मियाँ के साथ ही कई अन्य लोग उसे घेरकर मार-पीट करने लगे। इस दौरान शोहराब ने रामनरेश की लाइसेंसी राइफल छीन ली और मोहम्मद मियाँ व टुण्डे कसाई ने सोने की चेन व 3,000 रुपए नगद छीन लिए।

औरैया पुलिस ने इस पर कार्रवाई करते हुए 11 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। साथ ही रामनरेश उर्फ फौजी के साथ हुए विवाद में वांछित मुख्य अभियुक्त संकरा उर्फ नफीस को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

औरैया अपर पुलिस अधीक्षक ने इस संबंध में बताया कि फौजी के साथ हुए विवाद में पहले दो अभियुक्तों को गिरफ्तार करके जेल भेजा गया था। मुख्य अभियुक्त संकरा भी गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके ऊपर पूर्व से ही गोकशी सहित अन्य मुकदमे पंजीकृत हैं। शेष अभियुक्तों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

‘जय श्री राम’ बोलने पर अयोध्या के हाजी सईद काफिर करार, इमाम ने मस्जिद में कराई ‘गुनाह’ की तौबा

TMC कार्यकर्ता ने कहा ‘जय श्री राम’ तो साथी ने ही की पिटाई, बंगाल पुलिस द्वारा कोई गिरफ्तारी नहीं

चर्च स्कूल के बच्चों ने कहा जय श्री राम, 12वीं के 17 बच्चों के स्कूल आने पर पाबंदी

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

20 से ज्यादा पत्रकारों को खालिस्तानी संगठन से कॉल, धमकी- 15 अगस्त को हिमाचल प्रदेश के CM को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

खालिस्तान समर्थक सिख फॉर जस्टिस ने हिमाचल प्रदेश के 20 से अधिक पत्रकारों को कॉल कर धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम तिरंगा नहीं फहरा सकेंगे।

‘हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेजी’: PM मोदी के खिलाफ पोस्टर पर 25 FIR, रद्द करने से सुप्रीम कोर्ट का इनकार

सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना वाले पोस्टर चिपकाने को लेकर दर्ज एफआईआर को रद्द करने से इनकार कर दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,104FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe