Monday, August 2, 2021
Homeदेश-समाजगैंग रेप व हत्या के आरोपितों को डिनर में परोसी गई मटन-करी, लोगों ने...

गैंग रेप व हत्या के आरोपितों को डिनर में परोसी गई मटन-करी, लोगों ने जेल प्रशासन से जताई नाराज़गी

चारों बलात्कार आरोपितों को जेल में मटन करी-खिलाई गई। चेरापल्ली की हाई सिक्योरिटी जेल में रखे गए चारों दरिंदों को रात के खाने में मटन-करी दिए जाने की सूचना के बाद लोगों ने पुलिस एवं प्रशासन के प्रति गुस्सा जताया।

हैदराबाद के साइबराबाद क्षेत्र में डॉक्टर प्रीति रेड्डी (बदला हुआ नाम) का गैंगरेप और उनकी हत्या को लेकर जनाक्रोश अभी थमा नहीं है। लोग बलात्कारियों को फाँसी देने से लेकर उन्हें भीड़ के हवाले करने तक की माँग कर रहे हैं। हैदराबाद में जिस जेल में उनलोगों को रखा गया था, उसके बाहर लोगों की भारी भीड़ जुट गई थी। ‘न्याय’ की माँग करते हुए लोगों ने जेल में घुस कर बलात्कारियों को अपने शिकंजे में लेने की कोशिश की। पुलिस ने लाठीचार्ज कर लोगों को वहाँ से भगाया। मुख्य आरोपित मोहम्मद आरिफ और जोल्लू शिवा सहित इस मामले में 4 आरोपितों को 14 दिनों की पुलिस कस्टडी में भेजा गया है।

ख़बर आई है कि चारों बलात्कार आरोपितों को जेल में मटन करी-खिलाई गई। चेरापल्ली की हाई सिक्योरिटी जेल में रखे गए चारों दरिंदों को रात के खाने में मटन-करी दिए जाने की सूचना के बाद लोगों ने पुलिस एवं प्रशासन के प्रति गुस्सा जताया। आरोपितों को दिन के खाने में चावल दाल दिया गया था। हालाँकि, जेल प्रशासन ने कहा है कि ऐसा जेल के मेनू के अनुरूप ही किया गया। जेल की मेनू में उस दिन मटन-करी था, इसीलिए इन आरोपितों को भी वही खिलाया गया।

चारों ने बुधवार (नवंबर 27, 2019) को इस जघन्य अपराध को अंजाम दिया था। डॉक्टर रेड्डी के साथ न सिर्फ़ गैंगरेप किया गया बल्कि उसके बाद उन्हें मार भी डाला गया। दरिंदगी का आलम ये था कि आरोपितों ने लाश के साथ भी बलात्कार किया। इसके बाद डेड बॉडी पर पेट्रोल व डीजल छिड़क कर आग लगा दी गई। शुक्रवार को जली हुई बॉडी मिलने के बाद पुलिस सक्रिय हुई और चारों आरोपितों की गिरफ़्तारी हुई।

घटना के 4 दिन बाद मुख्यमंत्री केसीआर ने अपनी चुप्पी तोड़ी और कहा कि वो इस ख़बर से व्यथित हैं। मुख्यमंत्री ने फ़ास्ट ट्रैक कोर्ट में सुनवाई के बाद दोषियों को जल्द से जल्द सज़ा दिलाए जाने की बात कही है। उससे पहले पीड़िता के चाचा ने आरोप लगाया था कि सीएम केसीआर के पास परिजनों को एक कोंडोलेंस लेटर तक भेजने का समय नहीं है। इस घटना के सामने आने के अगले दिन केसीआर एक हाई प्रोफाइल शादी अटेंड करते दिखे थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,549FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe