Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजजिस केमिस्ट की कन्हैया लाल जैसी हुई हत्या, उसकी जाँच NIA के पास: नूपुर...

जिस केमिस्ट की कन्हैया लाल जैसी हुई हत्या, उसकी जाँच NIA के पास: नूपुर शर्मा का पोस्ट किया था शेयर, शाहरुख, मुदस्सिर समेत 6 गिरफ्तार

HMO ने बताया, "गृह मंत्रालय ने 21 जून को महाराष्ट्र के अमरावती में हुई उमेश कोल्हे की बर्बर हत्या की जाँच NIA को सौंप दी है। हत्या के पीछे की साजिश, विदेश तार, संगठनों की मिलीभगत सब पर जाँच की जाएगी।"

उदयपुर में कन्हैया लाल की हत्या के पहले कथिततौर पर नुपूर शर्मा के समर्थन में आने की वजह से एक और हत्या को अंजाम दिया गया था। घटना अमरावती की थी। वहाँ उमेश कोल्हे नाम के केमिस्ट को देर रात जान से मार दिया गया था। अब उसी केमिस्ट की हत्या की जाँच राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) को दी गई है।

गृह मंत्रालय कार्यालय ने ट्वीट करके इस केस डेवलपमेंट पर जानकारी दी। HMO ने लिखा, “गृह मंत्रालय ने 21 जून को महाराष्ट्र के अमरावती में हुई उमेश कोल्हे की बर्बर हत्या की जाँच NIA को सौंप दी है। हत्या के पीछे की साजिश, विदेश तार, संगठनों की मिलीभगत सब पर जाँच की जाएगी।”

अमरावती केस की जाँच इससे पहले एटीएस के पास थी। वह पड़ताल में जुटे थे कि कहीं घटना के पीछे कोई आंतकी एंगल तो नहीं है। इसके अलावा ये भी पता लगाया जा रहा था कि उदयपुर की घटना और इस घटना में क्या समानता है। हालाँकि ये पूरा केस अब NIA को ट्रांस्फर हो गया और एजेंसी ने अपनी टीम भी अमरावती भेज दी है।

इस मामले में अब तक 6 लोगों की गिरफ्तारी हुई है। इनके नाम मुदस्सिर अहमद शेख इब्राहिम (22), शाहरुख पठान (23), अब्दुल तौफीक तस्लीम (24), शोएब खान (29) और अतीफ रशीद (23) हैं। इनमें मुदस्सिर और शाहरुख को सीसीटीवी फुटेज में रेकी करते देखा गया था और इनकी गिरफ्तारी 23 जून को हुई थी। इसके बाद अब्दुल और शोएब 25 जून को पकड़े गए थे। गिरफ्तारी के बाद कोर्ट ने इन लोगों को 5 जुलाई तक पुलिस हिरासत में भेजा था।

बता दें कि ये पूरी घटना 21 जून को रात 10:30 की है। कोल्हे अपने स्कूटर पर बैठ घर जा रहे थे। उनके साथ उनके बेटा-बहू भी थे। लेकिन वो दूसरी गाड़ी पर थे। जब ये लोग महिला कॉलेज गेट पहुँचे तो एक हमलावर ने आकर उनकी गर्दन पर धारधार हथियार से वार किया और गला रेतकर फरार हो गया। कोल्हे वहीं सड़क पर गिर पड़े और थोड़ी देर में पूरी सड़क खून से भर गई। उनका बेटा फौरन उन्हें अस्पताल लेकर पहुँचा पर तब तक वह दम तोड़ चुके थे।

पुलिस ने इस घटना में इस्तेमाल किया गया हथियार आरोपितों के पास से बरामद किया है। साथ ही सीसीटीवी फुटेज से घटना से पहले की गई रेकी आदि के सबूत जुटाए हैं। इस मामले में भाजपा नेताओं ने आरोप लगाया कि कोल्हे ने सोशल मीडिया ग्रुप में नुपूर शर्मा का पोस्ट साझा किया जिसके कारण उनकी हत्या को अंजाम दिया गया। कथिततौर पर उमेश ने नुपूर से जुड़ा एक पोस्ट ऐसे ग्रुप में डाला था जिसमें मुस्लिम भी थे। इसके बाद उन्हें फोन पर धमकियाँ आने लगीं और 21 जून को उनकी हत्या को अंजाम दिया गया।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आजादी के वक्त थे 3 मुस्लिम बहुल जिले, अब 9 हैं: बंगाल BJP प्रमुख ने कहा- असम और बंगाल में डेमोग्राफी बदलाव सोची-समझी रणनीति,...

बंगाल भाजपा अध्यक्ष सुकांत मजूमदार ने असम के सीएम हिमंता के उस बयान का समर्थन किया है, जिसमें उन्होंने डोमोग्राफी बदलाव की बात कही थी।

शुक्र है मीलॉर्ड ने भी माना कि वो इंसान हैं! चाइल्ड पोर्नोग्राफी देखने को मद्रास हाई कोर्ट ने नहीं माना था अपराध, अब बदला...

चाइल्ड पोर्नोग्राफी को अपराध नहीं बताने वाले फैसले को मद्रास हाई कोर्ट के जज एम. नागप्रसन्ना ने वापस लिया और कहा कि जज भी मानव होते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -