Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजमुंबई-लंदन-न्यूयॉर्क के घर, स्विस बैंक अकाउंट; नीरव मोदी की प्रॉपर्टी जब्त करवा बहन-बहनोई बने...

मुंबई-लंदन-न्यूयॉर्क के घर, स्विस बैंक अकाउंट; नीरव मोदी की प्रॉपर्टी जब्त करवा बहन-बहनोई बने सरकारी गवाह

ED के अनुसार पूर्वी और मयंक ने बैंक धोखाधड़ी के मामले में नीरव मोदी की 579 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त करने में मदद की। इसमें न्यूयॉर्क में दो फ्लैट, लदंन और मुंबई में 1-1 फ्लैट, दो स्विस बैंक खाते और मुंबई में एक खाता शामिल है। इसके बाद दोनों ने सरकारी गवाह बनने की अनुमति माँगी।

पंजाब नैशनल बैंक (PNB) घोटाला मामले में भगोड़े नीरव मोदी की बहन पूर्वी मोदी और उनके पति मयंक मेहता सरकारी गवाह बन गए हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, पूर्वी और उनके पति मयंक ने मुंबई के विशेष पीएमएलए कोर्ट के समक्ष एक अर्जी दायर करते हुए अदालत से सीआरपीसी की धारा 306 और 307 के तहत माफी माँगी है।

प्रवर्तन निदेशालय (ED) के अनुसार पूर्वी और मयंक ने बैंक धोखाधड़ी के मामले में नीरव मोदी की 579 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त करने में मदद की। इसमें न्यूयॉर्क में दो फ्लैट, लदंन और मुंबई में 1-1 फ्लैट, दो स्विस बैंक खाते और मुंबई में एक खाता शामिल है। इसके बाद दोनों ने सरकारी गवाह बनने की अनुमति माँगी।

बता दें बेल्जियम की नागरिक पूर्वी ईडी द्वारा दर्ज मामले में आरोपित है, जबकि नीरव मोदी PNB में $2 बिलियन बैंक धोखाधड़ी मामले में मुख्य अभियुक्त है। मनी लांड्रिंग निरोधक कानून (पीएमएलए) के तहत मामलों को देखने वाले विशेष न्यायाधीश वीसी बर्डे ने सोमवार को सरकारी गवाह बनने को लेकर पूर्वी के आवेदन को स्वीकार कर लिया। अदालत ने कहा कि मामले में माफी माँगने के बाद आरोपित (पूर्वी मोदी) अब सरकारी गवाह होगी।

अदालत ने अपने आदेश में कहा कि, “आरोपित फिलहाल विदेश में रह रही है। उसे अदालत के समक्ष उपस्थित होने का निर्देश दिया जाएगा। इसके लिए अभियोजन पक्ष जरूरी कदम उठाएगा।”

गौरतलब है कि इससे पहले प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने बैंक धोखाधड़ी मामले में पूर्वी मोदी, मयंक मेहता और अन्य को विशेष पीएमएलए अदालत के समक्ष सह-अभियुक्त बनाया था। पीएमएलए के तहत जाँच में पता चला था कि पूर्वी मोदी के पास एक दर्जन बैंक खाते हैं और विदेशों में विभिन्न कंपनियों/ट्रस्टों की ओनरशिप है।

बता दें 2 अरब डॉलर के पीएनबी घोटाले में नीरव मोदी मुख्य आरोपित है। पीएनबी घोटाला उजागर होने के बाद वह भारत से भाग गया था। नीरव मोदी और उसका मामा मेहुल चोकसी देश छोड़ कर तब भागे जब पीएनबी ने उनके खिलाफ 11,300 करोड़ के ऋण धोखाधड़ी के मामले रिपोर्ट दर्ज की थी।

एक साल की जाँच-पड़ताल के बाद आखिरकार उसे पिछले साल 20 मार्च को लंदन में गिरफ्तार किया गया था। रिपोर्ट के मुताबिक, वह पश्चिम लंदन के एक अल्ट्रा-लग्जरी अपार्टमेंट में रह रहा था। उसकी जमानत याचिका कई बार ख़ारिज हो चुकी है और वह ब्रिटेन की जेल में है।

मामले में अन्य मुख्य आरोपित नीरव मोदी का मामा मेहुल चोकसी अब एंटीगुआ की नागरिकता ले चुका है और वहीं रह रहा है। भारत सरकार उसके प्रत्यर्पण के लिए भी प्रयास कर रही है। भारत में ED द्वारा नीरव मोदी और चोकसी के प्रॉपर्टी, मकान, लक्ज़री आइटम और व्यापार परिसर समेत कई हजार करोड़ रुपए जब्त किए जा चुके हैं।

इससे पहले जून में ईडी ने हांगकांग में दोनों के हीरे और लक्जरी मोती के आभूषणों की कई खेप बरामद की थी और 1300 करोड़ रुपए से अधिक की विभिन्न संस्थाओं की 108 खेपों को वापस लाया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -