Tuesday, August 3, 2021
Homeदेश-समाजपाकिस्तान जिंदाबाद पर बाबरी पक्षकार को पीटने वाली शूटर ने कहा- मैं दूँगी निर्भया...

पाकिस्तान जिंदाबाद पर बाबरी पक्षकार को पीटने वाली शूटर ने कहा- मैं दूँगी निर्भया के गुनहगारों को फाँसी

16 दिसंबर 2012 को निर्भया के साथ 6 दरिंदों ने चलती बस में गैंगरेप किया था। 6 में से एक दोषी नाबालिग था, जो जुवेनाइल एक्ट के तहत अब छूट चुका है। वहीं एक आरोपित राम सिंह ने तिहाड़ में ही आत्महत्या कर ली थी। बाकी चार दोषी फॉंसी पर लटकाए जाने का इंतजार कर रहे हैं।

‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ का नारा लगाने पर बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इक़बाल अंसारी की पिटाई करने वाली इंटरनेशनल शूटर वर्तिका सिंह ने निर्भया रेप केस के चारों दोषियों को फाँसी के फंदे पर लटकाने की इच्छा जाहिर की है। वर्तिका सिंह ने इस संबंध में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह को खून से पत्र लिखा है। पत्र में कहा गया है कि निर्भया के दोषियों को फाँसी पर लटकने का मौका एक महिला को मिलना चाहिए।

वर्तिका सिंह ने लिखा है, “निर्भया केस के गुनहगारों को मेरे हाथों फाँसी होनी चाहिए। इससे देश भर में यह संदेश जाएगा कि एक महिला भी फाँसी दे सकती है। मैं चाहती हूँ कि महिला कलाकार और सांसद मेरा समर्थन करें। मैं उम्मीद करती हूँ कि इससे समाज में बदलाव आएगा।” वर्तिका के इस सुझाव को सोशल मीडिया पर भी समर्थन मिल रहा है।

बता दें कि कि निर्भया गैंगरेप-हत्या मामले में चारों दोषियों पवन, मुकेश, अक्षय और विनय को जल्द फाँसी देने की याचिका पर 18 दिसंबर को दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई होगी। निर्भया की माँ ने कहा कि चारों दोषी फाँसी की सजा से बचने के लिए कानूनी दांवपेंच अपना रहे हैं। उन्हें उम्मीद है कि 18 दिसंबर को अंतिम फैसला आएगा और डेथ वारंट जारी होने के बाद जल्द चारों को फाँसी दी जाएगी।

बताया जा रहा है कि कि फाँसी के डर से चारों दोषियों की भूख-प्यास खत्म हो गई है। दोषियों की हर गतिविधि पर नजर रखी जा रही है। तिहाड़ जेल में पिछले कुछ दिनों से फाँसी घर में डमी को फंदे पर लटकाने की प्रैक्टिस की जा रही थी। फिलहाल कानूनी प्रक्रियाओं को देखते हुए इसे रोक दिया गया है।

गौरतलब है कि सात साल पहले 16 दिसंबर 2012 को निर्भया के साथ 6 दरिंदों ने चलती बस में गैंगरेप किया था। 6 में से एक दोषी नाबालिग था, जो जुवेनाइल एक्ट के तहत अब छूट चुका है। वहीं एक आरोपित राम सिंह ने तिहाड़ में ही आत्महत्या कर ली थी। बाकी बचे चार दरिंदे फिलहाल तिहाड़ जेल में बंद हैं। जघन्य अपराध के जुर्म में चारों को निचली अदालत ने फाँसी की सजा सुनाई थी, जिसे ऊपरी अदालतों ने भी कायम रखा था।

बता दें कि कुछ महीने पहले इक़बाल अंसारी के घर वर्तिका सिंह तीन तलाक़ सहित अन्य गंभीर मुद्दों पर चर्चा करने के लिए गई थी। इस दौरान दोनों के बीच गर्मागर्म बहस होने लगी और इकबाल अंसारी ने आरोप लगाया कि गुस्से में वर्तिका ने उन पर हमला कर दिया। हालाँकि, वर्तिका ने कहा है कि बातचीत के दौरान अंसारी ने ‘पाकिस्तान ज़िंदाबाद’ के नारे लगाए। वर्तिका सिंह ने कहा था कि बातचीत के दौरान इक़बाल अंसारी ने न सिर्फ़ पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाए बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को लेकर अपशब्द भी कहे थे।

दिल्ली की हवा-पानी में वैसे भी मर ही जाएँगे, जल्दी क्या है: निर्भया का गुनहगार माँगे रहम

‘निर्भया के दोषियों को 16 दिसंबर को ही फाँसी दो या फिर मुझे इच्छामृत्यु दे दो’

गंगा किनारे स्थित इस जेल में तैयार हो रही 10 रस्सियाँ, फाँसी के फंदे पर झूलेंगे निर्भया के गुनहगार?

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सागर धनखड़ मर्डर केस में सुशील कुमार मुख्य आरोपित: दिल्ली पुलिस ने 20 लोगों के खिलाफ फाइल की 170 पेज की चार्जशीट

दिल्ली पुलिस ने छत्रसाल स्टेडियम में पहलवान सागर धनखड़ हत्याकांड में चार्जशीट दाखिल की है। सुशील कुमार को मुख्य आरोपित बनाया गया है।

यूपी में मुहर्रम सर्कुलर की भाषा पर घमासान: भड़के शिया मौलाना कल्बे जव्वाद ने बहिष्कार का जारी किया फरमान

मौलाना कल्बे जव्वाद ने आरोप लगाया है कि सर्कुलर में गौहत्या, यौन संबंधी कई घटनाओं का भी जिक्र किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,702FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe