Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजनूहं दंगों में जिस साइबर क्राइम थाने को जलाया, उसके 2 आरोपित जाबिर और...

नूहं दंगों में जिस साइबर क्राइम थाने को जलाया, उसके 2 आरोपित जाबिर और इरशाद गिरफ्तार: छिपे थे अरावली की पहाड़ियों में

जाबिर और इरशाद राजस्थान के अलवर जिला के गाँव चूहड़पुर के निवासी हैं। दोनों को अरावली पहाड़ी से गिफ्तार किया गया। तीन अन्य आरोपितों को भी पुलिस ने गिरफ्तार करने का दावा किया है।

नूहं में 31 जुलाई 2023 को निकली ब्रजमंडल शोभयात्रा के दौरान हिंसा, आगजनी और तोड़फोड़ करने वाले आरोपितों पर हरियाणा सरकार लगातार कार्रवाई कर रही है। एसटीएफ और क्राइम ब्रांच तथा अन्य पुलिस टीमों का लगातार सर्च आपरेशन जारी है। रविवार (20 अगस्त, 2023) को पुलिस द्वारा 5 आरोपितों को गिरफ्तार किया गया, जिनमें से दो आरोपित जाबिर और इरशाद हैं। 

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, नूहं हिंसा के दोनों आरोपित राजस्थान के अलवर जिला के गाँव चूहड़पुर के निवासी बताए जा रहे हैं। इन दोनों को रविवार की रात में गाँव से सटी अरावली पहाड़ी से गिफ्तार किया गया है। इन दोनों आरोपितों का नाम खेड़ला चौक पर हुई हिंसा के साथ-साथ साइबर क्राइम थाने में तोड़फोड़ करने तथा पुलिस के वाहनों को आग लगाने के मामले में सामने आया है।

रिपोर्ट के अनुसार पुलिस रिमांड पर लेकर इन दोनों से कड़ाई से पूछताछ करेगी। पुलिस को उम्मीद है कि हिंसा से जुड़े सुनियोजित साजिश में अन्य दंगाइयों के बारे में पता लगाया जा सकेगा। 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जाबिर और इरशाद के अलावा तीन अन्य आरोपितों को भी पुलिस ने गिरफ्तार करने का दावा किया है, लेकिन उनके नाम अभी तक सामने नहीं आए हैं। कहा जा रहा है कि तीनों को अलग-अलग थाने की टीमों ने गिरफ्तार किया है। 

गौरतलब है कि मेवात के नूहं में 31 जुलाई को जलाभिषेक यात्रा में शामिल हिंदुओं पर ही मुस्लिमों की भीड़ ने हमला कर दिया था। इस दौरान नल्हड़ के शिव मंदिर में श्रद्धालु घंटों बंधक की तरह फँसे रहे। पहाड़ियों से दंगाई इस मंदिर को भी निशाना बना रहे थे।

अब तक नूहं हिंसा से जुड़े 264 लोगों की गिरफ्तारी की गई है। हरियाणा पुलिस और STF की टीमें लगातार आरोपितों पर कार्रवाई करते हुए सर्च अभियान चला रही है। नूहं दंगों के बाद से हरियाणा पुलिस लगातार पब्लिक और पत्रकारों से भी सहयोग माँग रही है ताकि हिंसा के सभी आरोपितों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जा सके।

इस मामले में एसपी नरेंद्र बिजारणिया ने कहा, “सर्च ऑपरेशन के दौरान किसी भी निर्दोष व्यक्ति को डरने की जरूरत नहीं है। उपद्रवी चाहे कोई भी हो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

क्या है भारत और बांग्लादेश के बीच का तीस्ता समझौता, क्यों अनदेखी का आरोप लगा रहीं ममता बनर्जी: जानिए केंद्र ने पश्चिम बंगाल की...

इससे पहले यूपीए सरकार के दौरान भारत और बांग्लादेश के बीच तीस्ता के पानी को लेकर लगभग सहमति बन गई थी। इसके अंतर्गत बांग्लादेश को तीस्ता का 37.5% पानी और भारत को 42.5% पानी दिसम्बर से मार्च के बीच मिलना था।

लोकसभा में ‘परंपरा’ की बातें, खुद की सत्ता वाले राज्यों में दोनों हाथों में लड्डू: डिप्टी स्पीकर पद पर हल्ला कर रहा I.N.D.I. गठबंधन,...

कर्नाटक, तेलंगाना और हिमाचल प्रदेश में कॉन्ग्रेस ने अपने ही नेता को डिप्टी स्पीकर बना रखा है विधानसभा में। तमिलनाडु में DMK, झारखंड में JMM, केरल में लेफ्ट और पश्चिम बंगाल में TMC ने भी यही किया है। दिल्ली और पंजाब में AAP भी यही कर रही है। लोकसभा में यही I.N.D.I. गठबंधन वाले 'परंपरा' और 'परिपाटी' की बातें करते नहीं थक रहे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -