तीसरी कक्षा की बच्ची से गंदी हरक़त, 55 साल का प्रिंसिपल कदीर खां गिरफ्तार

अपनी गंदी हरक़तों को छिपाने के लिए कदीर खां बच्चों को डराता-धमकाता था। कहता था कि अगर उसकी हरक़तों के बारे में किसी ने भी अपने घर में बताया तो उसकी पिटाई होगी और उसे फेल कर दिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के बदायूँ में एक स्कूल के 55 साल के प्रिंसिपल को बच्चियों के साथ अश्लील हरक़त करने के आरोप में गिरफ़्तार किया गया है। शहर के नाज़िम सिटी मांटेसरी स्कूल में तीसरी कक्षा में पढ़ने वाली नौ साल की बच्ची ने स्कूल के प्रिंसिपल कदीर खां पर अश्लील हरक़त करने का आरोप लगाया। इसके अलावा बच्ची के परिजनों ने पुलिस को एक वीडियो क्लिप भी दिखाई जिसमें स्कूल की अन्य छात्राओं ने भी प्रिंसिपल पर अश्लील हरक़तें करने का आरोप लगाया है।

दैनिक जागरण के बदायूँ संस्करण में छपी ख़बर

दरअसल, मंगलवार (17 सितंबर) को तीसरी कक्षा की मासूम छात्रा को उसके पिता स्कूल छोड़कर अपनी दुकान पर वापस आ गए। इसके बाद सुबह क़रीब 10 बजे बच्ची की माँ ने उसके पिता को फ़ोन कर बताया कि स्कूल में उसकी बच्ची के साथ किसी ने ग़लत हरक़त की है। इसके बाद बच्ची के पिता घर पहुँचे और अपनी पत्नी समेत कुछ अन्य परिजनों के साथ स्कूल पहुँचे। वहाँ बच्ची ने बताया कि स्कूल के प्रिंसिपल कदीर खां ने उसके साथ शर्मनाक हरक़त की है, इसके बाद वहाँ मौजूद सभी लोग गुस्से से आग-बबूला हो उठे और प्रिंसिपल से इस संदर्भ में बात करने पहुँचे।

प्रिंसिपल ने परिजनों की शिक़ायत पर ग़ौर फ़रमाने की बजाए उन्हें धक्के देकर कार्यालय से बाहर निकलवा दिया। इस बीच परिजनों ने प्रिंसिपल के ख़िलाफ़ जमकर हंगामा किया, लेकिन उन्हें घर वापस आना पड़ा। थोड़े समय के बाद परिजन एक बार फिर से स्कूल पहुँचे और स्कूल में अन्य छात्राओं से कदीर खां के बारे में पूछताछ की तो पता चला कि वो अन्य मासूम बच्चियों के साथ भी अश्लील हरक़त करता था। 

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

इसके बाद उस वीडियो क्लिप को लेकर परिजन कोतवाली पहुँचे। शिक़ायत के आधार पर पुलिस ने कदीर खां के ख़िलाफ़ धारा-376 एबी और लैंगिक अराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम-2012 (पॉक्सो) के तीन और चार के तहत FIR दर्ज कर ली। इस मामले पर तुरंत कार्रवाई करते हुए पुलिस कदीर खां को गिरफ़्तार कर कोतवाली ले आई। फ़िलहाल, इस मामले पर स्कूल प्रशासन ने चुप्पी साध रखी है। जानकारी के अनुसार, कदीर खां उस स्कूल का प्रिंसिपल और मैनेजर दोनों है।

इस बात का भी पता चला है कि कदीर खां न सिर्फ़ स्कूल की छात्राओं को अपना निशाना बनाता था बल्कि छात्रों के साथ भी अश्लील हरक़त करता था। अपनी गंदी हरक़तों को छिपाने के लिए वो बच्चों को डराता-धमकाता था और कहता था कि अगर उसकी हरक़तों के बारे में किसी ने भी अपने घर में बताया तो उसकी पिटाई होगी और उसे फेल कर दिया जाएगा।

स्कूल के छात्र-छात्राओं के बीच कदीर खां का इतना ख़ौफ़ था कि उन्होंने ख़ुद के साथ हो रहे अभद्र व्यवहार के बारे में कभी किसी को कुछ नहीं बताया। लेकिन, अब जब मामला सामने आ गया तो कुछ बच्चों ने अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कदीर खां के अश्लील बर्ताव के बारे में बताना शुरू कर दिया है। एक छात्र ने बताया कि कदीर खां उसके कपड़े उतारकर उसके शरीर पर हाथ फेरता था।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

कमलेश तिवारी हत्याकांड
आपसी दुश्मनी में लोग कई बार क्रूरता की हदें पार कर देते हैं। लेकिन ये दुश्मनी आपसी नहीं थी। ये दुश्मनी तो एक हिंसक विचारधारा और मजहबी उन्माद से सनी हुई उस सोच से उत्पन्न हुई, जहाँ कोई फतवा जारी कर देता है, और लाख लोग किसी की हत्या करने के लिए, बेखौफ तैयार हो जाते हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

107,076फैंसलाइक करें
19,472फॉलोवर्सफॉलो करें
110,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: