Monday, June 24, 2024
Homeदेश-समाजहरिकथा कलाकार के सम्मान में खड़े हुए PM मोदी, लोक गायिका ने घुटने के...

हरिकथा कलाकार के सम्मान में खड़े हुए PM मोदी, लोक गायिका ने घुटने के बल बैठ प्रधानमंत्री को किया प्रणाम: पद्म सम्मान में दिखा ‘असली भारत’ का नज़ारा

भारत रत्न के बाद सबसे बड़े नागरिक सम्मान से 6 लोगों को सम्मानित किया गया। इनमें दो लोग राजनीति से संबंध रखते हैं। एक हैं समाजवादी पार्टी के संस्थापक और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत मुलायम सिंह यादव और एसएम कृष्णा। कृष्णा कॉन्ग्रेस के दिग्गज नेता रहे हैं। वे कर्नाटक के मुख्यमंत्री के साथ-साथ विदेश मंत्री सहित कई पदों पर रहे। कृष्णा साल 2017 में भाजपा में शामिल हो गए थे।

देश के जाने-माने उद्योगपति कुमार मंगलम बिड़ला (Kumar Mangalam Birla) को राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (Draupadi Murmu) ने बुधवार (22 मार्च 2023) को पद्म भूषण (Padma Bhushan) से सम्मानित किया। राष्ट्रपति भवन में आयोजित समारोह में 106 लोगों को पद्म सम्मान से सम्मानित किया गया।

राष्ट्रपति के ट्विटर हैंडल ने इसकी तस्वीर साझा करते हुए लिखा, “राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने व्यापार और उद्योग के लिए श्री कुमार मंगलम बिड़ला को पद्म भूषण प्रदान किया। वह आदित्य बिड़ला समूह के अध्यक्ष हैं। इस समूह की एक सदी से अधिक पुरानी विरासत है। यह विदेश में उद्यम करने वाले पहले भारतीय समूहों में से एक है और आज इसकी व्यापक वैश्विक उपस्थिति है।”

कुमार मंगलम बिड़ला इस सम्मान को पाने वाले बिड़ला परिवार के चौथे व्यक्ति हैं। इससे पहले उनकी माँ राजश्री बिड़ला और दादा बसंत कुमार बिड़ला को पद्म भूषण, जबकि उनके परदादा घनश्याम दास बिड़ला को पद्म विभूषण सम्मान दिया गया था।

सम्मान को ग्रहण करते हुए कुमार मंगलम बिड़ला ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू का आभार व्यक्त किया। इस अवॉर्ड को उन्होंने 36 देशों में फैले अपने कारोबार के 1.40 लाख कर्मचारियों को दिया। उन्होंने कहा, “आदित्य बिड़ला ग्रुप ने लोगों के जीवन को समृद्ध बनाने का जो बेड़ा उठाया है, उसे यह अवॉर्ड मान्यता देता है।”

इस दौरान मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उपस्थित रहे। आंध्र प्रदेश के हरिकथा कलाकार कोटा सच्चिदानंद शास्त्री जब पद्मश्री सम्मान लेने आए तो पीएम मोदी उनको देखकर खड़े हो गए। सच्चिदानंद नंगे पैर पुरस्कार लेने आए थे।

वहीं, पंडवानी लोकगायिका उषा बरले को भी पद्मश्री दिया गया। उषा जब सम्मान लेने आईं तो सबसे पहले घुटनों के बल बैठकर पीएम मोदी को प्रणाम किया। इसके बाद उन्होंने राष्ट्रपति को भी झुककर प्रणाम किया और फिर सम्मान लिया। 

कुमार मंगलम बिड़ला के अलावा, 8 अन्य लोगों को पद्म भूषण से सम्मानित किया गया है। ये कर्नाटक के शिक्षाविद एसएल भैयरप्पा, साइंस और इंजीनियरिंग से जुड़े महाराष्ट्र के दीपक धर, कला से जुड़ीं तमिलनाडु की वाणी जयराम, अध्यात्म से जुड़े तेलंगाना के स्वामी चिन्ना जीयर, कला से जुड़ीं महाराष्ट्र की सुमन कल्याणपुर, शिक्षा से जुड़े दिल्ली के कपिल कपूर, सामाजिक कार्यकर्ता कर्नाटक निवासी सुधा मूर्ति और अध्यात्म से जुड़े कमलेश डी पटेल।

वहीं, विभिन्न क्षेत्रों के 91 लोगों को पद्मश्री से सम्मानित किया गया। वहीं, भारत रत्न के बाद सबसे बड़े नागरिक सम्मान से 6 लोगों को सम्मानित किया गया। इनमें दो लोग राजनीति से संबंध रखते हैं। एक हैं समाजवादी पार्टी के संस्थापक और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत मुलायम सिंह यादव और एसएम कृष्णा।

एसएम कृष्णा कॉन्ग्रेस के दिग्गज नेता रहे हैं। वे कर्नाटक के मुख्यमंत्री के साथ-साथ विदेश मंत्री सहित कई पदों पर रहे हैं। कृष्णा साल 2017 में भाजपा में शामिल हो गए थे। इन दोनों के अलावा पद्म विभूषण पाने वाले लोगों में दिलीप महालनबिश (मृत्योपरांत), बालकृष्ण दोशी (मृत्योपरांत), जाकिर हुसैन, श्रीनिवास वर्धन शामिल हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसानों के आंदोलन से तंग आ गए स्थानीय लोग: शंभू बॉर्डर खुलवाने पहुँची भीड़, अब गीदड़-भभकी दे रहे प्रदर्शनकारी

किसान नेताओं ने अंबाला शहर अनाज मंडी में मीडिया बुलाई, जिसमें साफ शब्दों में कहा कि आंदोलन खराब नहीं होना चाहिए। आंदोलन खराब करने वाला खुद भुगतेगा।

‘PM मोदी ने किया जी अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन का उद्घाटन, गिर गई उसकी दीवार’: News24 ने फेक न्यूज़ परोस कर डिलीट की ट्वीट,...

अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन से जुड़े जिस दीवार के दिसंबर 2023 में बने होने का दावा किया जा रहा है, वो दावा पूरी तरह से गलत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -