Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजपथराव का विरोध करने पर चाँद मोहम्मद ने घर में घुस मारी गोली: पटना...

पथराव का विरोध करने पर चाँद मोहम्मद ने घर में घुस मारी गोली: पटना में मारे गए सन्नी गुप्ता का भाई

दीपक गुप्ता ने बताया कि चॉंद और उसके साथियों की योजना पुलिस को निशाना बनाने की थी। एनसीसी कैडेट्स के साथ विवाद होने पर उन्होंने पथराव किया था। सन्नी ने इसका विरोध किया। यही बात आरोपितों को नागवार गुजरी और कुछ देर बाद घर में घुस उनके भाई को गोली मार दी।

पटना में सोमवार (20 अप्रैल 2020) को लॉकडाउन को लेकर हुए विवाद में मारे गए सन्नी गुप्ता के परिजनों ने चौंकाने वाला खुलासा किया है। उनके मुताबिक मुख्य आरोपित चॉंद मोहम्मद हथियारों का तस्कर है। उनका परिवार उसकी गुंडई का विरोध करते था। इसके कारण वे लोग पहले से ही उसके निशाने पर थे।

सन्नी के परिजनों का यह भी आरोप है कि पुलिस मामले को दबाने की कोशिश कर रही है। हालॉंकि पुलिस ने इन आरोपों को खारिज किया है। सन्नी के भाई दीपक गुप्ता ने बताया कि चॉंद मोहम्मद ने घर में घुसकर उनके भाई के सिर में गोली मारी थी।

इस घटना में पॉंच लोग गिरफ्तार किए जा चुके हैं, लेकिन चॉंद मोहम्मद अभी भी गिरफ्त से बाहर है। सन्नी के परिवार की सुरक्षा के लिए प्रशासन की तरफ से उसके घर के बाहर फोर्स की तैनाती की गई है। लेकिन, दीपक के अनुसार वे अभी भी खुद को सुरक्षित महसूस नहीं कर रहे। परिवार बेहद डरा हुआ है। यही कारण है सन्नी के पिता गोपाल प्रसाद ने घर के बाहर ‘यह मकान बिक्री का है’ लिखा बोर्ड टॉंग दिया है।

दीपक गुप्ता ने बताया कि चॉंद और उसके साथियों की योजना पुलिस को निशाना बनाने की थी। एनसीसी कैडेट्स के साथ विवाद होने पर उन्होंने पथराव किया था। सन्नी ने इसका विरोध किया। यही बात आरोपितों को नागवार गुजरी और कुछ देर बाद घर में घुस उनके भाई को गोली मार दी।

दीपक गुप्ता ने पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े करते हुए कहा कि जब पूरे देश में लॉकडाउन है तो आरोपित कैसे फरार हो गया? उनके अनुसार पुलिस गलती से गोली चलने की बात कह मामले को दबाने में लगी है। लेकिन, खाजेकलाँ थानाध्यक्ष सनोवर खां ने इसे गलत बताया है। उन्होंने बताया कि छह लोगों के खिलाफ नामजद मामला दर्ज किया गया था। इनमें से पॉंच को तत्काल गिरफ्तार कर लिया गया। चॉंद मोहम्मद की तलाश जारी है। उन्होंने माना कि चॉंद का आपराधिक अतीत रहा है और उसे जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। मामला गंभीर होने की बात कहकर उन्होंने विस्तृत जानकारी देने से इनकार कर दिया।

जिस इलाके की यह घटना है वह मुस्लिम बहुल है। दीपक के अनुसार यहॉं रहने वाले हिंदू परिवार खुद को सुरक्षित महसूस नहीं करते। उन्होंने बताया कि चॉंद हथियारों की तस्करी करता है। आए दिन फायरिंग कर हथियार चेक करता रहता है। वह स्थानीय लोगों पर अपना रौब भी जमाता रहता था। इसका सन्नी और उसके परिजन विरोध करते थे। इसकी वजह से वे लोग चॉंद के टारगेट पर थे।

गौरतलब है कि सन्नी गुप्ता टेंट का व्यवसाय करते थे। तीन साल पहले ही उनकी शादी हुई थी। दो साल का बेटा अनुराग और 4 महीने की एक बेटी आराध्या है। इस घटना के बाद से उनकी पत्नी सदमे में है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बाप कम्युनिस्ट हो, सत्ता में वामपंथी हों तो प्यार न करें, प्यार हो जाए तो माँ न बने: अपने ही बच्चे के लिए भटक...

अजीत और अनुपमा को एक-दूसरे से प्यार हुआ और एक बच्चे का जन्म हुआ। कम्युनिस्ट पिता को ये रिश्ता और बच्चा दोनों नागवार थे। बच्चा इस जोड़े से छीन लिया गया...

नाम में खान इसलिए शाहरुख का बेटा निशाना: रिया चक्रवर्ती के लिए ‘महिला कार्ड’ खेलने वाली मीडिया का अब ‘मुस्लिम’ प्रलाप

'मिड डे' ने लिखा है कि शाहरुख़ खान ने भाजपा नेताओं के साथ सेल्फी नहीं डाली और जन्मदिन की शुभकामनाएँ नहीं दी, इसीलिए उनके बेटे के खिलाफ कार्रवाई हुई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,884FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe