Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजबरेली: पुलिस ने नजीर अहमद के घर का दरवाजा खुलवाया तो मिली पड़ोस की...

बरेली: पुलिस ने नजीर अहमद के घर का दरवाजा खुलवाया तो मिली पड़ोस की लड़की, अगवा कर जहर खिलाने का आरोप

''य​ह आपसी रंजिश का मामला है, जो 2018 से चला आ रहा है। दोनों पक्ष मुस्लिम हैं और मिंतरपुर गाँव के रहने वाले हैं। इनके घर आसपास हैं। मृतका का नाम रेशमा है। उसने खुद जहर खाया है, या फिर उसे जबरन खिलाया गया है। वह नजीर अहमद घर में कैसे पहुँची इस पर जाँच जारी है।''

उत्तर प्रदेश के बरेली में आपसी रंजिश के चलते युवती को जबरन जहर पिलाने का मामला सामने आया है। इस घटना को बरेली के बहेड़ी थाना क्षेत्र में बुधवार (17 नवंबर रात 1 बजे) को अंजाम दिया गया। बताया जा रहा है कि आरोपितोंं ने युवती को अपने घर में बुलाकर जबरन जहर पिला दिया। फिर खुद पुलिस को फोन कर इसकी जानकारी दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुँची और युवती को अस्पताल ले गई, जहाँ उसने दम तोड़ दिया।

इस मामले से जुड़ी अन्य जानकारी लेने के लिए ऑप​इंडिया ने बहेड़ी थाने से संपर्क किया। इंस्पेक्टर ओम प्रकाश गौतम ने बताया, “य​ह आपसी रंजिश का मामला है, जो 2018 से चला आ रहा है। दोनों पक्ष एक ही समुदाय के हैं और मिंतरपुर गाँव के रहने वाले हैं। इनके घर आसपास हैं। मृतका का नाम रेशमा है। उसने खुद जहर खाया है, या फिर उसे जबरन खिलाया गया है। वह नजीर अहमद घर में कैसे पहुँची इस पर जाँच जारी है।”

इंस्पेक्टर ने बताया, “दोनों पक्षों में पहले से ही दुश्मनी चल रही है। उन्होंने एक-दूसरे के खिलाफ मुकदमे भी दर्ज कराए हैं। मुलजिम पक्ष की ओर से 2018 और 2019 में दो मुकदमे दर्ज करवाए गए हैं। एक मुकदमे में मृतका भी आरोपित है। नजीर अहमद के बेटे अनीश अहमद ने 2018 में युवती और उसके परिवार वालों के खिलाफ पहला मुकदमा दर्ज करवाया था। इसके बाद साल 2019 में उन्होंने दूसरा मामला दर्ज करवाया था, जिसमें लियाकत अली की बेटी रेशमा को आरोपित बनाया था।”

उन्होंने कहा कि हम इस मामले की गहनता से जाँच कर रहे है। इंस्पेक्टर का कहना है कि जब पुलिस मौके पर पहुँची तो लड़की नजीर अहमद के कमरे में बंद थी। काफी समझाने पर नजीर अहमद और उसके साथ मौजूद लोगों ने दरवाजा खोला। इसके बाद लड़की को अस्पताल पहुँचाया गया, जहाँ उसने दम तोड़ दिया।

वहीं दैनिक जागरण की रिपोर्ट के मुताबिक, बहेड़ी की रहने वाली युवती के परिजन ने बताया कि वर्ष 2019 में पास के ही रहने वाले युवक अनीश ने उनकी बेटी के साथ छेड़छाड़ की थी। जब उसने इसका विरोध किया तो युवक के पिता नजीर अहमद और भाइयों शकील अहमद, अकील अहमद, खलील अहमद व दो अन्य रफी एवं अलीम ने मिलकर लड़की के साथ मारपीट की। उसके बाद मामले में सात आरोपितोंं के खिलाफ छेड़छाड़ मारपीट व अन्य धाराओं में बहेड़ी थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था। 25 नवंबर को इस मामले में कोर्ट में सुनवाई होनी है। इस पर आरोपित युवती पर लगातार समझौते का दबाव बना रहे थे। जब वह नहीं मानी तो उन्होंने उसे अगवा कर लिया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पश्चिम बंगाल में 2010 के बाद जारी हुए हैं जितने भी OBC सर्टिफिकेट, सभी को कलकत्ता हाई कोर्ट ने कर दिया रद्द : ममता...

कलकत्ता हाई कोर्ट ने बुधवार 22 मई 2024 को पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार को बड़ा झटका दिया। हाईकोर्ट ने 2010 के बाद से अब तक जारी किए गए करीब 5 लाख ओबीसी सर्टिफिकेट रद्द कर दिए हैं।

महाभारत, चाणक्य, मराठा, संत तिरुवल्लुवर… सबसे सीखेगी भारतीय सेना, प्राचीन ज्ञान से समृद्ध होगा भारत का रक्षा क्षेत्र: जानिए क्या है ‘प्रोजेक्ट उद्भव’

न सिर्फ वेदों-पुराणों, बल्कि कामंदकीय नीतिसार और तमिल संत तिरुवल्लुवर के तिरुक्कुरल का भी अध्ययन किया जाएगा। भारतीय जवान सीखेंगे रणनीतियाँ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -