Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाज'तांडव' के मेकर्स को समन, हिंदू घृणा से सने कंटेंट को लेकर बीजेपी नेता...

‘तांडव’ के मेकर्स को समन, हिंदू घृणा से सने कंटेंट को लेकर बीजेपी नेता राम कदम ने की थी शिकायत

इससे पहले बॉम्बे हाईकोर्ट के वकील आशुतोष दुबे ने अली अब्बास जफर और अमेजन प्राइम वीडियो को हिंदूफोबिक कंटेंट के लिए कानूनी नोटिस भेजा था।

अमेजन प्राइम वीडियो पर 15 जनवरी को रिलीज हुई वेब सीरिज तांडव (Tandav) को लेकर विवाद बढ़ता ही जा रहा है। इस वेब सीरिज पर हिंदू धर्म की गलत छवि दिखाने का आरोप है। दर्शकों का कहना है कि इसमें न केवल जातिवादी कंटेंट है, बल्कि भगवान शिव और भगवान राम का अपमान भी किया गया है।

शो के स्टारर सैफ अली खान की बढ़ती आलोचना के बीच बीजेपी नेता राम कदम ने अभिनेता ज़ीशान अय्यूब के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है और वेब सीरीज में हिंदू देवताओं का अपमान करने के लिए माफी की माँग की है। साथ ही उन्होंने पूछा कि आखिर क्यों फिल्मों और वेब सीरिज में लगातार हिन्दू घृणा से सना कंटेंट परोसा जा रहा है।

मुंबई पुलिस को दी शिकायत में कदम ने कहा है, “मैं आपको बताना चाहूँगा कि वेब सीरिज तांडव में हिंदू देवताओं का अपमान किया गया है। इससे हिंदुओं की भावनाएँआहत हुई है। वेब सीरिज के निर्देशक अली अब्बास वामपंथी विचारधारा का महिमामंडन कर रहे हैं। जीशान ने भगवान शिव का अपमान किया है। आपसे अनुरोध है कि ओटीटी प्लेटफॉर्म, निर्देशक, निर्माता, लेखक और अभिनेताओं पर शिकायत दर्ज करें और सीरिज की स्ट्रीमिंग बंद करें। इसके अलावा सीरिज में विशिष्ट समुदायों का भी अपमान किया गया है। इसलिए आवश्यक कार्रवाई करें।”

राम कदम की शिकायत

भाजपा नेता कदम की शिकायत के बाद पुलिस ने तांडव के मेकर्स को समन जारी किया है। सीरिज के खिलाफ धारा 295A, आईटी एक्ट धारा 67 ए के तहत मामला दर्ज किया गया है।

गौरतलब है कि भाजपा नेता कपिल मिश्रा ने भी इस मामले पर अपनी राय रखी थी। उन्होंने केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से वेब सीरिज पर प्रतिबंध लगाने की अपील की थी। मिश्रा ने एक वीडियो जारी करते हुए आरोप लगाया था कि वेब सीरिज के जरिए देश में हिंसा फैलाने की साजिश है। उन्होंने आरोप लगाया कि सीरिज में दलितों का अपमान किया गया है।

वहीं इससे पहले बॉम्बे हाईकोर्ट के वकील आशुतोष दुबे ने अली अब्बास जफर और अमेजन प्राइम वीडियो को हिंदूफोबिक कंटेंट के लिए कानूनी नोटिस भेजा था।

उल्लेखनीय है कि अमेज़न प्राइम ने हाल ही में सैफ अली खान स्टारर राजनीतिक ड्रामा सीरीज़ ‘तांडव’ को अपने प्लेटफॉर्म पर रिलीज किया है। इसे निर्देशित किया है अली अब्बास ज़फ़र ने।

नेटिज़न्स ने कई उदाहरणों से यह साबित किया है, वेब सीरीज में हिंदू देवी-देवताओं का मजाक उड़ाते हुए हिंदू समाज के विभिन्न संप्रदायों के बीच जानबूझकर विभाजन के बीज बोने का प्रयास कर हिंदुओं की भावनाओं को आहत किया गया है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,125FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe