Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजसंस्कृत विश्वविद्यालय के पास सरकारी जमीन पर अवैध मजार, ध्वस्त करने पहुँची पुलिस पर...

संस्कृत विश्वविद्यालय के पास सरकारी जमीन पर अवैध मजार, ध्वस्त करने पहुँची पुलिस पर भीड़ का हमला: इधर लाठीचार्ज उधर बुलडोजरों ने कर दिया काम

छात्रों की इस शिकायत पर प्रशासन ने संज्ञान लिया। इस मजार को ध्वस्त करने के लिए बुलडोजर लगाए गए। थोड़े ही देर में इस मजार को ध्वस्त कर दिया गया।

उत्तराखंड के हरिद्वार में सरकारी जमीन पर बनी एक अवैध मजार को हटाने से पहले प्रशासन को भारी विरोध का सामना करना पड़ा है। उत्तराखंड संस्कृत विश्वविद्यालय के पास मौजूद इस मजार को हटाने की खबर सुन कर कई मुस्लिमों ने हंगामा किया। भीड़ द्वारा मचाए बवाल के चलते थोड़ी देर के लिए सड़क पर वाहनों की आवाजाही रुक गई थी। हालात काबू करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा था। मामला सोमवार (12 जून, 2023) का है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मामला बहादराबाद थाना क्षेत्र का है। यहाँ नहर की पटरी के पास समीप नहर पटरी पर एक मजार बनी थी। इसका नाम सैयद बाबा रोशन अली शाह था। यह मजार उत्तराखंड संस्कृत विश्वविद्यालय के पास बनी हुई थी। पिछले माह मई 2023 में इस विश्वविद्यालय के छात्र संघ ने हरिद्वार के DM को पत्र लिख कर इस मजार को हटाने की माँग की थी। तब छात्र संघ अध्यक्ष सागर खेमरिया ने बताया था कि मजार में लगे लाउडस्पीकर की वजह से छात्रों की पढ़ाई बाधित हो रही थी। अनूप यदुवंशी के मुताबिक, धीरे-धीरे उस मजार को मस्जिद का रूप दिया जा रहा था।

छात्रों की इस शिकायत पर प्रशासन ने संज्ञान लिया। सोमवार (12 जून, 2023) को इस मजार को ध्वस्त करने के लिए बुलडोजर लगाए गए। थोड़े ही देर में इस मजार को ध्वस्त कर दिया गया। इस दौरान भारी पुलिस बल तैनात किया गया था। इस कार्रवाई की जानकारी जैसे ही मुस्लिम समाज के लोगों को हुई वो सड़कों पर उत्तर गए। भीड़ की शक्ल में कई लोग घटनास्थल पर पहुँचे और प्रशासनिक अधिकारियों से उलझना शुरू कर दिए। प्रशासन ने इस मजार को सिंचाई विभाग की जमीन पर बना बताया और भीड़ को समझाने का प्रयास किया। हालाँकि, प्रशासन की बातों का भीड़ पर कोई असर नहीं पड़ा।

इस जमावड़े के चलते सड़क पर गाड़ियों का आवागमन रुक गया। इस दौरान भीड़ ने सरकार विरोधी नारेबाजी करने लगी। भीड़ में मौजूद कई लोग अन्य धर्मों के पूजास्थल भी गिराने की माँग करने लगे। आख़िरकार प्रशसन ने लाठीचार्ज किया जिस से भीड़ तितर-बितर हुई। लाठीचार्ज का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। पुलिस ने एहतियातन इलाके में फ़ोर्स तैनात कर दी है। SDM पूरण सिंह राणा के मुताबिक, जिले में तमाम अवैध निर्माणों के खिलाफ प्रशासन कार्रवाई कर रहा है।

वहीं DSP निहारिका सेमवाल के मुताबिक भीड़ द्वारा सड़क मार्ग अवरुद्ध करने पर पुलिस द्वारा बल प्रयोग किया गया था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

NEET पेपरलीक का मास्टरमाइंड निकाल बिहार का लूटन मुखिया, डॉक्टर बेटा भी जेल में: पत्नी लड़ चुकी है विधानसभा चुनाव, नौकरी छोड़ खुद बना...

नीट पेपर लीक के मास्टरमाइंड में से एक संजीव उर्फ लूटन मुखिया। वह BPSC शिक्षक बहाली पेपर लीक कांड में जेल जा चुका है। बेटा भी जेल में है।

व्यभिचारी वैष्णव आचार्य, पत्रकार ने खोली पोल, अंग्रेजों के कोर्ट में मुकदमा… आमिर खान के बेटे को लेकर YRF-Netflix की बनाई फिल्म बहस का...

माँ भवानी का अपमान करने वाले को जवाब देने कारण हकीकत राय नामक बच्चे का खुलेआम सिर कलम कर दिया गया था। इस पर फिल्म बनाएगा बॉलीवुड? या सिर्फ वही 'वास्तविक कहानियाँ' चुनी जाती हैं जिनमें गुंडा कोई साधु-संत हो?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -