Tuesday, February 7, 2023
Homeदेश-समाजपूनावाला समूह ने ठुकराई ₹7,394 करोड़ की डील, अबुधाबी और सऊदी अरब की कंपनियों...

पूनावाला समूह ने ठुकराई ₹7,394 करोड़ की डील, अबुधाबी और सऊदी अरब की कंपनियों ने दिया था ऑफर: ये रही वजह

यह पहली बार नहीं है जब पूनावाला समूह द्वारा निवेश को ठुकराया गया है। 2015 में भी कई बार निवेश को लेकर बातचीत शुरू हुई लेकिन कंपनी के मूल्यांकन को लेकर बात पूरी नहीं हो सकी और कंपनी ने अपनी हिस्सेदारी को न बेचने का निर्णय लिया।

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) के मालिकाना हक वाले पूनावाला समूह ने पिछले वर्ष 1 बिलियन डॉलर (लगभग 7,394 करोड़ रुपए) की डील को ठुकरा दिया था। इस डील से संबंधित दो लोगों ने जानकारी दी कि निजी इक्विटी कंपनियों के समूह के साथ होने वाली यह डील पूनावाला समूह द्वारा अंतिम समय में रद्द कर दी गई थी।

मीडिया रिपोर्ट्स से मिल रही जानकारी के अनुसार पूनावाला समूह को निजी इक्विटी फर्म TPG कैपिटल, अबुधाबी के ADQ और सऊदी अरब के पब्लिक इनवेस्टमेंट फंड (PIF) के समूह से 1 बिलियन डॉलर के समझौते का प्रस्ताव मिला था। इस समझौते की डेडलाइन अक्टूबर 2020 थी लेकिन ऐन मौके पर कंपनी के द्वारा यह समझौता ठुकरा दिया गया।

डील की जानकारी रखने वाले लोगों ने बताया कि कंपनी के मूल्यांकन (Valuation) को लेकर उत्पन्न हुई मत भिन्नता के कारण यह निर्णय लिया गया। इसके अलावा पूनावाला समूह की कंपनी में बिल एण्ड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन द्वारा 300 मिलियन डॉलर (लगभग 2,217 करोड़ रुपए) का निवेश किया गया था। यह भी एक कारण था निजी निवेश समूह के द्वारा दिए गए निवेश प्रस्ताव को ठुकराने का।

पूनावाला समूह ने नई स्थापित सब्सिडियरी कंपनी के लिए 10 बिलियन डॉलर (लगभग 73,940 करोड़ रुपए) का मूल्यांकन किया था। इस कंपनी के अंतर्गत ही SII के तमाम वैक्सीन निर्माण कार्यक्रम संस्थापित होने वाले हैं। SII ने पाँच अंतरराष्ट्रीय फार्मा कंपनियों के साथ करार किया है। जिनमें AstraZeneca और नोवावैक्स भी शामिल है। यह करार वैक्सीन की खुराक के निर्माण के लिए किया गया है। इसके तहत टीके की 1 अरब खुराक बनाने के लिए SII प्रतिबद्ध है जिसका आधा हिस्सा अर्थात 50 करोड़ खुराक भारत को उपलब्ध कराई जाएगी।

हालाँकि कंपनी के जानकारों द्वारा यह बताया गया है कि यह पहली बार नहीं है जब पूनावाला समूह द्वारा निवेश को ठुकराया गया है। 2015 में भी कई बार निवेश को लेकर बातचीत शुरू हुई लेकिन कंपनी के मूल्यांकन को लेकर बात पूरी नहीं हो सकी और कंपनी ने अपनी हिस्सेदारी को न बेचने का निर्णय लिया।

हाल ही में भारत में कुछ ‘ताकतवर लोगों’ द्वारा वैक्सीन के लिए धमकी देने के आरोपों के बाद परिवार संग ब्रिटेन गए अदार पूनावाला की वैक्सीन निर्माता कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) ने अब ब्रिटेन में 240 मिलियन पाउंड (334 मिलियन डॉलर, करीब 2400 करोड़ रुपए) का निवेश करने का फैसला किया है।

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने सोमवार (4 मई 2021) को इसकी जानकारी दी। जॉनसन के डाउनिंग स्ट्रीट कार्यालय द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि पूनावाला की कंपनी सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) यूके में एक सेल्स ऑफिस, साथ ही वहाँ क्लीनिकल ट्रायल, रिसर्च और डेवलवमेंट में निवेश करने के साथ ही भविष्य में वैक्सीन का निर्माण भी कर सकती है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

2300 पहुँचा मृतकों का आँकड़ा: तुर्की-सीरिया के अलावा थर्राया था इजरायल और लेबनान भी, तेज़ी से बढ़ रही मृतकों की संख्या

अब भी मलबे में दबे लोगों को निकाला जा रहा है। कई लोग गंभीर रूप से घायल हैं। मृतकों की संख्या बढ़ने की आशंका है। तुर्की में लगातार तीन झटके आए।

हर हाजी को ₹50000 की बचत, पहली बार आवेदन शुल्क भी FREE: मोदी सरकार लेकर आई नई हज पॉलिसी, सूटकेस-चादर के लिए सीमा शुल्क...

केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा, "आवेदन पत्र को पहली बार मुफ्त कर दिया गया है। हज पैकेज की लागत 50 हजार रुपए कम कर दी गई है।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
244,191FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe