Monday, July 4, 2022
Homeदेश-समाजप्रयागराज हिंसा के इन 37 दंगाइयों के घर और दुकान तलाश रहा PDA: जावेद...

प्रयागराज हिंसा के इन 37 दंगाइयों के घर और दुकान तलाश रहा PDA: जावेद पंप के बाद भी नहीं रूकेगा बुलडोजर

"PDA को दो-तीन दिन पहले उन 37 लोगों के नामों की सूची मिली है जो कि अटाला और करेली क्षेत्र में पथराव की घटना में शामिल थे। प्राधिकरण के अधिकारी इन 37 आरोपितों के पते ठिकानों की तलाश कर रहे हैं।"

उत्तर प्रदेश के प्रयागराज के करेली और अटाला क्षेत्र में शुक्रवार (10 जून, 2022) को हुई हिंसा के मास्टरमाइंड जावेद पंप का आलीशान कोठी ध्वस्त करने के बाद प्रयागराज विकास प्राधिकरण (PDA) अब अन्य 37 दंगाइयों की भी फाइल खंगाल रहा है। जिनकी लिस्ट प्रशासन ने तीन दिन पहले ही प्राधिकरण को सौंप दी थी।

बताया जा रहा है हिंसा में शामिल इन 37 नामों में से किसी के भी मकान में अनियमितता पाई गई तो प्रशासन सख्त एक्शन लेगा। वहीं एक बार फिर बुलडोजर चलने की भनक लगते ही अटाला इलाके में कई दुकानदार जिन्हें आशंका है कि उनके दुकान का भी कुछ हिस्सा अवैध है वो खाली करते नजर आए। अटाला के मजीदी इंटर कॉलेज से सटे कई दुकान सोमवार को अपने सामान हटाते नजर आए।

लिस्ट-1

बता दें कि जब से जावेद पम्प के मकान पर हुई कार्रवाई के खिलाफ दाखिल याचिका को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने खारिज कर दिया है तब से हिंसा और पत्थरबाजी के मामले में शामिल सभी 85 आरोपितों पर कार्रवाई की तलवार लटक रही है और इलाके में बुलडोजर चलने की चर्चा एक बार फिर शुरू हो गई है।

लिस्ट-2

वहीं प्रयागराज के एसएसपी अजय कुमार ने बताया, “PDA को दो-तीन दिन पहले उन 37 लोगों के नामों की सूची मिली है जो कि अटाला और करेली क्षेत्र में पथराव की घटना में शामिल थे। प्राधिकरण के अधिकारी इन 37 आरोपितों के पते ठिकानों की तलाश कर रहे हैं, उनकी फाइल खंगाली जा रही है। हालाँकि, इलाके में ज्यादातर लोग पथराव और हिंसा की घटना के बाद मकान पर ताला लगाकर कहीं चले गए हैं, जिससे इन आरोपितों के मकान आदि का पता ठिकाना तलाशने और पूछताछ करने में मुश्किल आ रही है।”

अजय कुमार ने इस पूरे मामले में जानकारी देते हुए आगे बताया, “मुश्किलों के बावजूद प्राधिकरण के अधिकारी आरोपितों का पता लगाने के लिए रात में भी गली मोहल्लों में घूम रहे हैं। आरोपितों के मकानों की पहचान होने पर यह देखा जाएगा कि क्या उन मकानों का नक्शा पीडीए से पास है या नहीं, यदि नक्शा पास नहीं होगा तो कानून के मुताबिक उनपर कार्रवाई की जाएगी।”

बता दें कि प्रशासन की सकती के बाद PDA ने भी इन सभी 37 आरोपितों की संपत्ति का व्यौरा जुटाना शुरू कर दिया है। सभी के घरों और दुकानों का सर्वेक्षण किया जा रहा है।

गौरतलब है कि रविवार को जिला प्रशासन और पीडीए ने मिलकर प्रयागराज हिंसा के मास्टरमाइंड जावेद मोहम्मद उर्फ़ जावेद पम्प का दो मंजिला मकान दो जेसीबी और एक पोकलैंड से ध्वस्त कर दिया था। करीब 5 घंटे चली कार्रवाई के दौरान करेली इलाके में भारी फाॅर्स तैनात रही। वहीं इस मामले में किसी ने भी पुलिस या प्रशासन के खिलाफ कोई नारेबाजी या दोबारा पत्थरबाजी की हिमाकत नहीं की।

बता दें कि प्रयागराज हिंसा और पत्थरबाजी के मामले में कुल 92 लोग अब तक हिरासत में लिए गए हैं। जिनमें से 7 नाबालिग बच्चे हैं। जिन्हें सुधार गृह भेज दिया गया है। वहीं यूपी पुलिस के मुताबिक रविवार को हुई हिंसा और विरोध प्रदर्शन के मामले में अब तक पूरे राज्य भर में 333 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

AG के पास पहुँचा TMC वाला साकेत गोखले, हमारे खिलाफ चलाना चाहता है अदालत की अवमानना का मामला: हम अपने शब्दों पर अब भी...

ऑपइंडिया की एडिटर नुपूर शर्मा के लेख की शिकायत लेकर टीएमसी नेता साकेत गोखले अटॉर्नी जनरल के पास गए हैं ताकि अदालत की अवमानना का केस चलवा सकें।

‘शौच करने गई थी, मोहम्मद जाकिर हुसैन सर पीछे-पीछे आ गए’: मिडिल स्कूल में शिक्षक ने नाबालिग छात्रा से की छेड़खानी, हुआ गिरफ्तार

बिहार के सुपौल में शिक्षक जाकिर हुसैन ने 7वीं कक्षा की लड़की के साथ छेड़छाड़ किया। परिजनों ने थाने में दर्ज कराया मामला। आरोपित गिरफ्तार।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
203,064FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe