Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाजसरकारी अस्पताल में 50 लोगों को जुटा कर कुरानख्वानी: हिन्दू संगठनों ने ANM रुबीना...

सरकारी अस्पताल में 50 लोगों को जुटा कर कुरानख्वानी: हिन्दू संगठनों ने ANM रुबीना खान के खिलाफ की कार्रवाई की माँग, क़ुरान की तिलावत के लिए हाफिज को बुलाया था

रुबीना खान की हरकत का स्वास्थ्य विभाग ने भी संज्ञान लिया और एएनएम को नोटिस जारी किया है। वहीं पोलायकलां ब्लॉक के मेडिकल आफिसर ने रुबीना और हाफिज के खिलाफ पुलिस में तहरीर दी।

मध्य प्रदेश के शाजापुर जिले में एक सरकारी उप स्वास्थ्य केंद्र के अंदर कुरानख्वानी का आयोजन किए जाने का मामला सामने आया है। इस दौरान बिल्डिंग के अंदर मुस्लिम समुदाय के लगभग 50 लोगों ने क़ुरान की तिलावत की जिसमें महिलाएँ भी शामिल रहीं। हिन्दू संगठन के सदस्यों ने इसका विरोध किया और कार्रवाई की माँग की। पुलिस ने कार्यक्रम का आयोजन करवाने वाली एएनएम रुबीना खान और तिलावत करने वाले हाफिज मोहम्मद अफ़ज़ल के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है। घटना बुधवार (22 नवंबर 2023) की है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, यह मामला शाजापुर के खेड़ी मंडल खा गाँव स्थित प्राथमिक स्वस्थ्य उपकेंद्र का है। यहाँ पर रुबीना खान बतौर एएनएम तैनात हैं। बुधवार (22 नवंबर, 2023) को उन्होंने स्वास्थ्य उपकेंद्र में ही कुरानख्वानी का आयोजन कर डाला। इस आयोजन में शामिल होने के लिए महिलाओं सहित लगभग 50 लोग शामिल हुए थे। कुरान की तिलावत करने के लिए खासतौर पर हाफिज मोहम्मद अज़मल को बुलाया गया था। काफी देर चले इस कार्यक्रम की बाकायदा तस्वीरें भी खिंचवाई गईं और वीडियो भी बनाए गए।

एएनएम ने अपने इस आयोजन के वीडियो और फोटो सोशल मीडिया के विभिन्न ग्रुपों में शेयर कर दिए। इन ग्रुपों में उनका आधिकारिक ग्रुप भी शामिल था। कुछ ही देर में ये फोटो और वीडियो वायरल हो गए। मामला हिन्दू संगठनों की नजर में भी आ गया तो वो कार्रवाई की माँग करने लगे। इस बीच मामले को बढ़ता देख एएनएम रुबीना ने वो फोटो और वीडियो कई जगहों से डिलीट कर दिए। हालाँकि, तब तक ये तस्वीरें वायरल हो चुकीं थीं। ‘हिन्दू जागरण मंच’ के पदाधिकारियों ने पुलिस और स्वास्थ्य विभाग से रुबीना और हाफ़िज़ पर कार्रवाई की माँग कर डाली।

रुबीना खान की हरकत का स्वास्थ्य विभाग ने भी संज्ञान लिया और एएनएम को नोटिस जारी किया है। वहीं पोलायकलां ब्लॉक के मेडिकल आफिसर ने रुबीना और हाफिज के खिलाफ पुलिस में तहरीर दी। इस तहरीर पर पुलिस ने रुबीना और हाफिज मोहम्मद अजमल के खिलाफ IPC की धारा 188 व 34 के तहत FIR दर्ज कर ली है। जिलाधिकारी किशोर कन्याल ने इस मामले में सीएमएचओ डा.राजू निदारिया के साथ मिल कर जाँच के लिए एक टीम बनाई। पोलायकलां के ब्लाक मेडिकल आफिसर डा. महेंद्र परमार ने गाँव को मुस्लिम बहुल बताया है।

यह कुरानख्वानी नए कमरे में सामान शिफ्ट करने से पहले की गई है। दावा किया जा रहा है कि इस दौरान गाँव के सरपंच वहीद भी मौजूद थे। डा. महेंद्र परमार के मुताबिक, कुरानख्वानी उप स्वास्थ्य केंद्र के कक्ष के बजाय केंद्र परिसर में ही बने एक दूसरे कमरे में हुई थी। फिलहाल इस उपस्वास्थ्य केंद्र का लोकार्पण हो चुका है और यहाँ आम जनता का इलाज हो रहा है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हिंदुओं का गला रेता, महिलाओं को नंगा कर रेप: जो ‘मालाबर स्टेट’ माँग रहे मुस्लिम संगठन वहीं हुआ मोपला नरसंहार, हमें ‘किसान विद्रोह’ पढ़ाकर...

जैसे मोपला में हिंदुओं के नरसंहार पर गाँधी चुप थे, वैसे ही आज 'मालाबार स्टेट' पर कॉन्ग्रेसी और वामपंथी खामोश हैं।

जूलियन असांजे इज फ्री… विकिलीक्स के फाउंडर को 175 साल की होती जेल पर 5 साल में ही छूटे: जानिए कैसे अमेरिका को हिलाया,...

विकिलीक्स फाउंडर जूलियन असांजे ने अमेरिका के साथ एक डील कर ली है, इसके बाद उन्हें इंग्लैंड की एक जेल से छोड़ दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -