Wednesday, August 4, 2021
Homeदेश-समाजअलवर: मेम चंद को बनाया मोहम्मद अनस, फिर दी जान से मारने की धमकी-...

अलवर: मेम चंद को बनाया मोहम्मद अनस, फिर दी जान से मारने की धमकी- दलित परिवार पहुँचा कोर्ट

मेम चंद ने आरोप लगाया कि 15 अन्य लोग उनका जबरन धर्म परिवर्तन कराने के लिए उन्हें हरियाणा ले गए। वहाँ उनका खतना भी कराया गया। उसके बाद रहने के लिए जमीन दी। यह कहते हुए जबरन धर्म परिवर्तन कराया कि इस धर्म (हिंदू धर्म) में कुछ नहीं है। इस्लाम में बहुत कुछ है। मेम चंद से कहा गया कि इस्लाम में तुम्हारी इज्जत होगी।

राजस्थान के अलवर जिले में एक दलित व्यक्ति के कथित जबरन धर्म परिवर्तन का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। मेम चंद नाम के दलित व्यक्ति को कुछ अज्ञात लोगों द्वारा कथित रूप से मुस्लिम बनने के लिए मजबूर किया गया था। इतना ही नहीं, मेम चंद की पत्नी से भी जबरन इस्लाम कबूल करवाया गया था।

मेम चंद ने अब अलवर की एक अदालत से हिंदू धर्म में वापस लाने की माँग की है। अदालत ने पुलिस को पीड़ित को हर संभव मदद मुहैया कराने का निर्देश दिया है। समाचार चैनल ‘टाइम्स नाउ’ के पास उपलब्ध डिटेल्स के अनुसार, मेम चंद राजस्थान के अलवर जिले में बड़ौदा मेव क्षेत्र के मूल निवासी थे। इस्लाम में उनके जबरन धर्म परिवर्तन के बाद, मेम चंद को एक नया नाम और एक नया पता दिया गया।

धर्मांतरण के बाद मेम चंद के नए नाम मोहम्मद अनस रखा गया है। मेम चंद उर्फ मोहम्मद अनस ने ‘टाइम्स नाउ’ को बताया कि उनके गाँव में हरियाणा के फिरोजपुर झिरका के इब्राहिम बास गाँव के मेव समाज के लोगों की रिश्तेदारी है। वे लोग अक्‍सर यहाँ आते-जाते रहते हैं। 

साभार: Timesnow

मेम चंद ने आरोप लगाया कि 15 अन्य लोग उनका जबरन धर्म परिवर्तन कराने के लिए उन्हें हरियाणा ले गए। वहाँ उनका खतना भी कराया गया। उसके बाद रहने के लिए जमीन दी। यह कहते हुए जबरन धर्म परिवर्तन कराया कि इस धर्म (हिंदू धर्म) में कुछ नहीं है। इस्लाम में बहुत कुछ है। मेम चंद से कहा गया कि इस्लाम में तुम्हारी इज्जत होगी। उसके बाद आरोपित उन्हें जमात में शामिल करने के लिए जम्मू-कश्मीर लेकर गए। वहाँ उनके बच्चों को मारने की धमकी दी कि कुछ करोगे तो तुम्हारी जान को खतरा हो सकता है।

साभार: Timesnow

अनस ने कोर्ट के समक्ष दिए हलफनामे में आरोप लगाया है, “आरोपितों ने मुझे इब्राहिम बास गाँव बुलाया और वहाँ पर मुझसे कहा कि यदि मैं हिंदू धर्म को त्याग कर मुस्लिम धर्म अपनाऊँ तो यह लोग मुझे रहने हेतु जमीन देंगे। जिस पर मैंने मना कर दिया तो इन लोगों ने मेरी पत्नी बच्चों को बंधक बना लिया और धमकी दी कि ढेड, चमार, चुहड़ो यदि तुम लोगों ने अपना धर्म परिवर्तन नहीं किया को ये लोग मुझे व मेरे परिवार को जान से मार देगा तथा यह भी कहा कि हिंदू धर्म के तुम लोग नीची जाति के हो। हिंदू धर्म में तुम्हारी कोई इज्जत नहींहै। जिस कारण मैं भयभीत हो गया और आरोपितों के कहे अनुसार मैंने दिनांक 29-01-2018 को अपना धर्म परिवर्तन कर लिया।” 

साभार: Timesnow

उन्होंने आरोप लगाया कि आरोपित धर्म परिवर्तन कराने के बाद उनकी बीवी पर गंदी नजर रखने लगे। उससे जबरन संबंध बनाने के लिये दबाव बनाया गया। इसके बाद वे जैसे-तैसे करके मौका देखकर जम्मू-कश्मीर से वापस भाग निकले। एडवोकेट बनवारीलाल ने बताया कि इस संबंध में परिवाद आया था। अदालत से आदेश हुए हैं कि जिन लोगों ने उन पर अत्याचार किया है उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अगर बायोलॉजिकल पुरुषों को महिला खेलों में खेलने पर कुछ कहा तो ब्लॉक कर देंगे: BBC ने लोगों को दी खुलेआम धमकी

बीबीसी के आर्टिकल के बाद लोग सवाल उठाने लगे हैं कि जब लॉरेल पैदा आदमी के तौर पर हुए और बाद में महिला बने, तो यह बराबरी का मुकाबला कैसे हुआ।

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,995FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe