Monday, June 27, 2022
Homeदेश-समाजफायरिंग करते हुए भाग रहा था 4 साल की बच्ची से रेप करने वाला...

फायरिंग करते हुए भाग रहा था 4 साल की बच्ची से रेप करने वाला अपराधी, अब ज़िंदगी भर लँगड़ाते हुए चलेगा: UP पुलिस का कमाल

"UP पुलिस की गोली के असहनीय दर्द से कराहते इस दानव ने अपने परिचित परिवार की बालिका से गुनाह किया। नतीजा सामने है। डाक्टरों के मुताबिक, जान तो बच गई पर ये ताउम्र घिसट-घिसट कर ही चल पाएगा। बताते हैं, भागते वक्त फायरिंग कर रहा था, लिहाजा पुलिस को भी मजबूरन गोली दागनी पड़ी।"

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सूचना सलाहकार एवं भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता शलभ मणि त्रिपाठी ने एक वीडियो ट्विटर पर शेयर किया, जो चर्चा का विषय बना हुआ है। उसमें एक अपराधी लँगड़ा कर चलता हुआ दिख रहा है और उसके पाँव में पट्टी बँधी हुई है। पुलिस उसे सहारा देकर चला रही है। दरअसल, ये घटना मेरठ के सिंभावली थाना क्षेत्र की है और उक्त अपराधी पर बलात्कार का आरोप है।

उसने एक 4 वर्षीय नाबालिग बच्ची का अपहरण कर के उसके साथ दरिंदगी की थी। पुलिस की गश्त के दौरान उससे मुठभेड़ हुई। शलभ मणि त्रिपाठी ने बताया, “UP पुलिस की गोली के असहनीय दर्द से कराहते इस दानव ने अपने परिचित परिवार की बालिका से गुनाह किया। नतीजा सामने है। डाक्टरों के मुताबिक, जान तो बच गई पर ये ताउम्र घिसट-घिसट कर ही चल पाएगा। बताते हैं, भागते वक्त फायरिंग कर रहा था, लिहाजा पुलिस को भी मजबूरन गोली दागनी पड़ी।”

बता दें कि एक स्थानीय किसान की 2 पुत्रियाँ ट्यूशन पढ़ कर आ रही थीं, लेकिन रास्ते में उसकी 4 वर्षीय पुत्री का एक बाइक सवार ने अपहरण कर लिया। बाद में बच्ची कोतवाली किठौर क्षेत्र अंतर्गत गाँव महलवाला के जंगल में बदहवास अवस्था में पड़ी हुई मिली थी। सिंभावली और किठौर थानों की पुलिस ने बच्ची को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया, जहाँ रेप की पुष्टि हुई। ग्रामीणों के आक्रोश के बाद पुलिस ने आश्वासन दिया था कि 24 घंटे में आरोपित को धर-दबोचा जाएगा।

शनिवार (फरवरी 20, 2021) को गुप्त सूचना के आधार पर यूपी पुलिस ने मध्य गंग नहर पटरी पर वाहन चेकिंग शुरू की, लेकिन बाइक पर सवाल अपराधी ने रुकने की बजाए फायरिंग शुरू कर दी और भागना की कोशिश की। पुलिस की जवाबी गोलीबारी में उसके पैर में गोली लगी और वो घायल हो गया। अनुज कुमार नामक ये अपराधी किला परीक्षितगढ़ स्थित गोविंदपुरी का निवासी है। उससे पूछताछ जारी है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘लगातार मिल रही धमकियाँ, हमें और हमारे समर्थकों को जान का खतरा’: शिंदे गुट पहुँचा सुप्रीम कोर्ट, बोले आदित्य ठाकरे – हम शरीफ क्या...

एकनाथ शिंदे व उनके समर्थक नेताओं ने उस नोटिस के विरुद्ध कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है जिसमें 16 बागी विधायकों को अयोग्य ठहराए जाने की बात है।

YRF की ‘शमशेरा’ में बड़ा सा त्रिपुण्ड तिलक वाला गुंडा, देश का गद्दार: लगातार फ्लॉप के बावजूद नहीं सुधर रहा बॉलीवुड, फिर हिन्दूफ़ोबिया

लगातार फ्लॉप फिल्मों के बावजूद बॉलीवुड नहीं सुधर रहा है। एक बार फिर से त्रिपुण्ड वाले 'हिन्दू विलेन' ('शमशेरा' में संजय दत्त) को लाया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
199,611FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe