Monday, May 20, 2024
Homeदेश-समाजरिया का ड्रग्स कनेक्शन छोटा नहीं, दुबई और आतंकी समूहों से जुड़े हैं तार:...

रिया का ड्रग्स कनेक्शन छोटा नहीं, दुबई और आतंकी समूहों से जुड़े हैं तार: NCB प्रमुख राकेश अस्थाना

“रिया का मामला कोई छोटा नहीं है। इसके जरिए एक व्यवस्थित रूप से चल रहे रैकेट का खुलासा हुआ है, जिसके तार दुबई और आतंकी संगठनों से जुड़े हुए हैं। रेव पार्टियों के लिए अवैध ड्रग्स खरीदी जाती हैं। उससे होने वाली कमाई का इस्तेमाल आतंक फैलाने के लिए किया जाता है।"

बॉलीवुड अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) को जाँच में रिया चक्रवर्ती के अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ड्रग्स कनेक्शन के सबूत मिले हैं। आउटलुक मैगजीन को दिए इंटरव्यू में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) प्रमुख राकेश अस्थाना ने कई अहम खुलासे किए हैं। उन्होंने कहा कि इस मामले में बड़े ड्रग्स रैकेट का पता चला है, जिसके तार दुबई और आतंकी समूहों से अंतरराष्ट्रीय स्तर तक जुड़े हुए हैं।

एनसीबी प्रमुख राकेश अस्थाना ने मैगजीन को दिए इंटरव्यू में कहा, “रिया का मामला कोई छोटा नहीं है। इसके जरिए एक व्यवस्थित रूप से चल रहे रैकेट का खुलासा हुआ है, जिसके तार दुबई और आतंकी संगठनों से जुड़े हुए हैं। रेव पार्टियों के लिए अवैध ड्रग्स खरीदी जाती हैं। उससे होने वाली कमाई का इस्तेमाल आतंक फैलाने के लिए किया जाता है। क्यूरेटेड मरिजुआना से बनाई गई एक किलोग्राम ‘बड’ की कीमत आठ लाख रुपए है। रिया जैसे लोग युवाओं के लिए रोल मॉडल होते हैं, ऐसे में उन्हें माफ नहीं किया जा सकता है। हमें लोगों को ड्रग्स का इस्तेमाल रोकने के लिए एक उदाहरण पेश करना होगा।”

उन्होंने कहा कि ड्रग्स बनाने वाले देश में ड्रग्स की तस्करी और इस्तेमाल को बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। राकेश अस्थाना ने इंटरव्यू में कहा कि रिया चक्रवर्ती का ड्रग्स सिंडिकेट छोटा नहीं है। उन्होंने बताया कि इस मामले से एक व्यवस्थित ड्रग्स रैकेट का खुलासा हुआ है, जिसका दुबई और आतंकी समूहों की तरह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर संबंध हैं। ड्रग्स रेव पार्टी के लिए लाया जाता था और इस पैसे का इस्तेमाल नार्को-टेरर के लिए किया जाता है।

राकेश अस्थाना ने इंटरव्यू के दौरान बताया कि दुनिया की 95 फीसदी हेरोइन अफगानिस्तान और म्यांमार के खेतों से निकलती है। भारत की बड़ी जनसंख्या के कारण इसका बाजार भी काफी बड़ा है। ऐसे में ड्रग का अवैध कारोबार करने वाले जमीन और समुद्री दोनों रास्तों का इस्तेमाल कर रहे हैं। 

इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हमारे कुछ पड़ोसी देश, ड्रग माफियाओं पर सख्त कार्रवाई नहीं करते हैं। इसके अलावा म्यांमार में विद्रोही राज्य शान और काचीन में हेरोइन और याबा गोलियों का निर्माण बड़े पैमाने पर होता है, जिनकी सीमाएँ चीन से मिलती हैं।

इसके अलावा अवैध ड्रग्स बनाने के लिए रसायनों की तस्करी चीन और भारत से की जाती है, जो बाद में फिर से ड्रग्स के रूप में भारत पहुँच जाते हैं। इसी तरह कनाडा और अमेरिका से भेजी गई कोकीन ब्राजील और दुबई होते हुए भारत के पश्चिमी तट पर पहुँच जाती है।

गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जाँच शुरू होने के बाद ड्रग्स का मामला सामने आया था। कथित तौर पर रिया ने पूछताछ में एनसीबी को 25 बॉलीवुड सेलेब्स के नाम बताए हैं, जो ड्रग्स का इस्तेमाल करते हैं या तस्करी करते हैं। एनसीबी की इसकी जाँच कर रही है। इसी हफ्ते अभिनेत्री श्रद्धा कपूर और सारा अली खान को समन भेजने की बात भी कही जा रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

भारत में 1300 आइलैंड्स, नए सिंगापुर बनाने की तरफ बढ़ रहा देश… NDTV से इंटरव्यू में बोले PM मोदी – जमीन से जुड़ कर...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आँकड़े गिनाते हुए जिक्र किया कि 2014 के पहले कुछ सौ स्टार्टअप्स थे, आज सवा लाख स्टार्टअप्स हैं, 100 यूनिकॉर्न्स हैं। उन्होंने PLFS के डेटा का जिक्र करते हुए कहा कि बेरोजगारी आधी हो गई है, 6-7 साल में 6 करोड़ नई नौकरियाँ सृजित हुई हैं।

कॉन्ग्रेस कार्यकर्ताओं ने अपने ही अध्यक्ष के चेहरे पर पोती स्याही, लिख दिया ‘TMC का एजेंट’: अधीर रंजन चौधरी को फटकार लगाने के बाद...

पश्चिम बंगाल में कॉन्ग्रेस का गठबंधन ममता बनर्जी के धुर विरोधी वामदलों से है। केरल में कॉन्ग्रेस पार्टी इन्हीं वामदलों के साथ लड़ रही है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -