Wednesday, August 4, 2021
Homeदेश-समाजरिंकू शर्मा हमले में नया वीडियो: हाथ में साफ दिख रहा चाकू, The Print...

रिंकू शर्मा हमले में नया वीडियो: हाथ में साफ दिख रहा चाकू, The Print का झूठ बेनकाब – 4 और हुए गिरफ्तार

रिंकू शर्मा हत्या मामले में नया वीडियो वायरल। इसमें एक आरोपित रिंकू शर्मा के घर के बाहर हाथ में चाकू लिए हमला करता दिख रहा है। The Print और वामपंथी मीडिया के झूठ की खुली पोल।

दिल्ली के मंगोलपुरी में परिवार के सामने ही रिंकू शर्मा की बेरहम हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने इस मामले में 5 लोगों को गिरफ्तार किया था। वहीं अब 4 अन्य आरोपितों को दबोचा गया है। इस तरह अब 9 आरोपित पुलिस के शिकंजे में आ गए हैं।

दिल्ली पुलिस का क्राइम ब्रांच गवाहों और CCTV फुटेज के आधार पर आरोपितों की पहचान कर के उनके खिलाफ कार्रवाई कर रहा है। मंगोलपुरी निवासी 40 साल के दीन मोहम्मद उर्फ सकरुद्दीन पुत्र सलाउद्दीन, 22 साल के दिलशान उर्फ आफताब पुत्र दीन मोहम्मद, 21 साल के फैयाज उर्फ सदरी पुत्र मोहम्मद कमरे आलम और 21 साल के ही फैजान उर्फ निराले पुत्र कमरे आलम – ये ताज़ा गिरफ्तार किए गए आरोपित हैं।

फुटेज में ये चारो रिंकू शर्मा और उसके परिवार पर हमला करते हुए दिख रहे हैं। ये सभी उन्हें घेर कर लाठी-डंडों से वार करते दिख रहे हैं। वहीं आरोपितों के हाथ में चाक़ू भी देखा जा सकता है। सोशल मीडिया पर भी वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें एक आरोपित रिंकू शर्मा के घर के बाहर हाथ में चाकू लिए हमला करता दिख रहा है। इसका मतलब है कि वो इन हथियारों से लैस होकर ही वहाँ पहुँचे थे।

दशहरा पर राम मंदिर पार्क में विवाद और विहिप की रैली में राम मंदिर के लिए चंदा इकट्ठा करने को परिजनों ने हत्या की वजह बताया था। वहीं शेखर गुप्ता के ‘द प्रिंट’ ने भी इस मामले में चाकू वाला प्रपंच फैलाया था।

‘द प्रिंट’ के लेख में बताया गया था कि रिंकू की हत्या जिस चाकू से हुई, वो चाकू वो खुद लेकर आया था और उसी ने लड़ाई शुरू की थी। इतना ही नहीं, इस रिपोर्ट में आरोपित नसरुद्दीन के परिजनों का हवाला देकर कहा गया था कि रिंकू ने उस दिन शराब भी पी रखी थी और विवाद तब शुरू हुआ, जब वह जाहिद को जबरदस्ती शराब पिलाने लगा। ऑपइंडिया की ग्राउंड रिपोर्ट में भी ये बात झूठ निकली थी।

रिंकू के भाई मन्नू ने कहा था कि ये सब पूरी तरह फर्जी बातें हैं। रिंकू शर्मा ने न तो शराब पी थी, न पिलाई थी और न ही उनका जाहिद (आरोपितों में से एक) से झगड़ा था। जाहिद किसी और के साथ पार्टी में आया था और उसका झगड़ा भी किसी और से था। रिंकू शर्मा से कोई बात नहीं हुई थी। उन्होंने बताया कि दूसरे पक्ष के सब लोग पहले लाठी डंडे लेकर घर में आए थे और उन्होंने ही गेट खोला था और रिंकू ने जब बचाव के लिए सिलिंडर उठाया तो तस्वीर वायरल कर दी गई।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राहुल गाँधी ने POCSO एक्ट का किया उल्लंघन, NCPCR ने ट्वीट हटाने के दिए निर्देश: दिल्ली की पीड़िता के माता-पिता की फोटो शेयर की...

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने राहुल गाँधी के ट्वीट पर संज्ञान लिया है और ट्विटर से इसके खिलाफ कार्रवाई करने की माँग की है।

‘धर्म में मेरा भरोसा, कर्म के अनुसार चाहता हूँ परिणाम’: कोरोना से लेकर जनसंख्या नियंत्रण तक, सब पर बोले CM योगी

सपा-बसपा को समाजिक सौहार्द्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनका इतिहास ही सामाजिक द्वेष फैलाने का रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,975FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe