Saturday, October 23, 2021
Homeदेश-समाजस्कॉर्पियो खड़ा कर चला गया... धमकी भरा पत्र रखना भूल गया... वापस आया और...

स्कॉर्पियो खड़ा कर चला गया… धमकी भरा पत्र रखना भूल गया… वापस आया और फिर रखा: सचिन वाजे को NIA ने ऐसे धरा

"वाजे स्कॉर्पियो के अंदर धमकी पत्र रखना भूल गया था। अहसास होने पर वह दोबारा वापस रखने आया। CCTV में सब रिकॉर्ड... लेकिन सबूत पुख्ता करने के लिए वाजे को कुर्ता पहना कर सीन रीक्रिएट करने के लिए वहीं दोबारा लाया गया।"

एंटीलिया बम कांड में राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) की जाँच में अब सामने आया है कि निलंबित सचिन वाजे ने खुद 25 फरवरी को उद्योगपति मुकेश अंबानी के आवास एंटीलिया के पास पार्क किए गए विस्फोटक से भरे स्कॉर्पियो में धमकी भरा पत्र रखा था। एनआईए ने खुलासा किया कि सचिन वाजे पहले स्कॉर्पियो के अंदर धमकी भरा पत्र रखना भूल गया था और बाद में इसे रखने के लिए वापस आया था।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, जाँच के दौरान, एनआईए अधिकारियों ने पाया कि वाजे ने एंटीलिया के पास बम से लदे वाहन को पार्क करने से लेकर धमकी भरे पत्र को कार के अंदर रखने तक की पूरी कवायद को खुद से कॉर्डिनेट किया। एनआईए अधिकारियों ने निष्कर्ष पर पहुँचने के लिए मुलुंड टोल कलेक्शन प्वाइंट से सीसीटीवी फुटेज प्राप्त किया।

25 फरवरी को, मुंबई पुलिस ने बम से लदी स्कॉर्पियो से मुकेश और नीता अंबानी को संबोधित एक पत्र बरामद किया था, जिसमें दावा किया गया था कि यह विस्फोटक सिर्फ एक ’ट्रेलर’ था और पूरे परिवार की हत्या करने की अधिक तैयारी के साथ बाद में वापस आने की धमकी दी थी।

कथित तौर पर, क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट (CIU) के कार्यालय में वाजे के तहत काम करने वाले एक कॉन्स्टेबल विनायक शिंदे 25 फरवरी को एंटीलिया के पास इनोवा में विस्फोटक से लदी स्कॉर्पियो को ले गए थे। बाद में स्कार्पियो ड्राइवर ने इनोवा छोड़ दी थी।

भूल गया था… धमकी भरा पत्र रखने वापस आया वाजे

बाद में, दो व्यक्तियों को एक ही इनोवा में देखा गया, जो कि मुलुंड टोल से सुबह करीब 3.27 पर ठाणे में प्रवेश किया। सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि सुबह 4.03 बजे के आसपास इनोवा को फिर से मुंबई में प्रवेश करते देखा गया, लेकिन इस बार एक अलग नंबर प्लेट के साथ। मुंबई पुलिस मुख्यालय में उनके CIU कार्यालय की यात्रा के दौरान वाजे द्वारा एक ही नंबर प्लेट का एक महीने से अधिक समय तक उपयोग किया गया था।

जाँच से पता चला है कि वाजे शुरू में एसयूवी के अंदर धमकी भरा पत्र रखना भूल गया था। वह इसे रखने के लिए दोबारा अपराध स्थल पर लौटा था। यह पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया। एक कैमरा टोल के पास और दूसरा सीसीटीवी कैमरा एंटीलिया के पास लगा था। फ्री प्रेस जर्नल के अनुसार एक अधिकारी ने कहा:

“हमारी जाँच से पता चला है कि वाजे एसयूवी के अंदर धमकी पत्र रखना भूल गया था और इस बात का एहसास होने पर वह टाइप किए गए धमकी पत्र को वापस रखने के लिए गया। एसयूवी के पास की हरकत को पास की दुकान के सीसीटीवी कैमरे ने कैद कर लिया। वाजे को बाद में कुर्ता पहना कर जाँच दल द्वारा सीन को रीक्रिएट करने के लिए उसी स्थान पर ले जाया गया था।”

एनआईए को पता चला है कि वाजे ने एक अन्य आरोपित विनायक शिंदे को 50,000 रुपए की सहायता राशि देने का वादा किया था। एनआईए अधिकारियों ने बताया कि इनोवा के अंदर मौजूद वाजे ने सफेद रंग का कुर्ता पहना हुआ था। मुकेश अंबानी के आवास के पास बम से लदे वाहन को पार्क करते हुए, वह कम से कम 10 मिनट तक वहाँ खड़ा रहा। जिसकी तस्वीर सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। सुबह 5.18 बजे फिर से इनोवा को वाजे को घर छोड़ने के लिए मुंबई से ठाणे की ओर जाते हुए देखा गया।

इससे पहले एंटीलिया बम मामले में सीसीटीवी फुटेज हाथ लगी थी। इसमें सचिन एक पीपीई किट या लूज फिटिंग कुर्ता जैसी चीज पहने नजर आ रहे थे, जिसे कथित तौर पर बाद में जला दिया गया था। सचिन वाजे के ही एक स्टाफ ने इस बात की पुष्टि की थी कि घटनास्थल पर पीपीई किट में नजर आने वाला शख्स कोई और नहीं बल्कि खुद सचिन वाजे ही है। इसलिए NIA ने इन्हीं बिंदुओं पर वाजे को क्राइम सीन पर ले जाकर उसे ओवर साइज कुर्ता पहनवाया, मुँह पर मास्क और सिर पर रुमाल बाँधा ताकि पूरा सीन रीक्रिएट हो सके।

पिछले हफ्ते NIA ने सचिन लाजे के लैपटॉप, कुछ मोबाइल फोन, आईपैड और दस्तावेज कब्जे में लिए थे। गुरुवार को वाजे के घर और कार्यालय से कई कारें बरामद हुईं थीं, जिसके बाद वाजे पर दोबारा शक गहरा गया। NIA ने इसी केस में एक मर्सिडीज कार भी बरामद की थी। कार से 5 लाख रुपए की नकद राशि, कुछ कपड़े और एक कैश काउंटिंग मशीन बरामद हुई थी। इसी मर्सिडीज से वो नंबर प्लेट भी मिली, जो एंटीलिया के बाहर खड़ी स्कॉर्पियों पर थी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

इंडोनेशिया के पहले राष्ट्रपति की बेटी सुकमावती इस्लाम छोड़ रहीं, अपनाएँगी हिंदू धर्म: सुधी वदानी रस्म की होगी प्रक्रिया

इंडोनेशिया के पहले राष्ट्रपति सुकर्णो की बेटी ने इस्लाम से वापस हिंदू धर्म अपनाने का फैसला किया है। सुधी वदानी नाम की रस्म होगी।

सोनिया गाँधी साथ पाकिस्तानी अरूसा आलम, पूर्व PM मनमोहन भी लपेटे में: कैप्टन अमरिंदर ने पंजाब के बहाने पूरे कॉन्ग्रेस को घेरा

अमरिंदर सिंह के मीडिया सलाहकार ने एक तस्वीर पोस्ट की, जिसमें कॉन्ग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी और अरूसा आलम को हाथ मिलाते हुए दिखाया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
130,940FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe