Monday, October 25, 2021
Homeदेश-समाजशरजील उस्मानी पर यूपी में भी FIR, एल्गार परिषद में कहा था- हिंदू समाज...

शरजील उस्मानी पर यूपी में भी FIR, एल्गार परिषद में कहा था- हिंदू समाज समाज सड़ चुका है

"वह इस समय महाराष्ट्र में नहीं है लेकिन हम उसे गिरफ्तार करेंगे, चाहे वह बिहार, उत्तर प्रदेश, गुजरात या किसी भी राज्य में हो।" वही प्रदेश में विपक्षी दल भाजपा ने भी उस्मानी के ख़िलाफ़ जल्द से जल्द कार्रवाई की माँग की।

महाराष्ट्र के पुणे में एल्गार परिषद के कार्यक्रम में भड़काऊ भाषण देने वाले शरजील उस्मानी के ख़िलाफ़ लखनऊ के हजरतगंज पुलिस थाने में मुकदमा दर्ज हुआ है। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र शरजील उस्मानी के ख़िलाफ़ लखनऊ के अनुराग सिंह ने मामला दर्ज करवाया है।

अनुराग की शिकायत के आधार पर उस्मानी के ख़िलाफ़ आईपीसी की धारा 124 ए, 153 ए, 153 ए (2), 153 बी (1) (सी), 295 ए, 298, 504, 505 (1) (बी), 505 (2) और आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ है।

इससे पहले पुणे में भी शरजील के खिलाफ भारतीय युवा जनता मोर्चा की शिकायत पर आईपीसी की धारा 153 ए के तहत केस दर्ज हुआ था। महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने कहा था कि पुलिस 30 जनवरी को आयोजित कार्यक्रम के वीडियो की जाँच कर रही है। उसके बयान के लिए उस पर एफआईआर दर्ज की गई है। 

उन्होंने कहा था, “वह इस समय महाराष्ट्र में नहीं है लेकिन हम उसे गिरफ्तार करेंगे, चाहे वह बिहार, उत्तर प्रदेश, गुजरात या किसी भी राज्य में हो।” वही प्रदेश में विपक्षी दल भाजपा ने भी उस्मानी के ख़िलाफ़ जल्द से जल्द कार्रवाई की माँग की। साथ ही उस्मानी के ख़िलाफ़ राजद्रोह का मामला चलाने को कहा।

गौरतलब है कि शरजील उस्मानी ने 30 जनवरी को एल्गार परिषद के एक कार्यक्रम में हिंदू समाज के लिए आपत्तिजनक बातें कही थीं। हिंदुओं को ‘मनुवादी’ करार देते हुए उसने इस कार्यक्रम में हिंदू समाज को बुरी तरह सड़ा हुआ बताया था। साथ ही यूपी की योगी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए थे। उसने कहा था योगी सरकार रोजाना एनकाउंटर कर रही हैं और एनकाउंटर में मारे जाने वाले लोग या तो मुस्लिम हैं या फिर दलित।

बता दें कि कार्यक्रम में हिंदुओं के लिए इस्तेमाल की गई ऐसी भाषा के लिए महाराष्ट्र में बीजेपी के अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने बुधवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर उस्मानी की गिरफ्तारी करने में मदद माँगी।

उन्होंने कहा, “शरजील उस्मानी ने 30 जनवरी को पुणे में आयोजित एल्गार परिषद के कार्यक्रम में हिंदुओं की भावनाओं को आहत किया, हम आपसे (योगी आदित्यनाथ) अपील करते हैं कि आप उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने और गिरफ्तार करने का आदेश दें।”

मालूम हो कि ये शरजील उस्मानी पिछले साल दिल्ली दंगों के दौरान अपने एक ट्वीट के चलते चर्चा में आया था, जब इसने खुलेआम दिल्ली पुलिस पर बंदूक तानने वाले शाहरूख का समर्थन किया था। साथ ही कहा था, “मुझे शाहरुख भाई पर गर्व है। वे उस समय समुदाय के लिए लड़े, जब पूरी स्टेट मशीनरी और हिंदुत्व सेना हमारे समुदाय को मारने और लूटने में शामिल थी। वे हमारे हीरो हैं।”

इससे पूर्व उसने देश के ख़िलाफ़ प्रोपगेंडा फैलाने के लिए ट्विटर पर कहा था कि वह दो दोस्तों के साथ मिलकर मुस्लिमों के ख़िलाफ़ हो रहे घृणित अपराधों को सबटाइटल देगा, ताकि वे वीडियो विश्व के कोने-कोने तक जाए और लोग जान पाएँ कि भारत में क्या हो रहा है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

केरल में नॉन-हलाल रेस्तराँ खोलने वाली महिला को बेरहमी से पीटा, दूसरी ब्रांच खोलने के खिलाफ इस्लामवादी दे रहे थे धमकी

ट्विटर यूजर के अनुसार, बदमाशों के खिलाफ आत्मरक्षा में रेस्तराँ कर्मचारियों द्वारा जवाबी कार्रवाई के बाद केरल पुलिस तुशारा की तलाश कर रही है।

असम: CM सरमा ने किनारे किया दीवाली पर पटाखों पर प्रतिबंध का आदेश, कहा – जनभावनाओं के हिसाब से होगा फैसला

असम में दीवाली के मौके पर पटाखों पर पूर्ण प्रतिबंध का ऐलान किया गया था। अब मुख्यमंत्री हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा है कि ये आदेश बदलेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
131,783FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe