Monday, June 24, 2024
Homeदेश-समाज8 अगस्त तक बढ़ाई गई संजय राऊत की कस्टडी, पात्रा चॉल मामले में किए...

8 अगस्त तक बढ़ाई गई संजय राऊत की कस्टडी, पात्रा चॉल मामले में किए गए थे गिरफ्तार: कोर्ट से बोले- ED ने बिना खिड़की वाले कमरे में रखा है

इससे पहले ED ने कहा था कि संजय राऊत और उनका परिवार रियल एस्टेट कंपनी हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड से प्रवीण राऊत को मिले ₹112 करोड़ में से ₹1.06 करोड़ का प्रत्यक्ष लाभार्थी था।

पात्रा चॉल जमीन घोटाले (Patra Chawl Land Scam) में गिरफ्तार किए गए शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राऊत (Shiv Sena MP sanjay Raut) की हिरासत को मुंबई की विशेष न्यायालय ने बढ़ा दिया है। राऊत अब प्रवर्तन निदेशालय (ED) की हिरासत में 8 अगस्त तक रहेंगे।

उधर संजय राऊत ने आरोप लगाया है कि प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारी उन्हें ऐसे कमरे में रख रहे हैं, जिसमें खिड़की भी नहीं है। वहीं, ED का कहना है कि कमरे में एयर कंडीशनर (AC) लगा हुआ है। इसलिए उसमें खिड़की नहीं है।

गुरुवार (4 अगस्त 2022) को कोर्ट में पेशी के दौरान शिवसेना नेता ने कहा कि उन्हें एक ऐसे कमरे में रखा गया है, जिसमें न तो खिड़की है और न ही हवा-रौशनी आने का कोई माध्यम है। इसके बाद कोर्ट ने ED से स्पष्टीकरण माँगा।

वहीं, लोक अभियोजक ने कहा कि कमरे में खिड़की इसलिए नहीं है, क्योंकि इसमें एक एयर कंडीशनर है। इस पर संजय राऊत ने कहा कि उन्हें स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या के कारण एयर कंडीशनर का उपयोग नहीं करना है। इसके बाद एजेंसी ने उन्हें उचित वेंटिलेशन वाले कमरे में रखने का आश्वासन दिया।

ED ने कोर्ट को बताया कि उसे करोड़ों रुपए नकद लेनदेन की जानकारी मिली है, जो पहले के लेनदेन से अलग है। एजेंसी ने संजय राऊत की 10 अगस्त तक हिरासत माँगी। इसके बाद कोर्ट ने संजय राऊत की हिरासत को 8 अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया।

उधर, संजय राऊत की करीबी रहीं और इस मामले की प्रमुख गवाहों में से एक स्वप्ना पाटकर ने कोर्ट का दरवाजा खटखटाया और धमकी का मामला उठाया। पाटकर 2009 से 2014 तक शिवसेना के मुखपत्र सामना के स्तंभकार थीं। पाटकर के वकील रंजीत सांगले से अदालत ने पूछा कि हिरासत में रहते हुए संजय राऊत उन्हें कैसे धमकी दे सकते हैं। इस पर स्वप्ना पाटकर के वकील ने कहा कि संजय राऊत प्रभावशाली व्यक्ति हैं।

स्वप्ना पाटकर के वकील के हस्तक्षेप पर अदालत ने कहा कि यह देखने योग्य नहीं है, क्योंकि संजय राऊत एक राजनीतिक व्यक्ति हैं। अदालत ने वकील से कहा कि उसे खतरे के बारे में अधिक जानकारी की आवश्यकता नहीं है क्योंकि ईडी पहले ही इसका उल्लेख कर चुका है।

इससे पहले ED ने कहा था कि संजय राऊत और उनका परिवार रियल एस्टेट कंपनी हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड से प्रवीण राऊत को मिले ₹112 करोड़ में से ₹1.06 करोड़ का प्रत्यक्ष लाभार्थी था। इसमें से 13.94 लाख रुपए संजय राऊत की पत्नी वर्षा राऊत को अवनी इन्फ्रास्ट्रक्चर में ₹5,625 के निवेश पर रिटर्न के रूप में प्राप्त हुए थे। अवनी इंफ्रा प्रवीण राऊत की पत्नी माधुरी के नाम पर पंजीकृत फर्म है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

चर्च में फायरिंग, यहूदियों के धर्मस्थल को जलाया, पादरी का काटा गला: आतंकी हमले में रूस के 15 पुलिसकर्मियों की मौत, 6 आतंकवादी भी...

रूस में हुए आतंकी हमले में 15 से ज्यादा पुलिसकर्मियों की मौत हो गई, पादरी का सिर कलम कर दिया गया और 25 से ज्यादा घायल बताए जा रहे हैं।

किसानों के आंदोलन से तंग आ गए स्थानीय लोग: शंभू बॉर्डर खुलवाने पहुँची भीड़, अब गीदड़-भभकी दे रहे प्रदर्शनकारी

किसान नेताओं ने अंबाला शहर अनाज मंडी में मीडिया बुलाई, जिसमें साफ शब्दों में कहा कि आंदोलन खराब नहीं होना चाहिए। आंदोलन खराब करने वाला खुद भुगतेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -