Sunday, July 21, 2024
Homeदेश-समाजमुस्लिम युवकों से शादी करना चाहती थीं 2 हिन्दू बहनें, माँ ने मना किया...

मुस्लिम युवकों से शादी करना चाहती थीं 2 हिन्दू बहनें, माँ ने मना किया तो कुएँ में कूद कर ली आत्महत्या

थुवरनकुरिची थाने की पुलिस ने कुएँ से दोनों बहनों के शव निकाले। इस दौरान पता चला कि आत्‍महत्‍या से पहले लडकियों ने अपनी माँ को एक ऑडियो मैसेज भेजा था। वहीं, एक लड़की ने अपने हाथ में अपना नाम लिखा तो दूसरी युवती ने अपने छोटे भाई का मोबाइल नंबर लिखा था।

तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली (Tiruchirapalli) में अलग समुदाय के लड़के के साथ शादी की अनुमति नहीं देने पर दो सगी बहनों ने आत्महत्या कर ली है। दोनों बहनें मुस्लिम समुदाय के दो लड़कों से शादी करना चाहती थीं। दोनों लड़के भी आपस में सगे भाई हैं। हालाँकि, माता-पिता को अलग धर्म में बेटियों की शादी मंजूर नहीं थी।

तिरुचिरापल्ली पुलिस के अनुसार, 21 साल की विद्या और 23 साल की गायत्री का शव वलनाडु गाँव के एक कुएँ में मिला। इसके बाद पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस का कहना है कि वह मामले की हर एंगल से जाँच कर रही है।

विद्या और गायत्री के पिता पिचाई और माँ अखिलंदेश्वरी दिहाड़ी मजदूर हैं। दोनों बहनें कोयंबटूर के पास कांगेयम के एक कपड़ा मिल में काम करती थीं। वहीं पर दो मुस्लिम भाई वहीं काम करते थे। कुछ साल पहले दोनों बहनों की उन दोनों लड़कों से दोस्ती हो गई। यह दोस्ती प्यार में बदल गईं।

दोनों बहनें अपने प्रेमियों से घंटों तक फोन पर बातें करती थीं। माँ ने देखा कि उनकी बेटियाँ फोन पर लंबे समय तक बातें करती हैं। इसके बाद दोनों बहनों की माँ ने उनसे इस बारे में पूछा। पूछताछ में दोनों बहनों ने बताया कि उनकी मील में ही काम करने वाले दो भाइयों से वे प्यार करती हैं।

जब दोनों बहनों ने बताया कि दोनों लड़के दूसरे धर्म के हैं तो माता-पिता शादी के लिए तैयार नहीं हुए। माता-पिता ने दोनों बहनों को इस संबंध में उन्हें खूब समझाया, लेकिन वे नहीं मानीं। कुछ देर बाद दोनों बहनें घर से निकल गईं और काफी देर तक नहीं लौटीं।

इसके बाद गाँव वालों ने कुएँ के पास ही दो मोबाइल फोन देखा। जब वे कुएँ में झाँक कर देखा तो दो लड़कियों की लाश तैर रही थी। इसके बाद गाँव वालों ने परिजनों और पुलिस को सूचित किया। सूचना मिलते ही पुलिस तुरंत मौके पर पहुँच गई।

थुवरनकुरिची थाने की पुलिस ने कुएँ से दोनों बहनों के शव निकाले। इस दौरान पता चला कि आत्‍महत्‍या से पहले लडकियों ने अपनी माँ को एक ऑडियो मैसेज भेजा था। वहीं, एक लड़की ने अपने हाथ में अपना नाम लिखा तो दूसरी युवती ने अपने छोटे भाई का मोबाइल नंबर लिखा था।

पुलिस अधिकारी ने बताया कि प्रारंभिक जाँच से पता चलता है कि दोनों बहनें धार्मिक सीमाओं के पार जाकर प्यार और रिश्तों को लेकर दुविधा में थीं। दोनों बहनें रविवार (4 जून 2023) को अपने पैतृक गाँव में एक मंदिर उत्सव में भाग लेने के लिए घर आई थीं। मंगलवार (6 जून 2023) को यह घटना हो गई।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आरक्षण के खिलाफ बांग्लादेश में धधकी आग में 115 की मौत, प्रदर्शनकारियों को देखते ही गोली मारने के आदेश: वहाँ फँसे भारतीयों को वापस...

बांग्लादेश में उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के भी आदेश दिए गए हैं। वहाँ हिंसा में अब तक 115 लोगों की जान जा चुकी है और 1500+ घायल हैं।

काशी विश्वनाथ मंदिर और महाकालेश्वर मंदिर परिसर के दुकानदारों को लगाना होगा नेम प्लेट: बिहार के बोधगया की दुकानों में खुद ही लगाया बोर्ड,...

उत्तर प्रदेश के बाद मध्य प्रदेश के महाकालेश्वर मंदिर परिसर में स्थित दुकानदारों को अपना नेम प्लेट लगाने का आदेश दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -