Wednesday, May 25, 2022
Homeदेश-समाजप्राचीन शिव मंदिर में अराजक तत्वों ने की शनि देव की मूर्ति खंडित, ग्रामीणों...

प्राचीन शिव मंदिर में अराजक तत्वों ने की शनि देव की मूर्ति खंडित, ग्रामीणों में आक्रोश

ग्रामीणों को जब इसकी सूचना मिली तो वे आक्रोशित हो उठे। पुलिस ने मौके पर पहुॅंच उनका गुस्सा शांत करवाया और कार्रवाई का आश्वासन दिया। मामले की जॉंच के लिए पुलिस टीम गठित कर दी गई है।

उत्तरप्रदेश के बुलंदशहर के वैरा फिरोजपुर गाँव में शनिवार (अक्टूबर 2, 2019) की देर रात प्राचीन शिव मंदिर में स्थापित शनि देव की मूर्ति खंडित कर दी गई। सूचना मिलने के बाद रविवार (नवबंर 3, 2019) की सुबह ग्रामीणों में आक्रोश पनप गया और उन्होंने जमकर हंगामा किया।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार वैरा फिरोजपुर गाँव स्थित प्राथमिक विद्यालय में एक प्राचीन शिव मंदिर है। रविवार की सुबह रमेश नामक एक ग्रामीण सफाई करने गया तो उसे पीपल के वृक्ष के नीचे लगी शनिदेव की मूर्ति खंडित मिली। खंडित मूर्ति के बारे में सूचना मिलते ही भारी तादाद में ग्रामीण मंदिर परिसर में पहुँचे और उन्होंने वहाँ पर हंगामा शुरू कर दिया। इसके बाद मौक़े पर पहुँचे एसडीएस सुभाष सिंह, सीओ मनीष यादव व कोतवाली प्रभारी नरेंद्र कुमार शर्मा से गाँव वालों ने कार्रवाई की माँग की।

ग्रामीणों का आक्रोश शांत करवाने के लिए अधिकारियों ने आरोपितों पर कठोर कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। लेकिन अभी तक घटना को अंजाम देने वाले शख्स के बारे में कुछ पता नहीं चल पाया है। खंडित मूर्ति को एसडीएम, सीओ, कोतवाली प्रभारी व रमेश की उपस्थिति में गंगा में प्रवाहित करवा दिया गया और टीम गठित करके पुलिस द्वारा मामले की जाँच भी की जा रही है।

एसडीएम का इस मामले पर कहना है कि पीपल के वृक्ष के नीचे स्थापित एक-डेढ़ फीट ऊँची शनिदेव की प्रतिमा को किसी शराबी ने खंडित कर दिया। गाँव वालों ने उन्हें बताया कि परिसर में अक्सर लोग शराब पीने आते हैं और खुराफात करते हैं। इसलिए अब इनके विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मामले की जाँच चल रही है।

गौरतलब है कि अभी कुछ दिन पहले भी उत्तरप्रदेश के बिजनौर जनपद के कूकड़ा इस्लामपुर में कुछ शरारती तत्वों द्वारा शिव मंदिर में घुसकर मूर्तियाँ तोड़ने की खबर सामने आई थी। उस समय भी मामले की सूचना मिलने पर ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त हो गया था। जाँच में पता चला था कि शरारती तत्वों ने पहले मंदिर में घुसकर शिवलिंग, माता पार्वती, भगवान गणेश, कार्तिकेय, नंदी, समेत समस्त शिव परिवार की मूर्तियों को खंडित किया। बाद में भगवान शिव का त्रिशूल भी उखाड़ कर फेंक दिया और फिर फरार हो गए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकियों ने कश्मीरी अभिनेत्री की गोली मार कर हत्या की, 10 साल का भतीजा भी घायल: यासीन मलिक को सज़ा मिलने के बाद वारदात

जम्मू कश्मीर में आतंकियों ने कश्मीरी अभिनेत्री अमरीना भट्ट की गोली मार कर हत्या कर दी है। ये वारदात केंद्र शासित प्रदेश के चाडूरा इलाके में हुई, बडगाम जिले में स्थित है।

यासीन मलिक के घर के बाहर जमा हुई मुस्लिम भीड़, ‘अल्लाहु अकबर’ नारे के साथ सुरक्षा बलों पर हमला, पत्थरबाजी: श्रीनगर में बढ़ाई गई...

यासीन मलिक को सजा सुनाए जाने के बाद श्रीनगर स्थित उसके घर के बाहर उसके समर्थकों ने अल्लाहु अकबर की नारेबाजी की। पत्थर भी बरसाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
188,823FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe