Wednesday, May 22, 2024
Homeदेश-समाजआंध्र में 'अल्लाह-हू-अकबर' नारे के साथ हनुमान जयंती शोभा यात्रा पर पथराव, कई घायल:...

आंध्र में ‘अल्लाह-हू-अकबर’ नारे के साथ हनुमान जयंती शोभा यात्रा पर पथराव, कई घायल: मस्जिद के पास घटना, DJ पर हुई थी बहस

दिल्ली के जहाँगीरपुरी में भी शोभायात्रा पर एक हजार से अधिक मुस्लिमों की भीड़ ने पथराव किया और गोलियाँ चलाई हैं। इस हमले में पुलिस के अधिकारी को भी गोली लगी है। वहीं कई वाहनों में तोफोड़ करने के बाद उनमें आग लगा दी गई।

भारत संभवत: दुनिया का अकेला देश है, जहाँ के बहुसंख्यक हिंदुओं को अपने त्योहार मानने पर कथित अल्पसंख्यकों का निशाना बनना पड़ता है। भारत में यह परिपाटी लंबे समय से चली आ रही है, लेकिन पिछले कुछ दिनों से जो हमले देश भर में हो रहे हैं, वे एक एक ही पैटर्न में दिख रहे हैं। देश के कई राज्यों में रामनवमी से लेकर हनुमान जयंती तक पर बहुसंख्यकों को हमलों का सामना करना पड़ा रहा है। दिल्ली, उत्तराखंड, कर्नाटक के बाद आंध्र प्रदेश से भी ऐसी ही खबर आ रही है।

आंध्र प्रदेश के कुरनूल में भी हनुमान जन्मोत्सव की शोभायात्रा पर मुस्लिम ने अल्लाह-हू-अकबर का नारा लगाते हुए पत्थरबाजी की। इसके बाद दूसरे पक्ष ने भी जवाब में पत्थर फेंके। इस पत्थरबाजी में कुछ लोगों के घायल होने की खबर आ रही है। झड़प के बाद मौके पर पहुँचकर पुलिस ने स्थिति को नियंत्रित कर लिया।

विश्व हिन्दू परिषद (VHP) ने कुरनूल जिले के होलागुंडा के ईरला कट्टा में हनुमान जयंती के अवसर पर समारोह का आयोजन किया था। समारोह के दौरान जब शोभायात्रा आगे बढ़ने लगी तो पुलिस ने रास्ते में पड़ने वाली मस्जिद को देखकर डीजे पर चलने वाले संकीर्तन को जबरन बंद करा दिया।

शोभायात्रा जब गुजरी उस समय मस्जिद में रोजा इफ्तार चल रहा था। मस्जिद से आगे बढ़ने के बाद जब शोभायात्रा में डीजे बजने लगा तब मुस्लिमों ने अल्लाह-हू-अकबर का भड़काऊ नारे लगाते हुए पत्थरबाजी शुरू कर दी। इसके बाद दूसरे पक्ष ने भी जवाब में पत्थर चलाए। इस दौरान लगभग 10 मिनट तक पथराव होता रहा।

मौके पर पहुँचकर पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर कर दिया। बाद फुटेज के आधार पर पुलिस ने 20 लोगों को हिरासत में लिया है। एसपी का कहना है कि विहिप ने पुलिस सलाह को नहीं मानते हुए डीजे का इस्तेमाल किया था।

दिल्ली में फायरिंग और आगजनी

दिल्ली के जहाँगीरपुरी में भी शोभायात्रा पर एक हजार से अधिक मुस्लिमों की भीड़ ने पथराव किया और गोलियाँ चलाई थीं। इस हमले में पुलिस के अधिकारी को भी गोली लगी है। वहीं कई वाहनों में तोफोड़ करने के बाद उनमें आग लगा दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने अंसार और असलम सहित अभी 14 लोगों को गिरफ्तार किया है। इलाके में तनाव को देखते हुए भारी संख्या में सुरक्षाबलों को तैनात किया गया है।

कर्नाटक में पत्थरबाजी

हनुमान जयंती (Hanuman Jayanti) के मौके पर मुस्लिम कट्टरपंथियों की भीड़ ने ओल्ड हुबली पुलिस स्टेशन पर (Karnataka Hubli Stone Pelting Violence) पथराव किया। इसमें एक इंस्पेक्टर सहित 4 पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं। इस घटना के बाद अधिकारियों ने इस इलाके में धारा-144 लागू कर दी है। ।

जानकारी के अनुसार, एक थाने के बाहर जमा हुई मुस्लिमों की भीड़ अचानक हिंसक हो गई और थाने, पुलिस के वाहनों पर पथराव शुरू कर दिया। भीड़ को तितर-बितर करने और स्थिति पर काबू पाने के लिए पुलिस को लाठी चार्ज और आँसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। इस मामले में पुलिस 40 लोगों को गिरफ्तार किया है।

उत्तराखंड में हमला

उत्तराखंड के रुड़की स्थित भगवानपुर थाना क्षेत्र के डाडा पट्टी गाँव में हनुमान जन्मोत्सव की शोभायात्रा मुस्लिमों के मोहल्ले से होकर गुजर रही थी, तभी कट्टरपंथी मुस्लिमों ने शोभा यात्रा पर पथराव कर दिया। इस हमले में मंडावर चौकी प्रभारी आशीष नेगी के अलावा 10 से अधिक लोग घायल हो गए।

शोभायात्रा पर मुस्लिम मोहल्ले में घरों की छतों से किया गया। इस दौरान संपत्तियों को जलाने और उनमें तोड़फोड़ भी की गई। दंगाइयों ने कई वाहनों को आग के हवाले कर दिया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -