Thursday, June 20, 2024
Homeदेश-समाजछात्राओं से छेड़खानी करता था टीचर अब्दुल हमीद, कई बार टोकने के बाद भी...

छात्राओं से छेड़खानी करता था टीचर अब्दुल हमीद, कई बार टोकने के बाद भी नहीं सुधरा: अब भेजा गया जेल, शिकायत करने वाले अभिभावकों को मिल रही धमकियाँ

घटना जामताड़ा जिले के थानाक्षेत्र करमाटांड़ की है। बारादाहा जिलिमटांड़ में नवीन प्राथमिक विद्यालय है जहाँ अब्दुल हमीद सहायक शिक्षक के तौर पर तैनात हैं।

झारखंड में जामताड़ा जिले के एक सरकारी स्कूल में छात्राओं से छेड़खानी का मामला सामने आया है। छेड़खानी का आरोप स्कूल के ही एक टीचर पर लगा है जिसका नाम अब्दुल हमीद है। घटना से नाराज ग्रामीणों ने अब्दुल हमीद को बंधक बना लिया था। पुलिस ने अब्दुल को गिरफ्तार कर के जेल भेज दिया है। अब्दुल हमीद पर आरोप है कि वो कई बार छात्रों से छेड़खानी कर चुका है जिसकी बार-बार शिकायत के बावजूद वो सुधरने के लिए तैयार नहीं थे। घटना सोमवार (11 मार्च, 2024) की है।

‘दैनिक जागरण’ के मुताबिक, घटना जामताड़ा जिले के थानाक्षेत्र करमाटांड़ की है। बारादाहा जिलिमटांड़ में नवीन प्राथमिक विद्यालय है जहाँ अब्दुल हमीद सहायक शिक्षक के तौर पर तैनात हैं। सोमवार को स्कूल में पढ़ने वाली कई छात्राओं के अभिभावक जमा हो कर हंगामा करने लगे। उनका आरोप था कि अब्दुल हमीद उनकी बच्चियों के साथ लम्बे समय से अश्लील हरकतें करता है। अभिभावकों ने बताया कि उनकी बेटियाँ घर पर अब्दुल हमीद की करतूत बताया करती थीं। कई बार अब्दुल हमीद को टोका भी गया लेकिन उस पर कोई फर्क नहीं पड़ा।

सोमवार को स्कूल पहुँचे अभिभावक वहाँ सहायक टीचर अब्दुल हमीद को देख कर भड़क गए। उन्होंने अब्दुल को एक कमरे में बंद कर दिया। इसी हंगामे के बीच मामले की सूचना पुलिस को मिली। पुलिस ने स्कूल पहुँच कर अब्दुल को छुड़वाया और अपने साथ ले कर थाने पहुँच गई। थाना प्रभारी करमाटांड़ ने ऑपइंडिया को बताया कि आरोपित के खिलाफ ग्रामीणों द्वारा मिली शिकायत पर FIR दर्ज कर ली गई है। अब्दुल हमींद को पॉक्सो सहित अन्य धाराओं में कार्रवाई के बाद जेल भेज दिया गया है।

वहीं ग्रामीण अब अब्दुल हमीद पर विभागीय कार्रवाई की भी माँग कर रहे है। आरोप यह भी है कि अब्दुल की शिकायत करने वाले बच्ची के अभिभावकों को धमकियाँ भी मिल रहीं हैं। इन तमाम आरोपों का संज्ञान प्रखंड शिक्षा अधिकारी ने लिया है। उन्होंने बताया कि जाँच के साथ जरूरी कार्रवाई की जा रही है। फ़िलहाल कुछ समय की अफरातफरी के बाद अब स्कूल में पढ़ाई-लिखाई फिर से सामान्य रूप से शुरू हो गई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

14 फसलों पर MSP की बढ़ोतरी, पवन ऊर्जा परियोजना, वाराणसी एयरपोर्ट का विस्तार, पालघर का पोर्ट होगा दुनिया के टॉप 10 में: मोदी कैबिनेट...

पालघर के वधावन पोर्ट की क्षमता अब 298 मिलियन टन यूनिट की जाएगी। इससे भारत-मिडिल ईस्ट कॉरिडोर भी मजबूत होगा। 9 कंटेनर टर्मिनल होंगे।

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -