Friday, May 24, 2024
Homeदेश-समाजस्कूल टाइम में नमाज पढ़ने नहीं जा सकेंगे राजस्थान के शिक्षक, मोबाइल ले जाने...

स्कूल टाइम में नमाज पढ़ने नहीं जा सकेंगे राजस्थान के शिक्षक, मोबाइल ले जाने पर बैन: शिक्षा मंत्री मदन दिलावर ने फोन को बताया बीमारी

राजस्थान के स्कूलों में मोबाइल फोन ले जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। विद्यालय में मोबाइल रखने की इजाजत सिर्फ प्रधानाध्यापक को होगी। इसकी घोषणा शिक्षा मंत्री मदन दिलावर ने की है। उन्होंने कहा कि स्कूलों में बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए टीचरों को हिदायत भी दी है। इसके साथ ही अब शिक्षक स्कूल छोड़कर नमाज पढ़ने भी नहीं जा सकते।

शिक्षा मंत्री मदन दिलावर का कहना है कि सरकारी स्कूलों में मोबाइल पर पूरी तरह से बैन रहेगा। उन्होंने कहा कि स्कूलों में शिक्षक मोबाइल पर पूरे दिन शेयर मार्केट और न जाने क्या-क्या देखते रहते हैं। शिक्षक उसी में उलझे रहते हैं और बच्चों पर उनका ध्यान ही नहीं रहता है। इससे बच्चों की पढ़ाई का भारी नुकसान होता है।

मदन दिलावर ने कहा कि अगर कोई सरकारी शिक्षक अपने साथ मोबाइल लेकर आता है तो उसे अपना फोन प्रधानाध्यापक के पास जमा करना होगा। वहीं, सिर्फ प्रिंसिपल को अपने साथ मोबाइल रखने की इजाजत होगी। शिक्षा मंत्री मदन दिलावर ने मोबाइल फोन को एक बीमारी जैसा बताया है।

इतना ही नहीं, नमाज के नाम पर स्कूल से गायब होने वाले शिक्षकों पर भी लगाम कस दिया है। मदन दिलावर ने कहा कि नमाज और पूजा-पाठ के नाम पर स्कूल छोड़कर जाने वाले शिक्षकों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा है कि अगर कोई शिक्षक धार्मिक कार्यक्रम में शामिल होना चाहता है तो वह छुट्टी लेकर जा सकता है।

दिलावर ने कहा कि शिक्षकों के गायब होने से बच्चों की पढ़ाई में बाधा उत्पन्न होती है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकारी स्कूलों में शिक्षक भैरूजी, बालाजी की पूजा और नमाज पढ़ने के नाम पर स्कूल नहीं छोड़ेंगे। यदि उनको जाना है तो छुट्टी लेकर जाएँ। उन्होंने यह भी कहा है कि बच्चों को पढ़ाने से पहले शिक्षक खुद पढ़कर जाएँ।

शिक्षा मंत्री ने कहा कि जो भी इन बातों का ध्यान नहीं रखेगा, उनके खिलाफ निलंबन या बर्खास्तगी की कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि स्कूल शिक्षा में जो पहले से आदेश, निर्देश और नियम बने हुए हैं उन सब की पालना करने का प्रयास कर रहे हैं। शिक्षा मंत्री ने कहा कि सरकारी स्कूलों में खेल के मैदानों पर हो रखे अतिक्रमणों को हटाया जाएगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हिरोइन लैला खान की हत्या मामले में सौतेले अब्बा को हुई ‘सजा-ए-मौत’: फार्म हाउस में गाड़ दी परिवार के 6 लोगों की लाश, 13...

बॉलीवुड अभिनेत्री लैला खान और उनके पूरे परिवार की हत्या मामले में अभिनेत्री के सौतेले पिता को कोर्ट ने सजा-ए-मौत सुनाई है।

UPA सरकार ने ब्रह्मोस मिसाइल के निर्यात को रोका, लीक हुई चिट्ठियों से खुलासा: मोदी सरकार ने की जो हजारों करोड़ की डील, वो...

UPA सरकार ने जानबूझकर ब्रह्मोस मिसाइल के निर्यात से जुड़ी फाइलों को अटकाया। इंडोनेशियाई टीम का दौरा रोक दिया गया। बातचीत तक रोक दी गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -