Saturday, January 28, 2023
Homeदेश-समाजराजस्थान: VHP की रैली पर जामा मस्जिद से पत्थरबाजी, धारा 144 लागू, इंटरनेट बंद

राजस्थान: VHP की रैली पर जामा मस्जिद से पत्थरबाजी, धारा 144 लागू, इंटरनेट बंद

एसपी सुधीर चौधरी ने बताया कि विहिप के स्थापना दिवस पर निकाली गई रैली जब जामा मस्जिद के पास पहुँची तो दूसरे समुदाय के लोगों ने नारेबाजी शुरू कर दी। इसके बाद अल्पसंख्यक समुदाय के कुछ लोगो ने पत्थर फेंके। इससे भगदड़ मच गई।

राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले के गंगापुर सिटी कस्बे में रविवार (अगस्त 25, 2019) की दोपहर विश्व हिंदू परिषद की रैली पर दूसरे समुदाय के लोगों ने पत्थरबाजी की। रैली में करीब 500 लोग शमिल थे। फव्वारा चौक के पास जमा मस्जिद और आसपास के घरों से रैली पर पथराव किया गया। 5 लोग घायल हो गए।

घटना की सूचना मिलते ही मौक़े पर पहुँची पुलिस ने उपद्रवियों को बल का प्रयोग करके वहाँ से खदेड़ा। तनाव को देखते हुए 1000 से ज्यादा पुलिसकर्मी इलाके में तैनात किए गए हैं। इलाके में धारा 144 भी लागू कर इंटरनेट सेवाएँ बंद कर दी गई।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सवाई माधोपुर के एसपी सुधीर चौधरी ने बताया कि विहिप के स्थापना दिवस पर निकाली गई रैली जब जामा मस्जिद के पास पहुँची तो दूसरे समुदाय के लोगों ने नारेबाजी शुरू कर दी। इसके बाद अल्पसंख्यक समुदाय के कुछ लोगो ने पत्थर फेंके। इससे भगदड़ मच गई।

जानकारी के मुताबिक इस मामले में पुलिस ने 25 पत्थरबाजों को हिरासत में लिया है। फिलहाल, हालात नियंत्रण में हैं। बताया जाता है कि रविवार रात भी पुलिस को पथराव की घटनाओं की सूचना मिली। इसके बाद देर रात लोगों की धड़पकड़ की गई।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हमारा सनातन धर्म भारत का राष्ट्रीय धर्म: बोले CM योगी, ऐतिहासिक नीलकंठ महादेव मंदिर में की पूजा

सीएम योगी ने देश की सुरक्षा और विरासत की रक्षा के लिए लोगों से व्यक्तिगत स्वार्थ से ऊपर उठकर राष्ट्रीय धर्म के साथ जुड़ने का आह्वान किया।

शेयर गिराओ, उससे अरबों कमाओ: अडानी पर आरोप लगाने वाला Hindenburg रिसर्च का काला चिट्ठा, अमेरिका में चल रही जाँच

Hindenburg रिसर्च: संस्थापक रह चुका है ड्राइवर। जानिए उस कंपनी के बारे में जिसने अडानी समूह के 2 लाख करोड़ रुपए डूबा दिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
242,732FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe