Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाज'हिंदू औरतों के जिस्म के हर छेद में इस्लाम का अजाब भर दिया जाएगा'...

‘हिंदू औरतों के जिस्म के हर छेद में इस्लाम का अजाब भर दिया जाएगा’ – आतंकियों को छोड़ने के लिए धमकी भरा लेटर

"अल्लाह के पाक नाम पर काफिर हुकूमत के खिलाफ जिहाद का ऐलान... 14 अगस्त तक का समय दिया जा रहा है, जिन मुजाहिदों को गिरफ्तार किया है, उन्हें रिहा कर दो वरना..." - लखनऊ भेजा गया धमकी वाला यह लेटर।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के पुराने हनुमान मंदिर में एक संदिग्ध पत्र भेजा गया है, जिसमें 14 अगस्त के पहले गिरफ्तार किए गए अलकायदा के आतंकियों को छोड़ने की बात की गई है और ऐसा न करने पर प्राचीन मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है। साथ ही पत्र में आरएसएस कार्यालय और वरिष्ठ पदाधिकारियों को भी निशाना बनाए जाने की बात कही गई है।

शुक्रवार (30 जुलाई 2021) की शाम को लखनऊ के अलीगंज इलाके में पुराने हनुमान मंदिर में रजिस्टर्ड डाक से भेजा गया एक धमकी भरा पत्र पहुँचा। पत्र में लिखा हुआ है, ‘अल्लाह के पाक नाम पर काफिर हुकूमत के खिलाफ जिहाद का ऐलान’। पत्र में लखनऊ के काकोरी इलाके से गिरफ्तार किए गए अलकायदा समर्थित आतंकियों की रिहाई की बात कही गई है। पत्र में कहा गया है कि जिन मुजाहिदों को गिरफ्तार किया गया है, उनकी रिहाई के लिए 14 अगस्त तक का समय दिया जा रहा है। इस तारीख तक आतंकियों की रिहाई न होने पर लखनऊ के बड़े मंदिरों को निशाना बनाया जाएगा।

हनुमान मंदिर में भेजा गया धमकी भरा पत्र (फोटो: दैनिक जागरण)

इसके अलावा, पत्र में यह भी लिखा गया है कि जिहादियों के निशाने पर आरएसएस कार्यालय और 10 हिन्दू समाजसेवी भी हैं। इन सब के गले रेतने और हिन्दू महिलाओं के साथ अत्याचार करने की बात लिखी गई है। साथ ही पुलिसकर्मियों से भी हिसाब लिए जाने के बारे में कहा गया है। हनुमान मंदिर के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी अनिल तिवारी ने बताया कि पत्र मिलते ही इसकी सूचना पुलिस को दे दी गई। इसके बाद पुलिस ने सक्रियता दिखाते हुए मंदिर में तलाशी अभियान शुरू की और मौके पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। धमकी की सूचना मिलते ही एटीएस समेत क्राइम ब्रांच भी जाँच में जुट गई है। पत्र भेजने वाले ने अपना नाम जोगिंदर सिंह लिखा है।

ज्ञात हो कि इस पत्र में जिन आतंकियों को रिहा करने की माँग की गई है, उन्हें लखनऊ के काकोरी इलाके से एटीएस के द्वारा 11 जुलाई 2021 को गिरफ्तार किया गया था। अलकायदा समर्थित अंसार गजवातुल हिंद से जुड़े इन आतंकियों के नाम मशीरुद्दीन उर्फ मुशीर और मिनहाज अहमद हैं। उत्तर प्रदेश पुलिस ने बताया था कि आतंकियों के मॉड्यूल के प्रमुख सदस्यों में मिनहाज, मशीरुद्दीन उर्फ मुशीर व शकील का नाम सामने आया है। ये सभी अलकायदा के निर्देश पर अपने अन्य सहयोगियों के साथ मिलकर 15 अगस्त से पहले मानव बम बनकर यूपी के लखनऊ समेत देश के विभिन्न शहरों के महत्वपूर्ण स्थानों, स्मारकों और भीड़-भाड़ वाले इलाकों में बड़ी आतंकी घटना को अंजाम देने के ​तैयारी कर रहे थे। इसके लिए हथियार तथा विस्फोटक भी जमा कर लिया गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत की जाँच के लिए SIT गठित: CM योगी ने कहा – ‘जिस पर संदेह, उस पर सख्ती’

महंत नरेंद्र गिरी की मौत के मामले में गठित SIT में डेप्यूटी एसपी अजीत सिंह चौहान के साथ इंस्पेक्टर महेश को भी रखा गया है।

जिस राजस्थान में सबसे ज्यादा रेप, वहाँ की पुलिस भेज रही गंदे मैसेज-चौकी में भी हो रही दरिंदगी: कॉन्ग्रेस है तो चुप्पी है

NCRB 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान में जहाँ 5,310 केस दुष्कर्म के आए तो वहीं उत्तर प्रेदश में ये आँकड़ा 2,769 का है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,642FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe