Tuesday, May 21, 2024
Homeदेश-समाजयूपी-कर्नाटक के 6 RSS कार्यालयों को बम से उड़ाने की धमकी, बढ़ाई गई सुरक्षा:...

यूपी-कर्नाटक के 6 RSS कार्यालयों को बम से उड़ाने की धमकी, बढ़ाई गई सुरक्षा: ‘अल अंसारी इमाम रजी उन मेंहदी’ ग्रुप में साजिश

व्हाट्सएप्प पर 'अल अंसारी इमाम रजी उन मेंहदी' नामक व्हाट्सएप्प ग्रुप में कन्नड़, अंग्रेजी और हिंदी में सन्देश भेज कर लखनऊ के 2 और कर्नाटक के 4 RSS कार्यालयों में बम विस्फोट की धमकी दी गई है।

देश के कई शहरों में RSS के कार्यालयों को बम से उड़ाने की धमकी के बाद अलर्ट जारी किया गया है। लखनऊ स्थित संघ कार्यालय को निशाना बनाने की धमकी भी मिली है। सोमवार (6 जून, 2022) को रात 8 बजे व्हाट्सएप्प के माध्यम से ये सन्देश भेजा गया था। उत्तर प्रदेश की राजधानी में स्थित मड़ियाँव थाने की पुलिस ने FIR दर्ज कर के मामले की जाँच शुरू कर दी है। साइबर सेल मैसेज भेजने वालों को ट्रेस कर रही है।

नंबर को ट्रेस करने की प्रक्रिया चालू है। व्हाट्सएप्प पर ‘अल अंसारी इमाम रजी उन मेंहदी’ नामक व्हाट्सएप्प ग्रुप में कन्नड़, अंग्रेजी और हिंदी में सन्देश भेज कर लखनऊ के 2 और कर्नाटक के 4 RSS कार्यालयों में बम विस्फोट की धमकी दी गई है। बताया जा रहा है कि एक संघ कार्यकर्ता इन्वाइट लिंक के जरिए उस ग्रुप से जुड़ गया, जहाँ उसे धमकी वाली बात दिखी। कई ग्रुप्स में इस आतंकी ग्रुप के इन्वाइट लिंक शेयर किए गए थे।

इसी दौरान RSS के कार्यकर्ता ने उसे खोला और उससे जुड़ गया। जब उक्त कार्यकर्ता ने वहाँ धमकियों वाली चर्चा को देखा तो अवध प्रान्त के एक पदाधिकारी को इस सम्बन्ध में सूचित किया। तत्पश्चात RSS के बड़े पदाधिकारियों को इसकी सूचना मिली और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ इस जानकारी को साझा किया गया। अवध प्रांत के घोष प्रमुख, प्रोफेसर नीलकंठ तिवारी की शिकायत पर FIR दर्ज की गई। IPC की धारा-507 और IT एक्ट की धारा-66 के तहत केस दर्ज किया गया है।

साइबर क्राइम ब्रांच की मदद ली जा रही है। साथ ही RSS कार्यालयों के बाहर सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। लखनऊ के साथ-साथ उन्नाव स्थित संघ कार्यालय को भी उड़ाने की धमकी मिली है। पुलिस ने जाँच के दौरान लखनऊ के अलीगंज सेक्टर क्यू के सरस्वती विद्या मंदिर का भी दौरा किया। इंस्पेक्टर का कहना है कि किसी संगठन को धमकी नहीं दी गई है। प्रभारी निरीक्षक मड़ियाँव अनिल कुमार ने कहा कि किसी शरारती तत्व द्वारा परेशान करने के लिए ऐसी हरकत करने की आशंका है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कॉन्ग्रेस और उसके साथियों ने पीढ़ियाँ बर्बाद की, अम्बेडकर नहीं होते तो नेहरू नहीं देते SC/ST को आरक्षण: चम्पारण में बोले पीएम मोदी

पीएम मोदी ने बिहार के चम्पारण में एक रैली को संबोधित किया। यहाँ उन्होंने राजद के जंगलराज और कॉन्ग्रेस पर विकास ना करने को लेकर हमला बोला।

मतदान के दिन लालू की बेटी रोहिणी आचार्य को बूथ से पड़ा था लौटना, अगली सुबह बिहार के छपरा में गिर गई 1 लाश:...

बिहार के छपरा में चुनावी हिंसा में एक की मौत की खबर आ रही है। रिपोर्टों के अनुसार 21 मई 2024 को बीजेपी और राजद समर्थकों के बीच टकराव हुआ। फायरिंग हुई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -