Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाजशहवाज-फैसल घायल, अरबाज की टूट गई टांग... यूपी पुलिस से हथियार छीन कर भाग...

शहवाज-फैसल घायल, अरबाज की टूट गई टांग… यूपी पुलिस से हथियार छीन कर भाग रहे थे: स्कूली छात्रा का दुपट्टा खींचा, फिर बाइक से कुचल कर मार डाला था

ये गोलियाँ दो आरोपितों को लगी, तो तीसरा हत्यारोपित भागते समय गिर गया और उसकी टांग टूट गई।

उत्तर प्रदेश के अंबेडकर नगर में एक स्कूली छात्रा की बदमाशों ने हत्या कर दी थी। साइकिल से जाते समय शुक्रवार (15 सितंबर, 2023) को शहवाज और अरबाज ने उसका दुपट्टा खींचा और वो साइकिल से गिर गई, इसके बाद फैसल ने उसपर बाइक चढ़ा दी थी। इस मामले में पुलिस ने तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया था। इन तीनों आरोपितों ने पुलिसकर्मियों से हथियार छीनकर फरार होने की कोशिश की, जिसके बाद पुलिस को उनके पैरों में गोलियाँ दागनी पड़ी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, तीनों ने पुलिस पर ही हथियार तान दिए थे, जिसके बाद पुलिस को गोलियाँ चलानी पड़ी। ये गोलियाँ दो आरोपितों को लगी, तो तीसरा हत्यारोपित भागते समय गिर गया और उसकी टांग टूट गई। पुलिस ने तीनों को फिर से अपनी गिरफ्त में ले लिया है और इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया है। ‘आज तक’ की रिपोर्ट में बताया गया है कि पुलिस की गोली से शहवाज और फैसल घायल हुए हैं, तो अरबाज की टांट टूट गई।

शुक्रवार को छात्रा की गई थी जान

बता दें कि ये मामला अंबेडकर नगर जिले के हँसवर थाना के हीरापुर बाजार क्षेत्र का है। यहाँ के रामराजी इंटर कॉलेज में 12वीं में पढ़ने वाली 17 वर्षीय लड़की शुक्रवार को स्कूल खत्म होने के बाद रोज की तरह घर लौट रही थी। इसी दौरान शहवाज और अरबाज उसका पीछा करते हुए आए और उसका दुपट्टा खींच दिया। लड़की साइकिल पर थी। इसलिए उसका संतुलन बिगड़ा और वह बीच सड़क में जा गिरी। पीछे से आ रहे फैसल ने उसपर बाइक चढ़ा दी, जिससे उसकी मौत हो गई। इस घटना की सीसीटीवी फुटेज भी सामने आई थी।

पिता का सहारा थी मृतक छात्रा

मृतका के पिता ने बताया है कि वो उनकी लड़की उनका आखिरी सहारा थी। करीब 8 साल पहले उनकी पत्नी की मौत हो गई थी। वो बच्ची ही घर भी काम करती थी और पढ़ाई भी करती थी। पिता ने बताया कि बेटी पढ़ाई में होशियार थी और बायोलॉजी विषय की पढ़ाई कर रही थी। वो डॉक्टर बनना चाहती थी, लेकिन अब सबकुछ बर्बाद हो गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लाइसेंस राज में कुछ घरानों का ही चलता था सिक्का, 2014 के बाद देश ने भरी उड़ान: गौतम अडानी ने PM मोदी को दिया...

गौतम अडानी ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था ने 10 वर्षों में टेकऑफ किया है और इसका सबसे बड़ा कारण सही तरीके से मोदी सरकार का चलना रहा है।

राबिया की अम्मी ने ज़हीर-सोनाक्षी की शादी के बहाने ‘लव जिहाद’ को किया व्हाइटवॉश: खुद देती रहती हैं दुनिया भर के ओपिनियन, दूसरों की...

स्वरा भास्कर इजरायल पर ओपिनियन दे सकती हैं, लेकिन वो कहती हैं कि भारत में लोगों को ओपिनियन देने की बीमारी है। ज़हीर-सोनाक्षी की शादी और शत्रुघ्न सिन्हा की नाराज़गी के बीच 'लव जिहाद' को फर्जी बताने का प्रयास।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -