Saturday, May 18, 2024
Homeदेश-समाजदो पड़ोसियों के बीच विवाद, शिकार बनी 3 साल की बच्ची: सायरा बानो ने...

दो पड़ोसियों के बीच विवाद, शिकार बनी 3 साल की बच्ची: सायरा बानो ने ईद से पहले रफीकन का कोख उजाड़ा, गला घोंटकर मारा फिर बोरे में भर फेंक दी लाश

मृतका के शव पर मिले दाँतों के निशानों को लेकर रामपुर के पुलिस अधीक्षक ने आशंका जताई है कि वो किसी जानवर द्वारा शव को खाए जाने के निशान हो सकते हैं। हालाँकि, इस बावत उन्होंने जाँच जारी होने की बात भी कही। सायरा बानो शादीशुदा है और उसके शौहर का नाम सगीर अहमद है। पुलिस के मुताबिक, घटना को अकेले सायरा बानो ने ही अंजाम दिया है।

उत्तर प्रदेश के रामपुर जिले में ईद से पहले 3 साल की एक मुस्लिम बच्ची की हत्या का मामला सामने आया है। हत्या का आरोप मृतका की पड़ोसन सायरा बानो पर लगा है। पीड़िता और और अरोपित एक ही समुदाय से हैं। हत्या की वजह मृतका के अब्बा और आरोपित के बीच दोस्ताना संबंधों से दोनों परिवारों के बीच उपजी आपसी मनमुटाव बताया जा रहा है।

पुलिस ने आरोपित महिला को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं, बच्ची रविवार (7 अप्रैल 2024) से लापता थी और उसका शव 2 दिन बाद 9 अप्रैल को बरामद हुआ। यह मामला रामपुर जिले के थाना क्षेत्र विलासपुर का है। यहाँ 7 अप्रैल को बच्ची के अब्बा दानिश ने पुलिस में अपनी बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। ऑपइंडिया के पास FIR की कॉपी मौजूद है।

शिकायत में उसने कहा कि रविवार को उसकी 3 साल की बेटी अनायजा दोपहर 11 बजे दुकान में टॉफी लेने गई थी। वह घर लौटी, लेकिन 12:30 बजे वह अचानक घर से गायब हो गई। काफी खोजबीन के बाद पीड़िता नहीं मिली। बच्ची के अब्बा ने तब किसी अज्ञात व्यक्ति पर लड़की को बहला-फुसला कर साथ ले जाने की आशंका जताई थी।

शिकायत पर पुलिस ने भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 363 के तहत केस दर्ज करके बच्ची की तलाश शुरू कर दी थी। इस बीच मंगलवार (9 अप्रैल) की सुबह बच्ची का शव उसके घर के बगल वाली खाली प्लॉट में पड़ा मिला। लाश को बोरे में बाँधकर फेंका गया था। बोरे से बच्ची के कुछ अंग बाहर निकल आए थे। लाश पर दाँतों से काटे जाने के निशान भी मौजूद थे।

शव को कब्जे में लेकर पुलिस ने CCTV फुटेज सहित कई अन्य सबूत जुटाए। इसके आधार पर पुलिस ने 10 अप्रैल 2024 को इसी गाँव की रहने वाली 20 वर्षीय मुस्लिम लड़की शायरा बानो को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी। शुरू में उसने टाल-मटोल करने की कोशिश की, लेकिन सख्ती के बाद उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया।

आरोपित सायरा बानो ने बताया कि उसके और बच्ची के अब्बा के बीच दोस्ताना संबंध है। इस वजह से मृतका की माँ से उसका मनमुटाव चल रहा था। इस संबंध को लेकर मृतक बच्ची की माँ के साथ उसका वाद-विवाद भी हो चुका है। घटना के दिन मृतक बच्ची सायरा बानो के घर टॉफी लेने गई थी। इस दौरान वह महिला बच्ची को अपने साथ लेकर छत पर चली गई।

छत लेकर जाकर सायरा बानो ने तीन साल की इस मासूम बच्ची का गला दबाकर उसकी हत्या कर दी। हत्या के बाद उसने शव का हाथ बाँध कर उसे बोर में भर दिया। बाद में सायरा बानो ने शव को अपने घर के पीछे खाली पड़े प्लॉट में फेंक दिया। पुलिस ने हत्या की वजह आरोपित महिला सायरा बानो की जलन और घृणा बताया है।

मृतका के शव पर मिले दाँतों के निशानों को लेकर रामपुर के पुलिस अधीक्षक ने आशंका जताई है कि वो किसी जानवर द्वारा शव को खाए जाने के निशान हो सकते हैं। हालाँकि, इस बावत उन्होंने जाँच जारी होने की बात भी कही। सायरा बानो शादीशुदा है और उसके शौहर का नाम सगीर अहमद है। पुलिस के मुताबिक, घटना को अकेले सायरा बानो ने ही अंजाम दिया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘अनुच्छेद 370 को हमने कब्रिस्तान में गाड़ दिया, इसे वापस नहीं लाया जा सकता’: PM मोदी बोले- अलगाववाद को खाद-पानी देने वाली कॉन्ग्रेस ने...

पीएम मोदी ने कहा, "आजादी के बाद गाँधी जी की सलाह पर अगर कॉन्ग्रेस को भंग कर दिया गया होता, तो आज भारत कम से कम पाँच दशक आगे होता।

स्वाति मालीवाल पर AAP का यूटर्न: पहले पार्टी ने कहा कि केजरीवाल के पीए विभव ने की बदतमीजी, अब महिला सांसद के आरोप को...

कल तक स्वाति मालीवाल के साथ खड़ा रहने का दावा करने वाली आम आदमी पार्टी ने अब यू टर्न ले लिया है और विभव कुमार के बचाव में खड़ी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -