Sunday, October 17, 2021
Homeदेश-समाजUnAcademy के शिक्षक ने छात्रों को AK-47 उठाने के लिए उकसाया: शिक्षा की आड़...

UnAcademy के शिक्षक ने छात्रों को AK-47 उठाने के लिए उकसाया: शिक्षा की आड़ में कई कोचिंग सेंटर चला रहे राजनीतिक एजेंडा

वरुण अवस्थी की ही तरह भूतेश नाम के एक शिक्षक की ऐसी ही एक वीडियो और सामने आई है। उन्होंने 30 अगस्त को एक वीडियो अपलोड किया जिसमें उन्होंने राम मंदिर आंदोलन का मज़ाक उड़ाते हुए कहा, "तुम्हें मंदिर बना के दे दिया और तुम्हें जिंदगी में क्या चाहिए। अयोध्या में मंदिर बन गया, उसका पूजन हो गया और इस से बड़ा मुद्दा क्या है?

UnAcademy कोचिंग सेंटर के एक शिक्षक वरुण अवस्थी को अपने एक वीडियो में छात्रों को ऐके-47 बंदूक उठाने के लिए उकसाते हुए पाया गया है।

इस वक्त सोशल मीडिया पर उनकी लाइव वीडियो का एक क्लिप तेजी से वायरल हो रहा हैं। उस क्लिप में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संबोधित करते हुए कहा है, “जिस तरह महात्मा गाँधी कह के गए थे हिंदुस्तान की आत्मा गॉंव में बसती है, जब तक गॉंव का विकास नहीं करोगे हिंदुस्तान का विकास नहीं होने वाला। वैसे ही मोदी जी इतना जान लो अगर देश को नहीं झुकने देना है न, तो इस युवा को अपने साथ लेके चलना है। नहीं तो वो दिन दूर नहीं की जिस वजह से आपने जम्मू कश्मीर को ब्लॉक किया है न उधर से, यहाँ पर हर युवा कलम छोड़ के AK-47 पकड़ लेगा।”

वहीं वीडियो वायरल होने के बाद शिक्षक अवस्थी ने उस वीडियो को अपने फेसबुक प्रोफाइल से डिलीट कर दिया। हालाँकि, ऑपइंडिया ने उस बीस मिनट के पूरे वीडियो को ढूँढ निकला जिसमें उन्होंने छात्रों को हथियार उठाने के लिए उकसाने की कोशिश की। बता दें, वीडियो एसएससी रेलवे परीक्षा के परिणामों की देरी को लेकर बनाया गया है। जब हमने वीडियो में मेंशन हैशटैग को खोजा, तो पता चला कि इसी तरह के उत्तेजक वीडियो विभिन्न कोचिंग सेंटरों के कई शिक्षकों द्वारा भी पोस्ट किए गए है।

अनअकैडमी के शिक्षक वरुण अवस्थी की वीडियो वायरल होने के बाद कोचिंग सेंटर ने इस पर अपनी सफाई पेश की है। अनअकैडमी ने कुछ ट्वीट्स के जवाब देते हुए कहा कि वे कंपनी से जुड़े किसी भी शिक्षक द्वारा किए गए इस तरह के व्यवहार और बयान का समर्थन नहीं करते हैं। उन्होंने कहा कि इस मामले की जाँच की जा रही है। साथ ही उचित कार्रवाई भी की जाएगी।

बता दें इससे पहले भी अनअकैडमी के एक शिक्षक ने ब्राह्मण को टारगेट करते हुए एक वीडियो पोस्ट किया था।

कई शिक्षकों द्वारा चलाया जा रहा राजनीतिक एजेंडा

वरुण अवस्थी की ही तरह भूतेश नाम के एक शिक्षक की ऐसी ही एक वीडियो और सामने आई है। भूतेश यूट्यूब पर e1 कोचिंग सेंटर नाम से एक चैनल चलाते हैं। उन्होंने 30 अगस्त को एक वीडियो अपलोड किया जिसमें उन्होंने राम मंदिर आंदोलन का मज़ाक उड़ाया। उन्होंने कहा, “तुम्हें मंदिर बना के दे दिया और तुम्हें जिंदगी में क्या चाहिए। अयोध्या में मंदिर बन गया, उसका पूजन हो गया और इस से बड़ा मुद्दा क्या है?

उन्होंने आगे कहा, तुम्हें जॉब दिला दी तो यह हिंदू-मुस्लिम के नाम पर घृणा कौन फैलाएगा? जात पात के नाम पर दंगे कौन करवाएगा? इनके IT सेल की झूठी खबरें कौन फैलाएगा अगर युवा को जॉब दिला दी तो?

वहीं खान जीएस रिसर्च सेंटर नाम से एक चैनल चलाने वाले खान नाम के एक शिक्षक ने 31 अगस्त को अपलोड किए गए अपने एक वीडियो में कहा कि अधिकारीयों ने परीक्षा के पेपर को लीक कर दिया है ताकि वे अपने परिवार को स्विट्जरलैंड ले जाने के लिए पैसे कमा सकें। शिक्षकों द्वारा बनाएँ गए उत्तेजक वीडियो यहीं पर खत्म नहीं होते है। राजस्थानी रिंगर, एजुकेशन अफेयर्स, टाइम कोचिंग और ऐसे अनगिनत कई कोचिंग सेंटर द्वारा ऐसे उत्तेजक वीडियो सोशल मीडिया पर डाले गए हैं। ये शिक्षक छात्रों को पढ़ाई में मदद करने की जगह राजनीतिक रूप से पक्षपाती और विपक्षी दलों का प्रचार प्रसार करते हुए ज्यादा नजर आने लगे है।

गौरतलब है कि हैशटैग “SpeakupforSSCRAILWAYStudents” की एक सरल खोज से पता चलता है कि कोचिंग सेंटर की यह साँठगाँठ कितनी गहरी है। यहाँ यह उल्लेखनीय है कि हाल ही में प्रियंका गाँधी वाड्रा सहित कॉन्ग्रेस नेताओं द्वारा उपरोक्त हैशटैग को सक्रिय रूप से बढ़ावा दिया गया था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘और गिरफ़्तारी की बात मत करो, वरना सरेंडर करने वाले साथियों को भी छुड़ा लेंगे’: निहंगों की पुलिस को धमकी, दलित लखबीर को बताया...

दलित लखबीर की हत्या पर निहंग बाबा राजा राम सिंह ने कहा कि हमारे साथियों को मजबूरन सज़ा देनी पड़ी, क्योंकि किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की।

CPI(M) सरकार ने महादेव मंदिर पर जमाया कब्ज़ा, ताला तोड़ घुसी पुलिस: केरल में हिन्दुओं का प्रदर्शन, कइयों ने की आत्मदाह की कोशिश

श्रद्धालुओं के भारी विरोध के बावजूद केरल की CPI(M) सरकार ने कन्नूर में स्थित मत्तनूर महादेव मंदिर का नियंत्रण अपने हाथ में ले लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,325FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe