Friday, June 14, 2024
Homeदेश-समाज'कॉन्ग्रेसी माँ और सजा काट रहे चाचा ने हड़पे ₹7 करोड़, बहन मेरे पति...

‘कॉन्ग्रेसी माँ और सजा काट रहे चाचा ने हड़पे ₹7 करोड़, बहन मेरे पति को रेप में फँसाने की दे रही धमकी’: उन्नाव पीड़िता ने MLA पर लगाया था आरोप, अब परिवार से ही जान को खतरा

पत्रकार दीपिका नारायण भारद्वाज ने अपने एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर इस मामले को लेकर कहा, "इस मामले में अभी बहुत कुछ सामने आना बाकी है। मुझे उम्मीद है कि एक दिन यह देश इस मामले की वास्तविक सच्चाई को जानेगा। पीड़ित ये परिवार नहीं है। उन्होंने हर किसी को अपराधी के रूप में पेश किया, जो असली पीड़ित हैं।"

साल 2017 के चर्चित उन्नाव रेप कांड की पीड़िता ने आरोप लगाया है कि उसकी कॉन्ग्रेस नेत्री माँ, सगी बहन, तिहाड़ जेल में 10 साल की सजा काट रहे चाचा और चाचा की महिला मित्र ने रुपयों को लेकर उसका जीना हराम कर दिया है। पीड़िता ने कहा कि इन लोगों ने रेपकांड कांड के बाद सरकार और विभिन्न जगहों से मिले करोड़ों रुपयों को हड़प लिया। इतना ही नहीं, पीड़िता को दिल्ली में मिली फ्लैट पर इन लोगों द्वारा कब्जे का आरोप लगाया।

पीड़िता ने इस संबंध में पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है। पीड़िता ने कहा कि 8 माह की गर्भवती होने के बावजूद उसे फ्लैट से निकाल फेंका गया। पीड़िता ने आगे कहा, “मेरी बहन मेरे पति को रेप केस में फँसाने की कोशिश कर FIR कराने की धमकी दे रही है, ताकि मेरा आखिरी सहारा भी छिन जाए।” उन्नाव रेप पीड़िता ने एसपी को प्रार्थना पत्र देकर इन चारों आरोपितों पर कार्रवाई की माँग की है।

पीड़िता ने कहा है कि उसका चाचा आपराधिक प्रवृत्ति का व्यक्ति है और इस समय वह हत्या के प्रयास में तिहाड़ जेल में 10 साल जेल की सजा काट रहा है। वहीं, उसकी माँ की राजनीतिक पहुँच ऊँची है। वह पिछले चुनाव में कॉन्ग्रेस के टिकट पर विधानसभा चुनाव लड़ चुकी है। पीड़िता का कहना है कि ये सभी लोग उसे परेशान कर रहे हैं और उसे मिले 7 करोड़ रुपए को भी हड़प चुके हैं।

पीड़ित ने कहा है कि इस घटना के समय वो नाबालिग बताई गई थी, जिसकी वजह से सारा पैसा उसके चाचा और उसकी माँ के खातों में डाल दिए गए थे। उन लोगों ने ये सारे पैसे हड़प लिए। पीड़िता ने आरोप लगाया कि जब उसने अपने चाचा से पैसे माँगे तो उसने कहा कि केस लड़ने में इससे अधिक पैसे खर्च हुए हैं। ।

ऑपइंडिया के पास मौजूद एफआईआर के मुताबिक, पीड़िता का कहना है कि उसके पति ने उसकी हालत को समझते हुए उसका पूरा साथ दिया है, इसलिए उसके परिवार के लोग ही पीछे पड़ गए हैं। पीड़िता ने पुलिस से खुद के लिए और अपने पति के लिए सुरक्षा की माँग की है। इसके साथ ही उसने सारे पैसे भी दिलाने की माँग कही है। पीड़िता है कि वह 8 माह की गर्भवती है और उसकी माँ-चाचा प्रभावशाली हैं, इसलिए वे उसे नुकसान पहुँचा सकते हैं।

बता दें कि उन्नाव रेपकांड काफी चर्चित मामला था। इस मामले में मुख्य आरोपित के तौर पर भाजपा के तत्कालीन विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को गिरफ्तार किया गया था। बाद में उन्हें कोर्ट ने दोषी ठहराते हुए सजा भी सुनाई थी। अब पीड़िता के इस पत्र से मामले में नया मोड़ आता दिख रहा है। इसको लेकर पत्रकार दीपिका नारायण भारद्वाज ने सवालिया चिन्ह खड़े किए हैं।

दीपिका नारायण भारद्वाज ने अपने एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर इस मामले को लेकर कहा, “इस मामले में अभी बहुत कुछ सामने आना बाकी है। मुझे उम्मीद है कि एक दिन यह देश इस मामले की वास्तविक सच्चाई को जानेगा। पीड़ित ये परिवार नहीं है। उन्होंने हर किसी को अपराधी के रूप में पेश किया, जो असली पीड़ित हैं।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कश्मीर समस्या का इजरायल जैसा समाधान’ वाले आनंद रंगनाथन का JNU में पुतला दहन प्लान: कश्मीरी हिंदू संगठन ने JNUSU को भेजा कानूनी नोटिस

जेएनयू के प्रोफेसर और राजनीतिक विश्लेषक आनंद रंगनाथन ने कश्मीर समस्या को सुलझाने के लिए 'इजरायल जैसे समाधान' की बात कही थी, जिसके बाद से वो लगातार इस्लामिक कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं।

शादीशुदा महिला ने ‘यादव’ बता गैर-मर्द से 5 साल तक बनाए शारीरिक संबंध, फिर SC/ST एक्ट और रेप का किया केस: हाई कोर्ट ने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में जस्टिस राहुल चतुर्वेदी और जस्टिस नंद प्रभा शुक्ला की बेंच ने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि सबूत पेश करने की जिम्मेदारी सिर्फ आरोपित का ही नहीं है, बल्कि शिकायतकर्ता का भी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -