Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजमाँ से नाराज होकर घर से भागी 14 वर्षीय किशोरी से गैंगरेप, ई-रिक्शा चालक...

माँ से नाराज होकर घर से भागी 14 वर्षीय किशोरी से गैंगरेप, ई-रिक्शा चालक इकरामुद्दीन, शकील, नफीस, नूर सहित 6 गिरफ्तार

किशोरी के साथ गैंगरेप करने वाले आरोपितों में इकरामुद्दीन के अलावा उसके अन्य साथी शकील उर्फ छोटू, उत्तम शर्मा, मोहम्मद नफ़ीस, नूर मोहम्मद उर्फ पुन्नू और रितेश यादव उर्फ भोला शामिल है। इन सभी ने नाबालिग किशोरी के साथ गैंगरेप करने के अलावा मारपीट भी की।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के इटौंजा इलाके में अपनी माँ से नाराज होकर घर से भागी 14 वर्षीय नाबालिग किशोरी के साथ गैंगरेप की खबर सामने आई है। नाबालिग किशोरी को इकरामुद्दीन नाम के एक ई-रिक्शा चालक ने अकेले देखकर उसे खाना खिलाने और नौकरी दिलाने का झाँसा देकर अपने साथ ले गया। वहीं उसने अपने साथियों को बुलाकर मंडियाव इलाके में एक किराए के कमरे में नाबालिग के साथ गैंगरेप की वारदात को अंजाम दिया।

आरोपित इकरामुद्दीन ने पीड़िता किशोरी को वहीं बंधक बना लिया था। यूपी पुलिस ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुए 18 घंटे के अंदर सभी 6 आरोपितों को पकड़कर इस मामले का खुलासा किया। यूपी पुलिस ने बताया कि किशोरी को मुक्त करा लिया गया है साथ ही आरोपितों को जेल भेज दिया गया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पीड़ित किशोरी लखनऊ की रहने वाली है। रविवार (जून 13, 2021) की सुबह नाबालिग किशोरी का अपनी माँ से किसी बात पर झगड़ा हो गया। जिससे नाराज होकर नाबालिग किशोरी घर से बाहर निकल गई। घर से कुछ दूर पैदल चलने पर उसे ई-रिक्शा चालक इकरामुद्दीन मिल गया। नाबालिग बच्ची को देखकर ई-रिक्शा चालक इकरामुद्दीन समझ गया कि वह अपने घर से गुस्से में भागी हुई है। मौके का फायदा उठाकर इकरामुद्दीन ने किशोरी को खाना खिलाने और नौकरी दिलाने की बात की और अपने साथ मंडियाव इलाके के एक कमरे पर ले गया। जहाँ साथियों के साथ उसने गैंगरेप किया।

इधर जब किशोरी के परिजनों को उनकी बच्ची काफी देर तक नहीं मिली तो उन्होंने इटौंजा थाना क्षेत्र में एफआईआर दर्ज कराई। जिसके बाद लखनऊ ग्रामीण की पुलिस ने कई जगह की सीसीटीवी फुटेज निकालकर तलाशी शुरू कर दी। रिपोर्ट के अनुसार, एसपी ग्रामीण हृदयेश कुमार ने बताया कि इन्हीं फुटेज में से एक में किशोरी ई-रिक्शा चालक के साथ देखी गई। इस फुटेज के आधार पर ई-रिक्शा चालक इकरामुद्दीन को तलाश करके गिरफ्तार किया गया।

यूपी पुलिस की पूछताछ में आरोपित इकरामुद्दीन ने अपने साथ गैंगरेप में शामिल सभी आरोपितों के नाम उगल दिए। ई-रिक्शा चालक इकरामुद्दीन की निशानदेही पर ही अन्य सभी आरोपितों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने किशोरी का बयान दर्ज कर मेडिकल के लिए भेजा और गिरफ्तार आरोपितों को भी जेल भेज दिया है।

किशोरी के साथ गैंगरेप करने वाले आरोपितों में इकरामुद्दीन के अलावा उसके अन्य साथी शकील उर्फ छोटू, उत्तम शर्मा, मोहम्मद नफ़ीस, नूर मोहम्मद उर्फ पुन्नू और रितेश यादव उर्फ भोला शामिल है। इन सभी ने नाबालिग किशोरी के साथ गैंगरेप करने के अलावा मारपीट भी की।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,362FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe