Friday, May 31, 2024
Homeदेश-समाज70% टैक्स को मदिरा-प्रेमियों ने बताया देशसेवा में योगदान, दिल्ली के बाद UP, आंध्र...

70% टैक्स को मदिरा-प्रेमियों ने बताया देशसेवा में योगदान, दिल्ली के बाद UP, आंध्र प्रदेश में भी बढ़ी कीमतें

"दुकान सुबह नौ बजे खुलने वाली थी, लेकिन सुबह 8:55 बजे पुलिस पहुँची। अगर कुछ अनहोनी हुई तो कौन जिम्मेदार होगा? ये पुलिस वालों की ड्यूटी नहीं है। आप एक-दूसरे पर दोषारोपण कर रहे हैं कि पब्लिक पागल हो रही है? पब्लिक को समझाएगा कौन? हमें 70% टैक्स लगने से कोई समस्या नहीं है, यह हमारे तरफ से देश के लिए दान की तरह है।"

देशव्यापी बंद के बीच शराब एक बड़ा विषय बनकर उभरा है। शराब की दुकानों के खोलने पर लगने वाली भीड़ के कारण कल ही दिल्‍ली की अरविंद केजरीवाल सरकार ने शराब पर 70% अतिरिक्‍त कोरोना टैक्‍स लगाने की घोषणा की, जिसे अब उत्तर प्रदेश और आन्ध्र प्रदेश सहित कई अन्य राज्य भी लागू करने पर विचार कर रहे हैं।

दिल्ली के बाद अब UP और आंध्र प्रदेश में भी बढ़ीं शराब की कीमत

दिल्‍ली के बाद अब उत्‍तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ सरकार ने भी दिल्ली सरकार की तरह ही शराब पर कोरोना टैक्‍स (Corona Tax) लगाने पर विचार कर रही है। हालाँकि, इसे अभी दिल्ली की ही तरह कोरोना टैक्‍स नाम नहीं दिया गया है। रिपोर्ट्स के अनुसार, आबकारी विभाग की सिफारिश पर योगी सरकार जल्‍द ही शराब की बढ़ी हुई कीमतों का ऐलान कर सकती है।

दिल्ली में यह कोरोना टैक्स MRP पर लागू होगा। यानी जो शराब अभी तक 1000 रुपए में मिला करती थी वही कोरोना टैक्स के बाद अब सीधे 1700 रुपए में मिलेगी।

दिल्ली की ही तर्ज पर आंध्र प्रदेश सरकार ने भी शराब के दामों में आज 50% की वृद्धि की है। इस तरह से अब तक आंध्र प्रदेश सरकार ने शराब पर कुल 75% शुल्क की बढ़ोतरी की है। रविवार (मई 03, 2020) को आंध्र प्रदेश सरकार ने शराब को 25% महँगा किया था, इसके बाद आज, मंगलवार को शराब की कीमतों में 50% की वृद्धि की है। इस तरह से अब आंध्र प्रदेश में शराब MRP से 75% अधिक के दाम पर बिकेगी।

छत्तीसगढ़ में होम डिलीवरी

छत्तीसगढ़ में राज्य सरकार ने शराब प्रेमियों की सहूलियत को ध्यान में रखते हुए शराब की होम डिलीवरी सेवा शुरू की है। यानी अब शराब के शौकीन मोबाइल ऐप और वेब पोर्टल के माध्यम से शराब घर पर मँगवा सकते हैं। राज्य शासन ने सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना के संक्रमण को नियंत्रित करने के उद्देश्य से घर पर शराब आपूर्ति की अनुमति प्रदान की है।

शराब प्रेमियों ने Corona टैक्स को बताया देश सेवा

दिल्ली के लक्ष्मीनगर इलाके में शराब के लिए सुबह से लाइन में खड़े एक व्यक्ति ने वहाँ पर हो रही परेशानियों पर आपत्ति व्यक्त करते हुए कहा कि वो वहाँ सुबह छह बजे से खड़े हैं।

ANI के अनुसार, उन्होंने कहा- “दुकान सुबह नौ बजे खुलने वाली थी, लेकिन सुबह 8:55 बजे पुलिस पहुँची। अगर कुछ अनहोनी हुई तो कौन जिम्मेदार होगा? कौन यहाँ पर व्यवस्थित करेगा लोगों को? ये पुलिस वालों की ड्यूटी नहीं है। आप एक-दूसरे पर दोषारोपण कर रहे हैं कि पब्लिक पागल हो रही है? पब्लिक को समझाएगा कौन? हमें 70% टैक्स लगने से कोई समस्या नहीं है, यह हमारे तरफ से देश के लिए दान की तरह है।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

200+ रैली और रोडशो, 80 इंटरव्यू… 74 की उम्र में भी देश भर में अंत तक पिच पर टिके रहे PM नरेंद्र मोदी, आधे...

चुनाव प्रचार अभियान की अगुवाई की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने। पूरे चुनाव में वो देश भर की यात्रा करते रहे, जनसभाओं को संबोधित करते रहे।

जहाँ माता कन्याकुमारी के ‘श्रीपाद’, 3 सागरों का होता है मिलन… वहाँ भारत माता के 2 ‘नरेंद्र’ का राष्ट्रीय चिंतन, विकसित भारत की हुंकार

स्वामी विवेकानंद का संन्यासी जीवन से पूर्व का नाम भी नरेंद्र था और भारत के प्रधानमंत्री भी नरेंद्र हैं। जगह भी वही है, शिला भी वही है और चिंतन का विषय भी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -