Thursday, July 25, 2024
Homeदेश-समाजशराब के लिए हंगामा: सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियाँ तो दिल्ली सरकार ने दुकानों...

शराब के लिए हंगामा: सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियाँ तो दिल्ली सरकार ने दुकानों को बंद कराने के दिए आदेश

दिल्ली सरकार द्वारा दिए गए आदेश के बाद दिल्ली में सभी शराब की दुकानों को बंद करना पड़ा। वहीं शराब की दुकानों के बाहर घंटों से लाइनों में खड़े लोग मायूस होकर वापस लौट गए। कुछ स्थानों पर तो हालात ऐसे रहे कि दुकानों के बाहर लाइनों में खड़े लोगों को दिल्ली पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर वहाँ से खदेड़ा।

महीनों से बंद शराब की दुकानों को जब आज (4 मई, 2020) खोला गया तो नजारा परेशान करने वाला था। दिल्ली में सुबह से ही शराब की दुकानों के बाहर लोगों की भीड़ जमा हो गई और लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियाँ उड़ाई। इस दौरान पुलिस को नियमों का पालन कराने के लिए कई स्थानों पर लाठी चार्ज तक करना पड़ा। इससे परेशान होकर दिल्ली सरकार ने तत्काल प्रभाव से फिलहाल अगले आदेश तक सभी शराब की दुकानों को बंद कराने का आदेश दिया है।

दिल्ली सरकार द्वारा दिए गए आदेश के बाद दिल्ली में सभी शराब की दुकानों को बंद करना पड़ा। वहीं शराब की दुकानों के बाहर घंटों से लाइनों में खड़े लोग मायूस होकर वापस लौट गए। कुछ स्थानों पर तो हालात ऐसे रहे कि दुकानों के बाहर लाइनों में खड़े लोगों को दिल्ली पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर वहाँ से खदेड़ा। इसके बाद पुलिस के जवानों को शराब की दुकानों के बाहर तैनात कर दिया गयाा।

दरअसल, देश के अन्य राज्यों की तरह ही दिल्ली में भी सोमवार से शराब की दुकानें खोली गईं, लेकिन जगह-जगह अफरातफरी का माहौल देखा गया। इसके बाद भी लगातार दुकानों के बाहर बढ़ती भीड़ को देख दिल्ली पुलिस ने फिलहाल शराब की सभी दुकानों को बंद करने के आदेश दिए हैं।

दिल्ली आबकारी विभाग और अन्य विभागों की तरफ़ से शराब की दुकानों को खोलने उनकी समय सीमा की कोई पुख्ता जानकारी न मिलने के चलते दिल्ली पुलिस के डीसीपी ईस्ट जसमीत सिंह ने एहतियात के तौर पर पहले ही अपने जिले के सभी एसएचओ को वायरलेस सेट पर मैसेज भेजकर ऑर्डर दिए थे कि ईस्ट जिले में कोई शराब की दुकान नहीं खुलनी चाहिए।

बता दें कि दिल्ली के सभी जिले रेड जोन में होने के बाद भी आबकारी विभाग ने दिल्ली में शराब की दुकानें खोलने का आदेश रविवार को ही जारी कर दिया था। इस आदेश के बाद दिल्ली में शराब की 150 दुकानों को खोलने की अनुमति मिली है। ये दुकानें सुबह 10 बजे से देर शाम 7 बजे तक खुलेंगी।

गौरतलब है कि दिल्ली सरकार ने शराब, पान, गुटका, तंबाकू आदि बेचने की दुकानों को संचालित करने की अनुमति देने केे साथ अपने आदेश में इसके लिए कुछ शर्तें भी तय की हैं। इसमें दुकानदार के साथ उपभोक्ताओं को शारीरिक दूरी के साथ वे सारे नियम मानने होंगे, जिससे कोराना वायरस संक्रमण से बचाव हो सके। इन नियमों को सबके लिए मानना अनिवार्य होगा।

दिल्ली सरकार के इस फैसले पर दिल्ली प्रदेश भाजपा ने अपना विरोध जताया। विधानसभा नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी ने पत्र लिख कर माँग की थी कि इस समय में राशन के सही वितरण और गरीबों को भोजन उपलब्ध कराने पर ध्यान देना चाहिए, न कि शराब की दुकानें खोलने पर जोर दिया जाना चाहिए, क्योंकि दिल्ली सरकार के इस फैसले से कोरोना महामारी और तेजी से फैलेगी। साथ ही यह तर्क भी दिया कि शराब की दुकानें खुलने से दिल्ली में अपराध में वृद्धि होगी।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

माजिद फ्रीमैन पर आतंक का आरोप: ‘कश्मीर टाइप हिंदू कुत्तों का सफाया’ वाले पोस्ट और लेस्टर में भड़की हिंसा, इस्लामी आतंकी संगठन हमास का...

ब्रिटेन के लेस्टर में हिन्दुओं के विरुद्ध हिंसा भड़काने वाले माजिद फ्रीमैन पर सुरक्षा एजेंसियों ने आतंक को बढ़ावा देने का आरोप लगाया है।

‘तुमलोग वापस भारत भागो’: कनाडा में अब सांसद को ही धमकी दे रहा खालिस्तानी पन्नू, हिन्दू मंदिर पर हमले का विरोध करने पर भड़का

आर्य ने कहा है कि हमारे कनाडाई चार्टर ऑफ राइट्स में दी गई स्वतंत्रता का गलत इस्तेमाल करते हुए खालिस्तानी कनाडा की धरती में जहर बोते हुए इसे गंदा कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -